Ind vs SA: शिखर धवन ने बताया वेंकटेश अय्यर ने क्यों नहीं की पहले वनडे में गेंदबाजी

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले मैच में मिली हार के बाद टीम इंडिया के ओपनर शिखर धवन ने बताया कि क्यों वेंकटेश अय्यर से गेंदबाजी नहीं कराई गई। उन्होंने कहा कि वेंकटेश अय्यर को गेंदबाजी नहीं दी गई क्योंकि विकेट पर टर्न था और स्पिनर अच्छा कर रहे थे।

TaniskPublish: Thu, 20 Jan 2022 10:19 AM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 03:01 PM (IST)
Ind vs SA: शिखर धवन ने बताया वेंकटेश अय्यर ने क्यों नहीं की पहले वनडे में गेंदबाजी

नई दिल्ली, एजेंसियां। टीम इंडिया को पार्ल में खेले गए पहले वनडे मैच में दक्षिण अफ्रीका से 31 रनों से हार का सामना करना पड़ा। इस मैच में आलराउंडर वेंकटेश अय्यर को सूर्यकुमार यादव की जगह तरजीह दी गई। को खिलाने का फैसला समझ से परे नजर आया। वेंकटेश आलराउंडर हैं और बायें हाथ के बल्लेबाज होने के साथ ही मध्यम तेज गेंदबाजी करते हैं। उन्हें हार्दिक पांड्या का विकल्प माना जा रहा है, लेकिन इस मैच में उनसे गेंदबाजी नहीं कराई, जबकि छठे नंबर पर उतरकर वेंकटेश सिर्फ दो रन ही बना सके। ऐसे में सवाल हो रहा है कि उनसे गेंदबाजी क्यों नहीं कराई गई। अगर राहुल उनको सिर्फ विशेषज्ञ बल्लेबाज के तौर पर खिलाना था तो सूर्यकुमार यादव कहीं ज्यादा बेहतर विकल्प हो सकते थे।

मैच के बाद टीम इंडिया के ओपनर शिखर धवन ने बताया कि क्यों वेंकटेश अय्यर से गेंदबाजी नहीं कराई गई। उन्होंने कहा, 'वेंकटेश अय्यर को गेंदबाजी नहीं दी गई क्योंकि विकेट पर टर्न था और स्पिनर अच्छा कर रहे थे। बीच में तेज गेंदबाजों का ज्यादा इस्तेमाल नहीं हुआ और स्पिनर्स गेंदबाजी कर रहे थे।' बता दें कि दक्षिण अफ्रीकी टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए कप्तान तेंबा बावुमा और रासी वेन डेर डुसेन के शतक की मदद से 296 रनों का स्कोर खड़ा किया। दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 204 रन की साझेदारी हुई।

इसके जवाब में लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने कप्तान केएल राहुल (12) का विकेट भले ही सस्ते में खो दिया, लेकिन वह 25वें ओवर की समाप्ति तक मैच में बना हुआ था। उस समय भारत का स्कोर एक विकेट पर 137 रन था और धवन 79 रन और कोहली 42 रन बनाकर खेल रहे थे। यहां से भारत को जीत के लिए बाकी बची 150 गेंदों पर 160 रन बनाने थे और उसके नौ विकेट बाकी थे, लेकिन इसके बाद भारत का मध्यक्रम लड़खड़ा गया। अगले ओवर में केशव महाराज ने धवन (79) को बोल्ड कर दिया। धवन और कोहली ने दूसरे विकेट के लिए 92 रन जोड़े।

जल्द ही कोहली (51) ने अर्धशतक पूरा किया, लेकिन इसके तुरंत बाद वह शम्सी की गेंद पर पवेलियन लौट गए। टीम का स्कोर का 200 रन पर पहुंचने से पहले ही भारत ने श्रेयस अय्यर, रिषभ पंत, वेंकटेश अय्यर और रविचंद्रन अश्विन के विकेट भी गंवा दिए। दोनों अय्यर को नगिदी ने चलता किया, जबकि पंत व अश्विन को फेलुक्वायो ने पवेलियन भेजा। भुवनेश्वर को 43वें ओवर में शम्सी ने अपना दूसरा शिकार बनाया। शार्दुल ने अंतिम ओवरों में अर्धशतक जड़कर भारत की हार के अंतर को कम किया। शार्दुल (नाबाद 50) ने जसप्रीत बुमराह (नाबाद 14) के साथ नौवें विकेट के लिए 51 रन की अटूट साझेदारी की

Edited By Tanisk

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept