M-Cap: टॉप की आठ कंपनियों के बाजार मूल्यांकन में हुई बढ़ोतरी, HDFC Bank और SBI को हुआ सबसे ज्यादा फायदा

टॉप 10 में से आठ कंपनियों ने पिछले सप्ताह बाजार अपने बाजार मूल्यांकन में 152355.03 करोड़ रुपये जोड़े हैं। इन कंपनियों में HDFC Bank और State Bank Of India(SBI) को सबसे ज्यादा लाभ प्राप्त हुआ। TCS और Infosys घाटे में रहे।

Abhishek PoddarPublish: Sun, 17 Oct 2021 03:39 PM (IST)Updated: Mon, 18 Oct 2021 08:13 AM (IST)
M-Cap: टॉप की आठ कंपनियों के बाजार मूल्यांकन में हुई बढ़ोतरी, HDFC Bank और SBI को हुआ सबसे ज्यादा फायदा

नई दिल्ली, पीटीआइ। देश की शीर्ष -10 सबसे मूल्यवान कंपनियों में से आठ कंपनियों ने पिछले सप्ताह अपने बाजार बाजार मूल्यांकन में 1,52,355.03 करोड़ रुपये जोड़े हैं। इन कंपनियों में HDFC Bank और State Bank Of India(SBI) को सबसे ज्यादा लाभ प्राप्त हुआ। HDFC Bank का बाजार मूल्यांकन 46,348.47 करोड़ रुपये बढ़कर 9,33,559.01 करोड़ रुपये का हो गया।

State Bank Of India(SBI) का बाजार मूल्यांकन 29,272.73 करोड़ रुपये बढ़कर 4,37,752.20 करोड़ रुपये का हो गया। वहीं Reliance Industries Limited ने अपने मूल्यांकन में 18,384.38 करोड़ रुपये जोड़े जिसके बाद इसका बाजार मूल्यांकन 17,11,554.55 करोड़ रुपये का हो गया।

इसके अलावा ICICI Bank का बाजार मूल्यांकन 16,860.76 करोड़ रुपये बढ़कर 5,04,249.13 करोड़ रुपये और HDFC का बाजार मूल्यांकन 16,020.7 करोड़ रुपये बढ़कर 5,07,861.84 करोड़ रुपये का हो गया। Kotak Mahindra Bank का बाजार मूल्यांकन 15,944.02 करोड़ रुपये बढ़कर 3,99,810.31 करोड़ रुपये का हो गया। वहीं Bajaj Finance का बाजार मूल्यांकन 7,526.82 करोड़ रुपये बढ़कर 4,74,467.41 करोड़ रुपये का हो गया। इसके अलावा Hindustan Unilever ने अपने बाजार मूल्यांकन 1,997.15 करोड़ रुपये जोड़े और इसका बाजार मूल्यांकन 6,22,359.73 करोड़ रुपये का हो गया।

जहां एक तरफ आठ कंपनियों के बाजार मूल्यांकन में बढ़ोतरी देखने को मिली तो वहीं Tata Consultancy Services के बाजार मू्ल्यांकन में कमी देखी गई। Tata Consultancy Services का बाजार मूल्यांकन 1,19,849.27 करोड़ रुपये से घटकर 13,35,838.42 करोड़ रुपये का रह गया। कंपनी के सितंबर तिमाही की आय बाजार से कम होने के बाद TCS के शेयरों में सोमवार को 6 फीसदी से अधिक की गिरावट आई थी। इसके अलावा Infosys का मूल्यांकन 3,414.71 करोड़ रुपये घटकर 7,27,692.41 करोड़ रुपये हो गया।

देश की शार्ष कंपनियो में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपना पहला स्थान बरकरार रखा है। इसके बाद टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, एचडीएफसी बैंक, इंफोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज फाइनेंस, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और कोटक महिंद्रा बैंक का नंबर आता है।

Edited By Abhishek Poddar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept