This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

महाराष्ट्र में लग रही नई पाबंदियों से क्या Share Market पर पड़ेगा व्यापक असर? जानिए एक्सपर्ट की राय

Share Market Tips बाजार में गिरावट अनिश्चितता की स्थिति में देखने को मिलती है। पिछले हफ्ते से महाराष्ट्र में लॉकडाउन की आशंका थी जिस पर बाजार ने प्रतिक्रिया दी। सोमवार को भी लॉकडाउन की आशंका के चलते ही सेंसेक्स और निफ्टी में बड़ी गिरावट देखने को मिली थी।

Pawan JayaswalThu, 15 Apr 2021 07:48 AM (IST)
महाराष्ट्र में लग रही नई पाबंदियों से क्या Share Market पर पड़ेगा व्यापक असर? जानिए एक्सपर्ट की राय

नई दिल्ली, पवन जायसवाल। कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में बुधवार रात आठ बजे से 15 दिनों के लिए कड़ी पाबंदियां लगाने का एलान किया है। इसके तहत राज्य भर में धारा 144 और नाइट कर्फ्यू सहित कई प्रतिबंध लागू रहेंगे। राज्य सरकार की इन पाबंदियों का आर्थिक असर लगभग लॉकडाउन जैसा ही रहने की आशंका जताई जा रही है। महाराष्ट्र में इस तरह की पाबंदियों से यह आशंका भी जोर पकड़ रही है कि गुरुवार को जब शेयर बाजार खुलेगा, तो उस पर इसका व्यापक प्रभाव पड़ेगा।

हालांकि, एक्सपर्ट्स शेयर बाजार पर इन प्रतिबंधों के प्रतिकूल प्रभाव से इन्कार कर रहे हैं। इस विषय पर जब हमने सीएनआई रिसर्च के सीएमडी किशोर ओस्तवाल से बात की, तो उन्होंने कहा, 'लोग समझते हैं कि महाराष्ट्र में लगे कड़े प्रतिबंधों का बाजार पर बड़ा प्रभाव पड़ेगा और गुरुवार को बाजार खुलते ही बड़ी गिरावट देखने को मिलेगी। जबकि, ऐसा नहीं है। गुरुवार को बाजार में 400-500 अंक की तेजी देखने को मिल सकती है।'

ओस्तवाल ने कहा, 'शेयर बाजार में गिरावट अनिश्चितता की स्थिति में देखने को मिलती है। पिछले हफ्ते से महाराष्ट्र में लॉकडाउन की आशंका थी, जिस पर बाजार ने प्रतिक्रिया दी और गिरावट देखने को मिली। सोमवार को भी लॉकडाउन की आशंका के चलते ही सेंसेक्स और निफ्टी में बड़ी गिरावट देखने को मिली थी। बाजार महाराष्ट्र में लॉकडाउन पर ओवर रिएक्ट कर चुका है। अब जब यह साफ हो गया है कि राज्य में लॉकडाउन नहीं लगेगा और कुछ कड़े प्रतिबंध ही लगेंगे, तो अवश्य ही बाजार के लिए यह एक राहत की बात है।'

उन्होंने आगे कहा, 'वित्त मंत्री स्वयं कह चुकी हैं कि लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। इससे लॉकडाउन को लेकर अनिश्चितता दूर हुई है। प्रतिबंधों और आंशिक लॉकडाउन से अर्थव्यवस्था पर कोई बड़ा असर नहीं पड़ेगा। बुधवार को सिंगापुर निफ्टी में भी तेजी देखने को मिली है। वहीं, गुरुवार को एक्सपायरी भी है, जिस कारण भी बाजार में तेजी देखने को मिलेगी।'

वैक्सीनेशन पर बात करते हुए ओस्तवाल ने बताया कि भारत में 11 करोड़ लोगों को वैक्सीन लग चुकी हैं और देश आने वाले दिनों में स्पूतनिक की प्रतिदिन करीब एक करोड़ वैक्सीन का उत्पादन करेगा। अगले 10 दिन में यह वैक्सीन प्रयोग में आ जाएगी। इस तरह देखा जाए तो 60 दिनों में 50-60 करोड़ लोगों को वैक्सीन लग जाएगी। इतनी बड़ी संख्या में लोगों को वैक्सीन लगने के बाद हालात स्वत: ही काबू में होंगे। उन्होंने कहा कि हम मई के आखिर तक निफ्टी का 15,900 का स्तर देखेंगे।