रिषभ पंत अगर 100 टेस्ट खेलते हैं तो उनका नाम रिकार्ड बुक में क्यों हो जाएगा दर्ज, सहवाग ने बताया कारण

रिषभ पंत आस्ट्रेलिया इंग्लैंड व साउथ अफ्रीका में टेस्ट क्रिकेट में शतक लगाने वाले एकमात्र भारतीय विकेटकीपर हैं और उन्होंने भारत के लिए अब तक 30 टेस्ट मैच खेले हैं। इन मैचों में उन्होंने 40.85 की औसत से 1920 रन बनाए हैं।

Sanjay SavernPublish: Fri, 27 May 2022 07:08 PM (IST)Updated: Sat, 28 May 2022 10:41 AM (IST)
रिषभ पंत अगर 100 टेस्ट खेलते हैं तो उनका नाम रिकार्ड बुक में क्यों हो जाएगा दर्ज, सहवाग ने बताया कारण

मुंबई, प्रेट्र। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तूफानी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि अगर रिषभ पंत हमेशा का लिए अपना नाम रिकार्ड बुक में दर्ज कराना चाहते हैं तो उन्हें देश के लिए 100 टेस्ट मैच खेलने का प्रयास करना चाहिए। टेस्ट क्रिकेट में दो तिहरे शतक लगाने वाले देश के एकमात्र क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग उन 11 भारतीयों में शामिल हैं, जिन्होंने 100 से अधिक टेस्ट खेले हैं और 8500 से अधिक रन बनाए हैं।

वहीं रिषभ पंत आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड व साउथ अफ्रीका में टेस्ट क्रिकेट में शतक लगाने वाले एकमात्र भारतीय विकेटकीपर हैं और उन्होंने भारत के लिए अब तक 30 टेस्ट मैच खेले हैं। इन मैचों में उन्होंने 40.85 की औसत से 1920 रन बनाए हैं। रिषभ पंत ने पिछले आस्ट्रेलिया दौरे पर भी टीम के लिए शानदार प्रदर्शन किया था और टीम की जीत में बड़ी भूमिका निभाई थी। सहवाग ने एक टीवी चैनल पर बात करते हुए कहा कि अगर रिषभ पंत भारत के लिए 100 या उससे ज्यादा टेस्ट मैच खेलते हैं तो उनका नाम हमेशा के लिए इतिहास की किताबों मे दर्ज हो जाएगा। अब तक सिर्फ 11 भारतीय बल्लेबाजों ने 100 या फिर उससे ज्यादा टेस्ट क्रिकेट खेले हैं और हर कोई उन ग्यारह नामों को याद कर सकता है। 

नजबगढ़ के नवाब के नाम से मशहूर सहवाग ने कहा कि टी20 और वनडे मैचों में जो जीत मिलती है उसका आनंद लेना ठीक है, लेकिन टेस्ट क्रिकेट में खास करने वालों को ही लंबे समय तक याद किया जाता है। आपने सफल जर्सी में क्या किया है ये ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। सहवाग ने विराट कोहली का जिक्र करते हुए कहा कि आखिर वो क्यों टेस्ट प्रारूप में खेलने पर जोर देते हैं। वो जानते हैं कि अगर उन्होंने 100-150 या 200 टेस्ट मैच खेल लिए तो वो रिकार्ड बुक में अमर हा जाएंगे।  

Edited By Sanjay Savern

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept