This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

25 अगस्‍त को इतनी ट्रेनें रहेंगी कैंसिल, घर से लिस्‍ट देखकर ही जाएं स्‍टेशन

Indian Railways ने 25 अगस्‍त को करीब तीन दर्ज ट्रेनों के शिड्यूल में बदलाव किया है। इनमें ज्‍यादातर ट्रेनें Cancel हैं। इन ट्रेनों में 02205 MS-RMM SF SPL 02606 KKDI-MS SF SPL 05074 TRIVENI EXP [SPECIAL ] 06851 MS-RMM SPL 02356 JAT-PNBE-SPECIAL 04602 JDNX-PTK PASSNGER 05212 ASR-DBG SPECIAL शामिल है।

Ashish DeepTue, 24 Aug 2021 06:23 PM (IST)
25 अगस्‍त को इतनी ट्रेनें रहेंगी कैंसिल, घर से लिस्‍ट देखकर ही जाएं स्‍टेशन

नई दिल्‍ली,बिजनेस डेस्‍क। Indian Railways ने 25 अगस्‍त को करीब तीन दर्ज ट्रेनों के शिड्यूल में बदलाव किया है। इनमें ज्‍यादातर ट्रेनें Cancel हैं। इन ट्रेनों में 02205 MS-RMM SF SPL, 02606 KKDI-MS SF SPL, 05074 TRIVENI EXP [SPECIAL ], 06851 MS-RMM SPL, 02356 JAT-PNBE-SPECIAL, 04602 JDNX-PTK PASSNGER, 05212 ASR- DBG SPECIAL, 05656 SVDK-KYQ EXPRESS SPECIAL, 06850 RMM-TPJ SPL, 08427 ANGL- PURI EXP SPECIAL शामिल हैं।

बता दें कि मोदी सरकार छह लाख करोड़ रुपये की राष्ट्रीय मौद्रिकरण योजना (एनएमपी) लाई है। इसके तहत यात्री ट्रेन, रेलवे स्टेशन से लेकर हवाई अड्डे, सड़कें और स्टेडियम का मौद्रिकरण शामिल हैं। इसके तहत 40 रेलवे स्टेशनों, 15 रेलवे स्टेडियम और कई रेलवे कॉलोनी की पहचान की गयी है। इन्हें निजी क्षेत्र के निवेश से विकसित किया जायेगा। अनुमानित 1.2 लाख करोड़ रुपये के मौद्रिकरण परियोजना में 400 रेलवे स्टेशनों, 90 यात्री ट्रेनों, 741 किलोमीटर लंबे कोंकण रेलवे और 15 रेलवे स्टेडियमों और कॉलोनियों का मौद्रिकरण करने की योजना है। निजी भागीदारी के जरिये इनका विकास किया जायेगा।

योजना के तहत, निजी कंपनियां इन्विट मार्ग का इस्तेमाल करके एक निश्चित मुनाफे के लिए परियोजनाओं में निवेश कर सकती हैं। इसके अलावा इन परिसंपत्तियों को सरकारी एजेंसी को वापस करने से पहले एक निश्चित अवधि के लिए परिसंपत्तियों का संचालन और विकास कर सकती हैं। इसके तहत गोदाम और स्टेडियम जैसी कुछ संपत्तियां भी संचालन के लिए लंबी अवधि के पट्टे पर दी जा सकती हैं।

संपत्ति मौद्रिकरण पाइपलाइन के जरिये एनआईपी (नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन) को अगले चरण में ले जाया गया है, जहां आप सार्वजनिक-निजी भागीदारी (पीपीपी) पर ध्यान देंगे। संपत्तियों के मौद्रिकरण में जमीन को बेचा नहीं जायेगा। एनएमपी ब्राउनफील्ड (मौजूदा) बुनियादी ढांचा संपत्तियों से संबंधित है जहां निवेश पहले हो चुका है, जहां एक पूर्ण संपत्ति है जो या तो बेकार पड़ी है या जिसमें संभावनाओं का पूरा निवेश नहीं पाया है या जिसका क्षमता के अनुरूप इस्तेमाल नहीं हुआ है।

(पीटीआई इनपुट के साथ)

Edited By: Ashish Deep

Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner