This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Value Discovery Funds ने निवेशकों को किया मालामाल, जानिए किस फंड ने दिया कितना रिटर्न

Mutual Fund Investment Tips वैल्यू फंड की कैटेगरी पिछले 2 सालों में चुनौती भरी रही है। हालांकि अब समय में बदलाव आया है और बाजार की रैली काफी बड़ी रही है। वैल्यू निवेशक के रूप में आपको फैक्टर के प्रति सचेत रहना चाहिए।

Pawan JayaswalWed, 28 Apr 2021 06:07 PM (IST)
Value Discovery Funds ने निवेशकों को किया मालामाल, जानिए किस फंड ने दिया कितना रिटर्न

नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। अगर आप म्‍युचुअल फंड के निवेशक हैं, तो आपको वैल्यू डिस्कवरी फंड की कैटेगरी को भी देखना चाहिए। ऐसा इसलिए, क्योंकि पिछले 1 साल में इसने बेहतर रिटर्न दिया है। इसमें ICICI प्रूडेंशियल के वैल्यू डिस्कवरी फंड ने 1 साल में 83.2% का रिटर्न दिया है, जबकि 10 साल में 14.87 और 15 साल में 14.50% का रिटर्न दिया है। वहीं, आईडीएफसी स्‍टर्लिंग वैल्‍यू ने एक साल में 104 फीसद का रिटर्न दिया है। 

भारतीय म्‍युचुअल फंड इंडस्ट्री में यह एक लोकप्रिय फंड है। चाहे यह वैल्यू कैटेगरी सेगमेंट में हो या फिर किसी और सेगमेंट में। इस तरह के फंड शेयरों का चयन तब करते हैं, जब उनका मूल्य उनके ऐतिहासिक मूल्य से कम हो, आय अच्छी हो, बुक वैल्यू और कैश फ्लो में संभावनाएं हों। इस तरह के ही शेयरों में यह फंड निवेश करता है।  

वैल्यू फंड की कैटेगरी पिछले 2 सालों में चुनौती भरी रही है। हालांकि अब समय में बदलाव आया है और बाजार की रैली काफी बड़ी रही है। वैल्यू निवेशक के रूप में आपको फैक्टर के प्रति सचेत रहना चाहिए। हालांकि, यह जब कम प्रदर्शन करता है, तो फिर से यह अच्छे प्रदर्शन के साथ वापसी भी करता है। इसका मतलब यह हुआ कि जो निवेशक थोड़ा धैर्य रखते हैं उन्हें अच्छा रिटर्न मिलता है।    

वैल्‍यू रिसर्च के आंकड़े बताते हैं कि उदाहरण के तौर पर अगर किसी ने ICICI प्रूडेंशियल के वैल्यू डिस्कवरी फंड में 1 अप्रैल 2005 से 10 हजार रुपए का मासिक एसआईपी किया होगा तो यह अब 83 लाख रुपए हो गया है। जबकि इसी समय में इसके बेंचमार्क निफ्टी 500 वैल्यू 50 टीआरआई में यह केवल 53 लाख रुपए हुआ है। एसआईपी मतलब हर महीने में एक तय रकम का निवेश करने से होता है।   

फंड हाउस    1 साल का रिटर्न % 10 साल का रिटर्न %  15 साल का रिटर्न  %

ICICI प्रूडेंशियल वैल्यू डिस्कवरी  

82.21  14.87  14.50 

यूटीआई वैल्यू    

76.26  11.74  12.06

टाटा इक्विटी पीई फंड     

 67.15 13.17 14.03

अगर किसी ने 2004 में अगस्त से 10 हजार की एसआईपी की होगी, तो वह रकम इस समय 94.2 लाख रुपए हो गई है। यानी सालाना 16.6% CAGR की दर से रिटर्न मिला है। CAGR का मतलब सालाना चक्रवृद्धि ब्याज की तर्ज पर रिटर्न मिलने से होता है। इसी तरह अगर यूटीआई के वैल्यू अपोर्च्युनिटीज का रिटर्न देखें तो 1 साल में इसने 76% का रिटर्न दिया है। 10 साल में 11.74 और 15 साल में 12.06% का रिटर्न दिया है। टाटा इक्विटी पीई फंड ने 1 साल में 67%, 10 साल में 13.17% और 15 साल में 14.03% का रिटर्न दिया है।  

वैल्यू डिस्कवरी के पोर्टफोलियो की बात करें, तो यह इस समय सॉफ्टवेयर, फार्मा, टेलीकॉम, ऑटो और हेल्थकेयर में ओवरवेट है। यह बैंक और फाइनेंस में अंडरवेट है। मार्च 2021 तक इसके 80 पर्सेंट पोर्टफोलियो का निवेश लार्ज कैप में रहा है। जबकि बाकी स्मॉल और मिड कैप में निवेश रहा है। इस फंड का प्रबंधन संकरन नरेन करते हैं, जो वैल्यू डिस्कवरी फंड में एक जाना माना नाम है।  

विश्लेषकों के मुताबिक, आने वाले समय में वैल्यू की थीम बेहतर प्रदर्शन कर सकती है। ऐसे समय में निवेशकों को इस तरह की थीम में निवेश करना चाहिए। वैल्यू कैटेगरी पिछले काफी समय से बाजार से ज्यादा रिटर्न दे रही है। फंड मैनेजर्स ने ऊंचे रिटर्न वाले स्टॉक्स में अपना निवेश बढ़ाया है। इसमें सरकारी कंपनियों से लेकर अन्य कंपनियां हैं।