This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

शेयर बाजार खुलते ही फिर गिरा, लेकिन इन सेक्‍टरों में निवेश करा सकता है कमाई : एक्‍सपर्ट

शेयर बाजार गुरुवार को सपाट खुला। Sensex 59413 अंक के कल के बंद स्‍तर से थोड़ा ऊपर 59549 अंक पर खुला लेकिन यह रैली कुछ ही देर में छूमंतर हो गई। इसमें करीब 120 अंकों की गिरावट दर्ज की गई।

Ashish DeepThu, 30 Sep 2021 09:43 AM (IST)
शेयर बाजार खुलते ही फिर गिरा, लेकिन इन सेक्‍टरों में निवेश करा सकता है कमाई : एक्‍सपर्ट

नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। शेयर बाजार गुरुवार को सपाट खुला। Sensex 59,413 अंक के कल के बंद स्‍तर से थोड़ा ऊपर 59,549 अंक पर खुला लेकिन यह रैली कुछ ही देर में छूमंतर हो गई। इसमें करीब 120 अंकों की गिरावट दर्ज की गई। हरे निशान वाले शेयरों में Tata Steel Stock Price, Dr Reddy Stock Price, Bharti airtel Stock Price शामिल हैं। हालांकि इनमें उछाल 1 फीसद से कम ही है। उधर, Nifty का मेन इंडेक्‍स Nifty 50 17,711 अंक के पिछले बंद के मुकाबले थोड़ा ऊपर 17,718 अंक पर खुला। यहां भी कारोबार मंदा है।

SMC ग्‍लोबल के सौरभ जैन के मुताबिक निवेशकों को बाजार की इस उठापटक में सेक्‍टर पर फोकस करना चाहिए। IT कंपनियों के शेयरों में अब ज्‍यादा रैली नहीं रहेगी। इनमें गिरावट का दौर शुरू होगा। कैपिटल गुड्स, PSU बैंकिंग और Realty सेक्‍टर पर फोकस करना चाहिए। आने वाले समय में Real Estate और PSU बैंकों के शेयर शानदार रैली देंगे। मार्केट एक्‍सपर्ट एमसी गुप्‍ता के मुताबिक बाजार का हाल ऐसा ही रहेगा। न तेजी दिखेगी और न ही बड़ी गिरावट।

इससे पहले बुधवार को बैंक और वित्तीय कंपनियों के शेयरों में बिकवाली के बीच सेंसेक्स 254 अंक और टूट गया था। लगातार दूसरे दिन बाजार बिकवाली दबाव में रहा। वैश्विक स्तर पर अमेरिका में बांड पर प्रतिफल बढ़ने तथा मुद्रास्फीति चिंता के बीच धारणा जोखिम से बचने की रही। रुपये में भी लगातार चौथे दिन गिरावट आई। कारोबारियों ने कहा कि इससे भी निवेशकों का भरोसा डगमगाया।

BSE का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 254.33 अंक या 0.43 प्रतिशत के नुकसान से 59,413.27 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 37.30 अंक या 0.21 प्रतिशत के नुकसान से 17,711.30 अंक पर आ गया। सेंसेक्स की कंपनियों में एचडीएफसी का शेयर सबसे अधिक 1.96 प्रतिशत टूट गया। कोटक बैंक, एशियन पेंट्स, अल्ट्राटेक सीमेंट, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी बैंक और टेक महिंद्रा के शेयर भी नुकसान में रहे।

बाजार के नुकसान में ज्यादा हिस्सा एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज का रहा। दूसरी ओर एनटीपीसी, पावरग्रिड, सन फार्मा, एसबीआई, टाइटन और टाटा स्टील के शेयर 6.52 प्रतिशत तक चढ़ गए। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि वैश्विक स्तर पर बिकवाली और कच्चे तेल की कीमतों में उछाल से घरेलू बाजारों की शुरुआत नकारात्मक रुख के साथ हुई। अमेरिका में बांड पर प्रतिफल बढ़ने तथा अर्थव्यवस्था की सुस्ती से बाजार प्रभावित हो रहा है।

एलकेपी सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा कि आपूर्ति पक्ष की बाधाओं और जिंसों की ऊंची कीमतों की वजह से बाजार मुद्रास्फीति को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने कहा कि बिजली की कमी की वजह से चीन पर संकट है। ऐसे में भारतीय कंपनियों के लिए निर्यात के अवसर खुल रहे हैं। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना से इसमें मदद मिलेगी।

(Pti इनपुट के साथ)

Edited By: Ashish Deep