This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

NH-24 चौड़ीकरण में अतिक्रमण बनी बाधा, हटेगा AAP का भी कार्यालय

एनएच-24 पर निजामुद्दीन से यूपी गेट तक मेरठ एक्सप्रेस-वे का काम अब अगस्त से शुरू होगा। यह जानकारी NHAI के चेयरमैन राघव चंद्र ने दी है।

Jp YadavSat, 28 May 2016 09:11 AM (IST)
NH-24 चौड़ीकरण में अतिक्रमण बनी बाधा, हटेगा AAP का भी कार्यालय

गाजियाबाद (जेएनएन)। एनएच-24 पर निजामुद्दीन से यूपी गेट तक मेरठ एक्सप्रेस-वे का काम अब अगस्त से शुरू होगा। यह जानकारी नेशनल हाईवे अथ़ॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के चेयरमैन राघव चंद्र ने आज दी। चेयरमैन के मुताबिक, दिल्ली के कुछ इलाकों में अतिक्रमण है। इनमें पांडव नगर में आप पार्टी का दफ्तर भी है जिसे हटाया जाएगा।

यहां पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का कैंप ऑफिस है। इसके अलावा, यहां पर लगे पेड़ों को भी चरणबद्ध तरीके से काटा जाएगा।

NHAI के चेयरमैन राघव चंद्रा ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे को लेकर आज गाजियाबाद स्थित रेडिसन होटल में एक पत्रकार वार्ता की, जिसमें उन्होंने कहा कि 96 KM के इस एक्सप्रेस-वे को बनाने में 7620 करोड़ की लागत आएगी और इसमें लगभग ढाई साल का समय लगेगा।

काटे जाएंगे पेड़

इस एक्सप्रेस-वे को बनाने के लिए बीच में आ रहे पेड़ों को भी काटा जाएगा, जिसके लिए NGT से अनुमति ली जाएगी। उन्होंने बताया कि इस प्रोजेक्ट के बीच दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का कैंप ऑफिस आ रहा है, जिससे तोड़ा जाएगा। इस बीच जो गरीब लोगों के घर आ रहे हैं, उन्हें पूरी सुविधा दी जाएगी, ताकि उन लोगों को किसी तरह की कोई परेशानी न हो।

उन्होंने बताया कि मेरठ एक्सप्रेस-वे की बीच अा रहे मनीष के ऑफिस को तोड़ने के लिए उनसे परमिशन भी ले ली गई है, जिसमें उन्होंने इस प्रोजेक्ट को पूरा समर्थन दिया है।

मेरठ एक्सप्रेस-वे के बनने के बाद मेरठ से दिल्ली सिर्फ 40 मिनट में ही पहुंच जाएंगे। यह 74 किमी लंबा 14 लेन का दिल्ली-डासना-मेरठ सुपर हाइवे होगा। इसके साथ ही एनएच-24 पर 22 किमी लंबे डासना-हापुड़ रोड के चौड़ीकरण के काम की भी शुरुआत होगी।

यह सुपर हाईवे दिल्ली के निजामुद्दीन से शुरू डासना होते हुए मेरठ तक बनेगा। 14 लेन की इस सड़क में 6 लेन एक्सप्रेस वे के होंगे। दोनों ओर 4-4 लेन के हाईवे होंगे।

इसे लोग गाजियाबाद, इंदरापुरम और नोएडा जाने के लिए प्रयोग कर सकेंगे। हाईवे के दोनों ओर साइकिल लेन भी बनाई जाएगी। गौरतलब है कि गत 31 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेरठ एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास किया था।

Edited By: Jp Yadav

में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!