केंद्र सरकार ने हेल्थकेयर वर्कर्स की इंश्योरेंस स्कीम को 180 दिनों के लिए बढ़ाया

कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों की देखभाल में लगे स्वास्थ्य कर्मियों के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के तहत बीमा योजना को 180 दिनों की अवधि के लिए बढ़ा दिया गया है। सरकार ने इस संबंध में आदेश जारी किया है।

Lakshya KumarPublish: Tue, 19 Apr 2022 03:47 PM (IST)Updated: Wed, 20 Apr 2022 07:09 AM (IST)
केंद्र सरकार ने हेल्थकेयर वर्कर्स की इंश्योरेंस स्कीम को 180 दिनों के लिए बढ़ाया

नई दिल्ली, एएनआइ। कोरोना से लड़ने वाले स्वास्थ्य कर्मियों के लिए केंद्र सरकार की बीमा योजना को 180 दिनों की अवधि के लिए बढ़ा दिया गया है। आदेश में कहा गया, "प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (PMGKP): कोरोना से लड़ने वाले हेल्थकेयर वर्कर्स के लिए बीमा योजना को 19 अप्रैल, 2022 से और 180 दिनों की अवधि के लिए बढ़ा दिया गया है।" इसके कहा गया, "नीति का विस्तार करने का निर्णय लिया गया है ताकि कोरोना रोगियों की देखभाल में लगे स्वास्थ्य कर्मियों के आश्रितों को सुरक्षा कवच प्रदान करना जारी रखा जा सके।"

सभी राज्यों/केन्द्र-शासित प्रदेशों के अतिरिक्त मुख्य सचिवों (स्वास्थ्य)/प्रधान सचिवों (स्वास्थ्य)/सचिवों (स्वास्थ्य) को अपने-अपने राज्यों/केन्द्र-शासित प्रदेशों में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के बीच व्यापक प्रचार करने के लिए 19 अप्रैल 2022 को इस संबंध में एक पत्र जारी किया गया है।

बता दें कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज को 30 मार्च, 2020 को सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और निजी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं सहित 22.12 लाख स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं को 50 लाख रुपये का व्यापक व्यक्तिगत दुर्घटना कवर प्रदान करने के लिए लॉन्च किया गया था, जो कोरोना रोगियों के सीधे संपर्क और देखभाल में हैं, जिसे वह कोरोना संक्रमित होने के जोखिम में हो सकते हैं।

सरकार ने कहा कि इसके अलावा अप्रत्याशित स्थिति के कारण राज्यों/केंद्रीय अस्पतालों/केंद्र/राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के स्वायत्त अस्पतालों, एम्स और राष्ट्रीय महत्व के संस्थानों/अस्पतालों कोविड-19 रोगियों की देखभाल के लिए केंद्रीय मंत्रालयों के अस्पतालों द्वारा विशेष रूप से तैयार अस्पतालों द्वारा अधिग्रहण किए गए निजी अस्पताल के कर्मचारी/सेवानिवृत्त/स्वयंसेवक/स्थानीय शहरी निकाय/अनुबंध/दैनिक वेतन/एडोक/आउटसोर्स स्टाफ भी पीएमजीकेपी के अंतर्गत आते हैं।

सरकार की ओर से जानकारी दी गई कि योजना के शुभारंभ के बाद से अब तक उन 1905 स्वास्थ्य कर्मियों के दावों का निपटारा किया जा चुका है, जिनकी कोविड संबंधित कार्यों के लिए तैनात किए जाने के दौरान मृत्यु हो गई थी।

इस बीच, भारत में पिछले 24 घंटों के दौरान 1,247 नए कोरोना मामले दर्ज किए, जिसमें कल से लगभग 43 प्रतिशत की भारी गिरावट दर्ज की गई है। सक्रिय मामले अब देश के कुल सकारात्मक मामलों का 0.03 प्रतिशत हैं।

Edited By Lakshya Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept