नकदी संकट से जूझ रहे हैं, तो पर्सनल लोन की बजाय चुनें COVID-19 Personal Loan, ये हैं फायदे

Personal loan में बैंक लोन राशि की 4 फीसद तक प्रोसेसिंग फीस लेते हैं। वहीं COVID-19 Personal Loan में प्रोसेसिंग फीस शून्य से 500 रुपये तक होती है।

Pawan JayaswalPublish: Mon, 08 Jun 2020 01:53 PM (IST)Updated: Wed, 10 Jun 2020 07:18 AM (IST)
नकदी संकट से जूझ रहे हैं, तो पर्सनल लोन की बजाय चुनें COVID-19 Personal Loan, ये हैं फायदे

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। लॉकडाउन के चलते जहां कई लोग अपनी नौकरियों से हाथ धो बैठे हैं, तो बहुतों के वेतन में कटौती की गई है। छोटे-मोटे सभी कारोबारियों की आय को भी भारी नुकसान हुआ है। ऐसे में कई लोगों के सामने नकदी का संकट खड़ा हो गया है। अब लॉकडाउन में ढील दिये जाने के बाद अपने कारोबार को फिर से पटरी पर लाने और अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए लोग पर्सनल लोन के लिए जा रहे हैं। ऐसे लोगों को आज हम एक भिन्न प्रकार के पर्सनल लोन से रूबरू करवाएंगे, जो मौजूदा परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए लाया गया है। इसका नाम है कोविड-19 पर्सनल लोन।

यह भी पढ़ें: Gold Futures Price सोने की कीमतों में आया उछाल, चांदी की भी चमक बढ़ी, जानिए भाव

देश में कई बैंकों ने कोविड-19 पर्सनल लोन लॉन्च किया है। इन बैंकों में बैंक ऑफ बड़ौदा, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, महाराष्ट्र बैंक और बैंक ऑफ इंडिया भी शामिल है। कोविड-19 पर्सनल लोन में जीरो प्रोसेसिंग फीस और कम ब्याज दर सहित कई सारी खूबिया हैं। अगर आपका बैंक कोविड-19 पर्सनल लोन की पेशकश कर रहा है, तो आप इसके लिए जा सकते हैं। आइए जानते हैं कि सामान्य पर्सनल लोन की तुलना में कोविड-19 लोन कितना खास है।

यह भी पढ़ें: Petrol Diesel Price पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार दूसरे दिन आया उछाल, जानिए आपके शहर में क्या हैं दाम

ब्याज दर

पर्सनल लोन पर बैंक 8.75 फीसद से लेकर 26 फीसद तक ब्याज लेते हैं। यह ब्याज दर कर्ज लेने वाले की क्रेडिट प्रोफाइल पर निर्भर करती है। वहीं, कोविड-19 पर्सनल लोन बैंक अपने मौजूदा ग्राहकों को दे रहे हैं। इसलिए इस पर ब्याज दर कम है। कोविड पर्सनल लोन पर ब्याज दर 7.20 फीसद से 10.25 फीसद के बीच है।

प्रोसेसिंग फीस

पर्सनल लोन में बैंक लोन राशि की 4 फीसद तक प्रोसेसिंग फीस लेते हैं, जो कि ग्राहक के लिए काफी ज्यादा पड़ जाती है। वहीं, दूसरी तरफ कोविड-19 पर्सनल लोन में प्रोसेसिंग फीस शून्य से 500 रुपये तक हो सकती है। कोविड पर्सनल लोन मौजूदा ग्राहकों के लिए है, इसलिए भी इसमें प्रोसेसिंग फीस कम है।

लोन की राशि

पर्सनल लोन में बैंक 50,000 रुपये से लेकर 20 लाख तक की राशि का लोन देते हैं। एनबीएफसी और कुछ बैंक 40 लाख रुपये तक का भी लोन देते हैं। वहीं, कोविड-19 पर्सनल लोन में लोन की राशि 25,000 रुपये से 5 लाख रुपये के बीच की होती है। यह लोन अस्थाई वित्तीय संकट से उबरने के लिए है, इसलिए इसमें लोन की राशि कम रखी गई है।

योग्यता

पर्सनल लोन के लिए ग्राहक की जॉब प्रोफाइल, कंपनी, आय, क्रेडिट स्कोर के साथ ही कई चीजें देखी जाती हैं। जबकि कोविड पर्सनल लोन में बैंक ग्राहक की क्रेडिट प्रोफाइल और कर्ज भुगतान का ट्रैक रिकॉर्ड ही देखते हैं।

अवधि

पर्सनल लोन को अमूमन 1 से 5 साल में चुकाना होता है। कुछ बैंक अपने ग्राहकों को लोन चुकाने के लिए सात साल तक का भी समय देते हैं। वहीं, कोविड-19 पर्सनल लोन में भुगतान की अवधि कम होती है। यह लोन अस्थाई नकदी संकट से उबरने के लिए है, इसलिए इसमें लोन राशि और भुगतान की अवधि दोनों ही कम हैं। इस लोन की भुगतान अवधि ज्यादातर जगहों पर तीन साल है।

आवेदन की अंतिम तिथि

अगर आप कोविड-19 पर्सनल लोन के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको बैंकों की इस स्कीम की अंतिम तिथि से पहले इसके लिए आवेदन करना होगा। पंजाब नेशनल बैंक और बैंक ऑफ महाराष्ट्र सहित कई बैंकों में इस स्कीम के तहत 30 जून 2020 तक ही लोन के लिए आवेदन किया जा सकता है।

Edited By Pawan Jayaswal

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept