Budget 2022 की SBI चेयरमैन ने की तारीफ, कहा- दुनिया में भारत की विकास संभावनाएं बढ़ेंगी

SBI Chairman Dinesh Khara On Budget 2022 एसबीआई के चेयरमैन दिनेश खारा ने बजट को कोरोना के बाद की दुनिया में भारत की विकास संभावनाओं को बढ़ाने वाला बताया है। उन्होंने कहा है कि यह बजट संतुलन बनाए रखने वाला बताया है।

Lakshya KumarPublish: Wed, 02 Feb 2022 09:28 AM (IST)Updated: Wed, 02 Feb 2022 01:25 PM (IST)
Budget 2022 की SBI चेयरमैन ने की तारीफ, कहा-  दुनिया में भारत की विकास संभावनाएं बढ़ेंगी

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को आम बजट 2022-23 (Budget 2022) पेश किया। उन्होंने तमाम ऐलान किए लेकिन उनसे पहले बजट पेश करने की शुरुआत में भाषण के दौरान निर्मला सीतारमण ने इस बजट को अगले 25 साल का ब्लूप्रिंट बताया। अब एसबीआई के चेयरमैन दिनेश खारा (SBI Chairman Dinesh Khara) ने बजट पर अपनी प्रतिक्रिया में इसे संतुलन बनाए रखने वाला बताया है। उन्होंने कहा कि बजट में संतुलन को जारी रखा गया है, जो कोरोना के बाद भारत के विकास को बढ़ाएगा।

बजट में संतुलन जारी है

एसबीआई के चेयरमैन दिनेश खारा ने कहा कि बार-बार आ रही COVID-19 लहरों से उत्पन्न चुनौतियों और महामारी के कारण आर्थिक क्षति को रोकने की आवश्यकता के बीच यह बजट संतुलन बनाना जारी रखता है। बजट इस नाजुक संतुलन को काफी अच्छी तरह से हासिल करता है। आगे बढ़ते हुए सात समानांतर ट्रैक- पीएम गतिशक्ति, समावेशी विकास, उत्पादकता वृद्धि और निवेश, सनराइज अपॉर्टूनिटी, ऊर्जा संक्रमण और जलवायु पर कदम तथा निवेश का वित्तपोषण- पर जोर दिया जा रहा है।'

बैंकिंग और वित्त पक्ष पर घोषणाएं महत्वपूर्ण

दिनेश खारा ने कहा, "बैंकिंग और वित्त पक्ष पर घोषणाएं महत्वपूर्ण हैं। बजट में अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों द्वारा देश के 75 जिलों में 75 डिजिटल बैंकिंग इकाइयां (DBUs) स्थापित करने का प्रस्ताव है। यह प्रस्ताव हमारी चल रही डिजिटल बैंकिंग पहल के अनुरूप है। बजट की सबसे महत्वपूर्ण घोषणा पूंजीगत व्यय के लिए उच्च आवंटन और ECLGS का विस्तार - विशेष रूप से आतिथ्य और संबंधित क्षेत्रों के लिए विशिष्ट सहायता है।"

भारत की विकास संभावनाओं को बढ़ाने वाला बजट

उन्होंने इस बजट को कोरोना के बाद वाली स्थितियों के मद्देनजर विकास को बढ़ाने वाला बताया है। दिनेश खारा ने कहा कि यह बजट, इरादे को दर्शाता है, जो अनुभव से तैयार किया गया तथा और कोरोना के बाद की दुनिया में भारत की विकास संभावनाओं को बढ़ाता है।

Edited By Lakshya Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept