This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Gold Price on 11 Nov: बढ़ गए सोने-चांदी के दाम, जानिए कितना हो गया महंगा

gold price today गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत 18 पैसे घटकर 74.52 (प्रारंभिक) रुपये प्रति डॉलर रह गई। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना तेजी के साथ 1856 डॉलर प्रति औंस हो गया जबकि चांदी 24.89 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर रही।

NiteshFri, 12 Nov 2021 06:42 AM (IST)
Gold Price on 11 Nov: बढ़ गए सोने-चांदी के दाम, जानिए कितना हो गया महंगा

नई दिल्ली, पीटीआइ। रुपये के मूल्य में गिरावट और मजबूत वैश्विक रुख के अनुरूप गुरुवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 883 रुपये की तेजी के साथ 48,218 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी। इससे पिछले कारोबारी सत्र में सोना 47,335 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। चांदी की कीमत भी 1,890 रुपये के उछाल के साथ 65,190 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई। पिछले कारोबारी सत्र में चांदी 63,300 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी।

गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत 18 पैसे घटकर 74.52 (प्रारंभिक) रुपये प्रति डॉलर रह गई। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना तेजी के साथ 1,856 डॉलर प्रति औंस हो गया, जबकि चांदी 24.89 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर रही। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा, ‘‘बुधवार को कॉमेक्स (न्यूयॉर्क स्थित जिंस एक्सचेंज) में सोने की हाजिर कीमत 0.40 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,856 डॉलर प्रति औंस हो गयी जिससे सोने की कीमत में मजबूती रही।’’

त्योहारी सीजन की मांग के कारण अक्टूबर में गोल्ड ईटीएफ में 303 करोड़ रु का निवेश

गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) ने निवेशकों को आकर्षित करना जारी रखा है और उन्होंने त्योहारी सीजन की मांग के कारण अक्टूबर में 303 करोड़ रुपये की शुद्ध संपत्ति अर्जित की। हालांकि, यह सितंबर के 446 करोड़ रुपये की शुद्ध आमद से कम था। एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों से पता चलता है कि इस वर्ग में अगस्त में 24 करोड़ रुपये की शुद्ध आमद दर्ज की गयी। एलएक्सएमई की संस्थापक प्रीति राठी गुप्ता ने कहा, "गोल्ड ईटीएफ में अक्टूबर के दौरान भी लगभग 303 करोड़ रुपये की एक अच्छी आमद देखी गयी। उम्मीदों के अनुरूप, उत्सव ने परिसंपत्ति वर्ग की मांग को बनाए रखा। इस साल धनतेरस पर सोने की बिक्री का स्तर 2019 के धनतेरस की तुलना में लगभग 20 टन अधिक था।"

Edited By Nitesh