Loan: नकदी संकट से निपटने के लिए आसानी से लिये जा सकते हैं ये पांच तरह के लोन

Loan नकदी के संकट से निपटने में गोल्ड लोन काफी कारगर सिद्ध हो सकता है।

Pawan JayaswalPublish: Sun, 28 Jun 2020 02:42 PM (IST)Updated: Mon, 29 Jun 2020 08:03 AM (IST)
Loan: नकदी संकट से निपटने के लिए आसानी से लिये जा सकते हैं ये पांच तरह के लोन

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। कोविड-19 महामारी और लॉकडाउन के कारण लोगों की आय पर बड़ा असर पड़ा है। कुछ लोगों की जॉब चली गई, तो कुछ के वेतन में कटौती हो गई। दूसरी तरफ मांग में भारी गिरावट के चलते व्यापारियों की आय बुरी तरह प्रभावित हो रही है। ऐसे में लोगों के सामने नकदी की समस्या खड़ी हो गई है। ऐसी स्थिति में लोन लेकर इस संकट के संमय में नकदी की समस्या से निपटा जा सकता है। आज हम आपको ऐसे पांच लोन विकल्पों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपके इस समय में बहुत काम आ सकते हैं।

1. गोल्ड लोन

नकदी के संकट से निपटने में गोल्ड लोन काफी कारगर सिद्ध हो सकता है। गोल्ड लोन उधारकर्ताओं को अपने सोने के आभूषणों का मोनेटाइजिंग करके अपने पैसे की जरूरतों को पूरा करने की अनुमति देता है। अधिकतर कर्जदाता गोल्ड लोन के लिए आवेदन करने के कुछ घंटें बाद ही गोल्ड लोन का वितरण कर देते हैं। गोल्ड लोन कर्जदाता द्वारा तय सोने की कीमत के 75 फीसद तक जा सकता है। गोल्ड लोन पर ब्याज दर करीब 9.10 फीसद से शुरू होती है।

2. क्रेडिट कार्ड पर लोन

क्रेडिट कार्ड पर लोन लेकर भी नकदी संकट से निपटा जा सकता है। क्रेडिट कार्ड जारीकर्ता अपने मौजूदा कार्डधारकों को उनके कार्ड के प्रकार, खर्च और पुनर्भुगतान के आधार पर प्री-अप्रूव्ड लोन देते हैं। कार्डधारक द्वारा लोन उठाने पर उसकी क्रेडिट सीमा उस राशि से कम हो जाती है। हालांकि, कुछ कर्जदाता स्वीकृत क्रेडिट सीमा से अधिक और क्रेडिट कार्ड के बदले लोन देते हैं।

3. कोविड-19 पर्सनल लोन

कोरोना वायरस महामारी के इस विकट समय में कुछ बैंकों द्वारा अपने मौजूदा ग्राहकों की मदद के लिए उनसे COVID-19 पर्सनल लोन की पेशकश भी की जा रही है। देशभर में कई प्रमुख बैंकों द्वारा कोविड-19 पर्सनल लोन लॉन्च किया गया है। कोविड-19 पर्सनल लोन लॉन्च करने वाले बैंकों में बैंक ऑफ बड़ौदा, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, महाराष्ट्र बैंक और बैंक ऑफ इंडिया भी शामिल हैं। कोविड-19 पर्सनल लोन में जीरो प्रोसेसिंग फीस होती है और ब्याज दर भी कम लगती है। अगर आपका बैंक भी कोविड-19 पर्सनल लोन की पेशकश कर रहा है, तो आप उसका फायदा उठाकर अपनी नकदी संकट की समस्या को हल कर सकते हैं।

4. संपत्ति पर लोन

व्यक्ति अपनी संपत्ति पर लोन लेकर भी नकदी संकट से निपट सकता है। बैंक कमर्शियल, आवासीय और औद्योगिक संपत्ति पर लोन की पेशकश करते है। संपत्ति पर लोन में ब्याज दर करीब 8.95 फीसद से शुरू होती है। यह लोन कर्जदाता, लोन की राशि और आवेदक की क्रेडिट प्रोफाइल पर निर्भर करता है। संपत्ति पर लोन 20 साल की अवधि तक जा सकता है। संपत्ति पर लोन की राशि ग्राहक की संपत्ति के मूल्यांकन और लोन लेने वाले की चुकाने की क्षमता पर निर्भर करती है।

5. डिजिटल टॉप-अप होम लोन

जिन लोगों के पास पहले से होम लोन है, उन्हें अन्य दूसरा लोन लेने में परेशानी हो सकती है। नंकदी के संकट के समय ऐसे लोग डिजिटल टॉप-अप होम लोन का विकल्प चुन सकते हैं। इस लोन में ब्याज दरें अमूमन मौजूदा होम लोन उधारकर्ता के लिए उपलब्ध अन्य कर्ज विकल्पों की तुलना में कम होती हैं।

Edited By Pawan Jayaswal

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept