Budget Gyan: बजट तैयार करने में इनकी होती है महत्वपूर्ण भूमिका, ये हैं वित्त मंत्री सीतारमण टीम के मुख्य अधिकारी

बजट निर्मला सीतारमण के अलावा उनकी ए-टीम पर काफी निर्भर है। पांच हाई-प्रोफाइल अधिकारियों (टीवी सोमनाथम तरुण बजाज देबाशीष पांडा अजय सेठ और तुहिन कांता पांडे) से बनी सीतारमण टीम की यह तय करने में महत्वपूर्ण भूमिका है

NiteshPublish: Thu, 27 Jan 2022 11:00 AM (IST)Updated: Tue, 01 Feb 2022 07:14 AM (IST)
Budget Gyan: बजट तैयार करने में इनकी होती है महत्वपूर्ण भूमिका, ये हैं वित्त मंत्री सीतारमण टीम के मुख्य अधिकारी

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को बजट पेश करने वाली हैं। सीतारमण और उनकी टीम वित्तीय घाटा पैदा किए बिना वित्तीय विकास में तेजी लाने के लिए नए उपायों का मसौदा तैयार करने पर काम कर रही है। इस वर्ष भी भारत महामारी से जूझ रहा है, स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए एक महत्वपूर्ण आवंटन की उम्मीद है। बजट निर्मला सीतारमण के अलावा उनकी ए-टीम पर काफी निर्भर है। पांच हाई-प्रोफाइल अधिकारियों (टीवी सोमनाथम तरुण बजाज, देबाशीष पांडा, अजय सेठ और तुहिन कांता पांडे) से बनी सीतारमण टीम की यह तय करने में महत्वपूर्ण भूमिका है कि प्रत्येक वित्तीय वर्ष के दौरान विभिन्न क्षेत्रों को राशि कैसे आवंटित की जाती है। आइये जानते हैं सीतारमण की टीम के बारे में

सोमनाथन टेलीविजन: तमिलनाडु कैडर के 1987 के आईएएस अधिकारी ने पहले 2015 में प्रधानमंत्री कार्यालय में संयुक्त सचिव के रूप में कार्य किया था। वह टीम के पांच में सबसे वरिष्ठ अधिकारी हैं, उन्हें वित्त सचिव के रूप में नियुक्त किया गया था। यह देखा जाना बाकी है कि सोमनाथन केंद्रीय बजट 2022 के बाद इस वित्तीय वर्ष में पूंजीगत व्यय की गणना कैसे करते हैं।

देबाशीष पांडा: देबाशीष पांडा, 1987 में आईएएस बैच अधिकारी भी हैं, वित्तीय सेवा विभाग के प्रमुख के रूप में सार्वजनिक क्षेत्र के कार्यालयों को पुनर्जीवित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

अजय सेठ: अजय सेठ अप्रैल 2021 में आर्थिक मामलों के सचिव के रूप में शामिल होने से पहले बैंगलोर मेट्रो के प्रबंध निदेशक थे। ये सीतारमण के सभी बजट भाषणों का मसौदा तैयार करने के प्रभारी हैं। उनका विभाग पूंजी बाजार, निवेश और बुनियादी ढांचे से संबंधित नीतियों का मुख्य विभाग भी है। इनके ऊपर आय उत्पन्न करने और रोजगार सृजित करने के लिए बड़ी परियोजनाओं पर बड़ी राशि आवंटित करने की अपेक्षा है।

तुहिन कांता पांडेय: इस साल सरकार अपने विनिवेश लक्ष्यों को पूरा नहीं कर पाई है, लेकिन तुहिन कांता पांडे ने एयर इंडिया के विनिवेश में अहम भूमिका निभाई है। इस साल 2022 के बजट के बाद कई और परियोजनाएं हैं, जिनमें एलआईसी आईपीओ एक प्रमुख विनिवेश लक्ष्य है।

तरुण बजाज: वित्त मंत्रालय में ट्रेजरी सचिव, तरुण बजाज की भी वित्त मंत्रालय में भूमिका वास्तविक कर लक्ष्यों को सुनिश्चित करने की है और इस वर्ष उनकी योजना कर संग्रह में शीर्ष पर रहने की है। बजाज ने महामारी के दौरान स्वास्थ्य देखभाल पैकेजों को सुविधाजनक बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। बजट 2022 के दौरान कर अनुपालन की सुविधा और महामारी से प्रभावित कंपनियों और क्षेत्रों के लिए पैकेजों की घोषणा करने की उम्मीद है।

Edited By Nitesh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम