This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

अश्विन ने तोड़ा हरभजन सिंह का रिकार्ड, कोच राहुल द्रविड़ ने दी ऐसी प्रतिक्रिया

द्रविड़ ने कहा मुझे लगता है कि यह एक अभूतपूर्व उपलब्धि है। आप जानते हैं कि हरभजन सिंह वास्तव में एक बेहतरीन गेंदबाज थे जिनके साथ मैंने काफी क्रिकेट खेला है। अश्विन का सिर्फ 80 टेस्ट मैचों में उनसे आगे निकलना एक अभूतपूर्व उपलब्धि है।

Viplove KumarTue, 30 Nov 2021 08:07 AM (IST)
अश्विन ने तोड़ा हरभजन सिंह का रिकार्ड, कोच राहुल द्रविड़ ने दी ऐसी प्रतिक्रिया

जागरण संवाददाता, कानपुर। भारत और न्यूजीलैंड के बीच कानपुर के ग्रीन पार्क में दो मैचों की टेस्ट सीरीज के पहला मुकाबला खेला गया। कांटे के मुकाबले में भारतीय टीम जीत के करीब पहुंचकर एक कदम दूर रह गए। टीम इंडिया ने मैच भले नहीं जीता लेकिन अनुभवी स्पिनर आर अश्विन ने टेस्ट में खास उपलब्धि हासिल की। वह भारत की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में तीसरे स्थान पर पहुंच गए।

भारतीय टीम के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने रविचंद्रन अश्विन को मैच विजेता करार देते हुए कहा कि टेस्ट क्रिकेट में देश का तीसरा सबसे सफल गेंदबाज बनने की उपलब्धि बेहद ही खास है और उनमें नया सीखने की ललक है।

द्रविड़ ने कहा, 'मुझे लगता है कि यह एक अभूतपूर्व उपलब्धि है। आप जानते हैं कि हरभजन सिंह वास्तव में एक बेहतरीन गेंदबाज थे, जिनके साथ मैंने काफी क्रिकेट खेला है। अश्विन का सिर्फ 80 टेस्ट मैचों में उनसे आगे निकलना एक अभूतपूर्व उपलब्धि है।'

हरभजन ने 103 टेस्ट में 417 विकेट लिए थे। भारतीय कोच ने कहा, 'अश्विन उन खिलाडि़यों में से हैं जो भारत के मैच विजेता हैं। आज भी आपने इस मुश्किल विकेट पर इस बात को महसूस किया होगा। मैच के तीसरे दिन 11 ओवर के स्पैल में उन्होंने जिस तरह से हमारी वापसी कराई, वह अभूतपूर्व था। जिस तरह से उन्होंने हमें मैच में बनाए रखा वह उनकी कौशल और क्षमता को दर्शाता है।'

साथ ही द्रविड़ ने यह भी कहा कि तमिलनाडु के इस आफ स्पिनर गेंदबाज ने पिछले कुछ वषों में अपने खेल में और सुधार किया है। गौरतलब है कि टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 350 विकटों तक पहुंचने के मामले में अश्विन ने श्रीलंका के पूर्व दिग्गज मुरलीधरन के विश्व कप रिकार्ड की बराबरी की है। 

Edited By Viplove Kumar