This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Real Estate सेक्‍टर में आएगी बहार, इतने साल में पार करेगा 1000 अरब डॉलर का आंकड़ा

Realty sector news Real Estate Sector की बहार आने वाली है। क्‍योंकि आवास एवं शहरी मामलों के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने कहा है कि भारतीय अचल संपत्ति बाजार के बर्ष 2030 तक 1000 अरब डॉलर पर पहुंचने की उम्मीद है।

Ashish DeepThu, 22 Jul 2021 11:16 AM (IST)
Real Estate सेक्‍टर में आएगी बहार, इतने साल में पार करेगा 1000 अरब डॉलर का आंकड़ा

नई दिल्‍ली, पीटीआइ। Realty sector की बहार आने वाली है। क्‍योंकि आवास एवं शहरी मामलों के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने कहा है कि भारतीय अचल संपत्ति बाजार के बर्ष 2030 तक 1,000 अरब डॉलर पर पहुंचने की उम्मीद है। उन्होंने यहां भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) द्वारा अचल संपत्ति क्षेत्र पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि पिछले 7 वर्षों में बढ़ती मांग और रेरा जैसे विभिन्न सुधारों से यह क्षेत्र इस मुकाम पर पहुंच सकता है।

Realty sector में काम करेंगे करोड़ों लोग

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में कार्यरत लोगों की संख्या आने वाले वर्षों में बढ़कर 7 करोड़ होने की उम्मीद है। 2019 में यह संख्या 5.5 करोड़ थी। सचिव ने कहा कि इस साल जून में केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा पारित मॉडल किराया कानून को राज्यों को जल्द लागू करने के लिए कहा गया है।

3 साल पहले 200 अरब डॉलर का कारोबार था

सचिव ने कहा, दो-तीन वर्ष पहले अचल संपत्ति क्षेत्र बाजार 200 अरब डॉलर का था। हमें उम्मीद है कि वर्ष 2030 तक यह क्षेत्र 1,000 अरब डॉलर के कारोबार को छू लेगा।

8 साल में बढ़ेगा बाजार

उन्होंने भारतीय अर्थव्यवस्था में इस उद्योग के महत्व पर जोर देते हुए कहा कि यह केवल बातें या अनुमान नहीं है। रुख स्पष्ट तौर पर दर्शाता है कि अचल संपत्ति क्षेत्र अगले सात से आठ वर्षों के दौरान 1,000 अरब डॉलर के आंकड़े पर पहुंच जाएगा।

NCR का Real Estate

बीते दिनों खबर आई थी कि NCR का Real Estate घर खरीदारों की खरीदारी से चमक गया है। प्रॉपर्टी सलाहकार कंपनी नाइट फ्रैंक इंडिया ने रिपोर्ट “इंडिया रियल एस्टेट जनवरी-जून 2021” में कहा है कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में साल 2020 की पहली छमाही के 5,446 यूनिट की तुलना में साल 2021 की पहली छमाही में 11,474 यूनिट के साथ घरों की बिक्री करीब दोगुनी (111% बढ़ोतरी) हुई है।