बिजली बिल कम करने का जुगाड़ हुआ और आसान, जानिए मोदी सरकार ने क्‍या किया ऐलान

Solar Panel news नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने कहा कि पहले रूफटॉप योजना के तहत परिवारों को योजना का फायदा और सब्सिडी लेने के लिए केवल सूचीबद्ध विक्रेताओं से ही रूफटॉप सोलर प्रणाली लगवाना होता था।

Ashish DeepPublish: Sat, 22 Jan 2022 11:00 AM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 08:59 AM (IST)
बिजली बिल कम करने का जुगाड़ हुआ और आसान, जानिए मोदी सरकार ने क्‍या किया ऐलान

नई दिल्‍ली, पीटीआइ। अगर आप अपने घर पर सोलर एनर्जी से बिजली जलाना चाहते हैं तो सरकार ने अपनी पसंद के किसी भी विक्रेता द्वारा रूफटॉप सोलर लगाने की इजाजत दे दी है। सरकारी योजना के तहत सब्सिडी का लाभ पाने के लिहाज से वितरण के लिए लगवाई गई प्रणाली की एक तस्वीर पर्याप्त है। नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने कहा कि पहले रूफटॉप योजना के तहत, परिवारों को योजना का फायदा और सब्सिडी लेने के लिए केवल सूचीबद्ध विक्रेताओं से ही रूफटॉप सोलर प्रणाली लगवाना होता था।

मंत्रालय के एक बयान के अनुसार रूफटॉप सोलर योजना को सरल बनाने का निर्णय केंद्रीय ऊर्जा और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह की अध्यक्षता में 19 जनवरी, 2022 को हुई समीक्षा बैठक में लिया गया था। मंत्री ने रूफटॉप योजना को सरल बनाने के निर्देश दिए, ताकि लोगों तक आसानी से पहुंचा जा सके।

उन्होंने निर्देश दिया कि अब किसी भी परिवार के लिए लिस्‍टेड दुकानदार से ही सोलर पैनल को छत पर लगवाना जरूरी नहीं होगा। लोग अपने घरों में स्वयं भी रूफटॉप सोलर पैनल स्थापित कर सकते हैं या अपनी पसंद के किसी भी विक्रेता द्वारा इन्हें लगवा सकते हैं और वितरण कंपनी को सिस्टम की एक तस्वीर के साथ स्थापित किये गये इंस्टॉलेशन के बारे में सूचित कर सकते हैं।

रूफटॉप लगाने की सूचना या तो एक पत्र / आवेदन से या नामित वेबसाइट पर दी जा सकती है, जिसे हरेक डिस्कॉम और केंद्र सरकार द्वारा रूफटॉप योजना के लिए शुरू किया गया है। वितरण कंपनी यह सुनिश्चित करेगी कि सूचना मिलने के 15 दिन के भीतर ‘नेट मीटरिंग’ उपलब्ध करा दी जाए। सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी 3 किलोवाट क्षमता तक के पैनल के लिए 40 प्रतिशत और 3 किलोवाट से 10 किलोवाट तक की क्षमता के लिए 20 प्रतिशत है। इसे स्थापना के 30 दिन के भीतर डिस्कॉम द्वारा गृहस्वामी के खाते में जमा किया जाएगा।

यह सुनिश्चित करने के लिए कि सोलर पैनल और इनवर्टर की गुणवत्ता निर्धारित मानक के अनुसार हो केंद्र सरकार समय-समय पर सोलर पैनल निर्माताओं और इनवर्टर निर्माताओं की सूची छापा करेगी, जिनके ये उत्पाद अपेक्षित गुणवत्ता मानकों को पूरा करते होंगे और मूल्य सूची भी दी जायेगी। उसके बाद लोग अपनी पसंद के सोलर पैनल और इनवर्टर का चयन कर सकते हैं।

डिस्कॉम द्वारा नामित किसी भी वेंडर द्वारा रूफटॉप पैनल लगाने का विकल्प पहले की तरह उपलब्ध रहेगा। ऐसे मामलों में भी गृहस्वामी अपनी पसंद के सोलर पैनल और इनवर्टर का चयन खुद से कर सकते हैं।

Edited By Ashish Deep

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept