Banking Budget 2022: जन-धन खातों को लेकर बड़ा ऐलान कर सकती हैं वित्त मंत्री, अब तक खुल चुके हैं इतने करोड़ खाते

Banking Sector Budget 2022 (बैंकिंग क्षेत्र का बजट) इस बार का बजट आम जनता और बैंकिंग सेक्टर के लिए काफी अहम रहने वाला है। वित्त मंत्री आम बजट में बैंकिंग सेक्टर के लिए बड़ी घोषणा कर सकती हैं। इसमें सबसे अहम घोषणा जन धन योजना को लेकर हो सकती है।

Mohd FaisalPublish: Tue, 01 Feb 2022 10:07 AM (IST)Updated: Tue, 01 Feb 2022 10:07 AM (IST)
Banking Budget 2022: जन-धन खातों को लेकर बड़ा ऐलान कर सकती हैं वित्त मंत्री, अब तक खुल चुके हैं इतने करोड़ खाते

नई दिल्ली, जेएनएन: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज सुबह 11 बजे वित्त वर्ष 2022-23 के लिए बजट पेश करेंगी। ये बजट आम जनता और बैंकिंग सेक्टर के लिए काफी अहम रहने वाला है। रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आम बजट में बैंकिंग सेक्टर के लिए बड़ी घोषणा कर सकती हैं। इसमें सबसे अहम घोषणा जन धन योजना को लेकर हो सकती है। माना ज रहा है कि, सरकार इस बजट में जन धन योजना के अगले चरण को लेकर अपनी नीति स्पष्ट कर सकती है।

दरअसल, जन धन योजना के अगले चरण के तहत सरकार जितने भी जनधन अकाउंट होल्डर हैं, उन्हें डिजिटल बैंकिंग और डोर स्टेप बैंकिंग की सुविधा से जोड़े जाने का ऐलान कर सकती है। यहीं नहीं, डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए सरकार उन्हें अटल पेंशन योजना और सुकन्या समृद्धि योजना से भी जोड़ सकती है। यह जन-धन सेवा के विस्तार का तीसरा चरण होगा। इसके तहत जनधन ग्राहकों को डोर स्टेप बैंकिंग के साथ-साथ डिजिटल खाताधारकों जैसी सुविधाओं से जोड़ने का काम किया जाएगा। डिजिटल बैंकिंग सेवा की शुरुआत हो जाने के बाद जनधन खाताधारक मोबाइल से बैंकिंग सेवाओं जैसी सुविधाओं का भी लाभ उठा सकेंगे।

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब तक 44.44 करोड़ जन धन खाते खोले जा चुके हैं, जिसमें 1.57 लाख करोड़ रुपये जमा हुए हैं। बता दें कि, देश में ज्यादातर जनधन खाते सरकारी बैंकों में खुले हैं। सरकार का मकसद इन अकाउंट होल्डर्स को सुकन्या समृद्धि योजना से जोड़ने का भी है।

गौरतलब है कि, 15 अगस्त 2014 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिए गए अपने संबोधन में प्रधानमंत्री जन-धन योजना (Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana-PMJDY) का ऐलान किया था। प्रधानमंत्री जन धन योजना सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है, और इस योजना का मकसद ज्यादा से ज्यादा लोगों को बैंकिंग सिस्टम से जोड़ना है।

सरकार की इस पहल के बाद अब तक करोड़ों लोगों के जन धन खाते खोले जा चुके हैं। जन धन अकाउंट की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें न्यूनतम बैलेंस रखने की जरूरत नहीं होती है। जनधन अकाउंट को बैंक, पोस्ट ऑफिस और राष्ट्रीयकृत बैंकों में खोल सकते हैं। इसके अलावा 2 लाख का एक्सिडेंटल इंश्योरेंस मिलता है, और 10 हजार रुपए के ओवरड्रॉफ्ट की सुविधा मिलती है।

Edited By Mohd Faisal

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept