संजू सैमसन फाइनल में पहुंचने पर बोले, कुछ अच्छे से याद नहीं पिछली IPL ट्राफी कब जीती थी राजस्थान

इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के फाइनल में पहुंचने वाली राजस्थान टीम के कप्तान ने अपनी याद साझा करते हुए कहा कि जब राजस्थान ने पहली ट्राफी जीती थी तो वो बहुत छोटे थे और उनके पास धूंधली याद है जब शेन वार्न ने ट्राफी जीती थी।

Sameer ThakurPublish: Sat, 28 May 2022 09:41 AM (IST)Updated: Sat, 28 May 2022 06:40 PM (IST)
संजू सैमसन फाइनल में पहुंचने पर बोले, कुछ अच्छे से याद नहीं पिछली IPL ट्राफी कब जीती थी राजस्थान

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। 14 साल के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार राजस्थान की टीम आइपीएल के फाइनल में पहुंच गई। क्वालीफायर 2 में राजस्थान ने आरसीबी को हराकर फाइनल में जगह बनाई। पहले बल्लेबाजी करते हुए आरसीबी केवल 157 रन ही बना सकी जिसे राजस्थान की टीम ने जोस बटलर के नाबाद 106 रनों की पारी के दम पर 11 गेंद पहले ही हासिल कर लिया।

मैच के बाद राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन ने कहा "पिछला हार काफी मुश्किल थी लेकिन हम वापसी करने के आदी हैं। आइपीएल में यह समान्य है कि आपके सामने काफी ऊपर-नीचे चीजें होती हैं। हम कुछ मैच हारे और हमें पता था कि वापसी कैसे करनी है और हमने किया भी। विकेट थोड़ा स्टिकी था और तेज गेंदबाजों को थोड़ी मदद कर रहा था, इसमें वास्तव में अच्छी उछाल थी और स्पिनरों को खेलना आसान था। हमने पारी को अच्छी तरह से खत्म किया, अंत में डीके और मैक्सी के होने से हमें पता था कि वे क्या कर सकते हैं, लेकिन अपने कौशल में विश्वास और संयम रखने से हमें सफलता मिली।"

"टास काफी महत्वपूर्ण था और टास जीतने से मैच जीतना आसान हो गया। मुझे लगता है पहले हाफ और दूसरे हाफ में विकेट अलग-अलग थे। ओबेड मैकाय का पहला मैच था और वो कमाल थे। टीम में जोस बटलर जैसे खिलाड़ी के लिए आभारी हूं उम्मीद है कि वो बचे हुए एक मैच में भी ऐसा ही खेलेंगे।"

राजस्थान के पहले ट्राफी को याद करते हुए बोले सैमसन

राजस्थान ने पहली बार 2008 में आइपीएल का खिताब जीता था। उस याद को साझा करते हुए राजस्थान के कप्तान ने कहा कि "मैं बहुत छोटा था और यह पहला आइपीएल सीजन था और मुझे केरल में कहीं अंडर -16 गेम खेल रहा था। मुझे अपने दोस्तों के साथ आखिरी गेम देखना याद है और याद है कि आखिरी रन जहां शेन वार्न और सोहेल तनवीर ने रन बनाए थे और वे खुशी से भाग रहे थे। यह एक बहुत ही धूंधली याद थी जो मेरे पास है।"

Edited By Sameer Thakur

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept