Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के कई शहरों में आयकर विभाग की दबिश

Chhattisgarh रायपुर सहित राज्य के आधा दर्जन शहरों में करीब 24 स्थानों पर आयकर विभाग की टीम ने दबिश दी है। केंद्रीय सुरक्षा बल के जवानों के साथ मध्य प्रदेश से तड़के पहुंची आइटी की टीमें यहां पांच से अधिक कारोबारियों और अन्य के यहां छापे की कार्रवाई की।

Sachin Kumar MishraPublish: Thu, 30 Jun 2022 03:16 PM (IST)Updated: Thu, 30 Jun 2022 09:37 PM (IST)
Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के कई शहरों में आयकर विभाग की दबिश

रायपुर, जेएनएन। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर सहित राज्य के आधा दर्जन शहरों में करीब 24 स्थानों पर गुरुवार को आयकर विभाग (आइटी) की टीम ने दबिश दी है। केंद्रीय सुरक्षा बल के जवानों के साथ मध्य प्रदेश से तड़के पहुंची आइटी की टीमें यहां पांच से अधिक कारोबारियों और अन्य के यहां छापे की कार्रवाई कर रही है। आयकर अधिकारी इसे छापा बता रहे हैं। इसमें कुछ राजनीति दलों से जुड़े लोग भी शामिल हैं। इस कार्यवाही को बेहद गोपनीय रखा गया है। सूत्रों के अनुसार, दिनभर की जांच में करीब पांच करोड़ नकद और बड़े पैमाने पर दस्तावेज जब्त किए गए हैं।

कईयों के ठिकाने पर पहुंची टीम

छापे को एडिशनल डायरेक्टर स्तर के अधिकारी लीड कर रहे हैं। बताया गया कि जांच को कोलकाता से कंट्रोल व मानिटर किया जा रहा था। आयकर विभाग के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार राज्य में करीब दो वर्ष पहले हुए आइटी के सर्वे के दौरान मिले दस्तावेजों के आधार पर इस कार्यवाही की तैयारी चार महीने से चल रही थी। मध्य प्रदेश के भोपाल, जबलपुर और इंदौर से आइटी की 60 सदस्यीय टीम गुरुवार तड़के साढ़े तीन से पांच बजे के बीच रायपुर, महासमुंद, कोरबा, रायगढ़, भिलाई और धमतरी में तय ठिकानों पर पहुंची। टीम के साथ करीब सौ सीआरपीएफ के जवान भी थे। इसकी जानकारी रायपुर स्थित आयकर कार्यालय के अफसरों को भी नहीं दी गई थी। सुबह दस बजे के बाद स्थानीय कार्यालय को जानकारी देते हुए उन्हें भोजन और वाहन आदि की व्यवस्था करने के लिए कहा गया।

सिविल लाइन में कंट्रोल रबम

एक साथ आधा दर्जन शहरों में जांच के लिए आइटी ने सिविल लाइन स्थित आयकर भवन में अलग से कंट्रोल रूम बनाया है। वहां करीब आधा दर्जन वरिष्ठ अधिकारियों के साथ विभिन्न तरह के विशेषज्ञ मौजूद हैं। कार्यवाही कम से कम तीन दिन चलने की संभावना जताई जा रही है। प्रदेश में इससे पहले भी कई बार आयकर विभाग छापेमारी कर चुका है।

Edited By Sachin Kumar Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept