Menu
blogid : 312 postid : 668752

महिला कबड्डी टीम में ‘किन्नर’

पंजाब में चल रहे चौथे कबड्डी विश्व कप में पहली बार हिस्सा लेने आई पाकिस्तान की महिला टीम में किन्नर शामिल होने का मामला गर्मा गया है. इंग्लैंड महिला टीम के अधिकारियों ने मांग की है कि पाकिस्तान टीम के तीन खिलाड़ियों का लिंग परीक्षण किया जाए. इंग्लैंड टीम के कोच अशोक दास व कैप्टन ऐश्ले हंटर ने आरोप लगाया है कि जब उन्होंने इस संबंध में अपनी आवाज उठाई तो उनकी एसोसिएशन के स्तर पर कोई सुनवाई नहीं हुई.

kabaddi teamइंग्लैंड टीम के कोच अशोक दास ने कहा कि जलालाबाद में पाक के साथ हुई भिड़ंत में तीन किन्नरों के वजह से हमारी टीम को हार का सामना करना पड़ा है. उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता में मैच देखने आए बाहर के लोग भी इन खिलाड़ियों पर नुक्ता चीनी कर रहे थे. उधर पाकिस्तान महिला कबड्डी टीम ने मेडिकल जांच करवाने के लिए मना कर दिया है.

जेंडर की वजह से विवादों में रहने वाले खिलाड़ी.

कैस्टर सेमेन्या

कैस्टर सेमेन्या 2008 में विश्व में तेज धावक के रूप में उभरी थीं. उन्होंने 800 व 1500 मीटर की दौड़ में पूरे एथलेटिक्स जगत में तहलका मचा दिया था. 2009 बर्लिन वर्ल्ड चैम्पियनशिप में 800 मीटर की दौड़ में 55.45 सेकेंड के समय के साथ स्वर्ण पदक जीतकर सबको चकित कर दिया था. इस जीत के साथ ही सेमेन्या विवादों में भी आ गई थीं.  एथलेटिक्स जगत ने उन पर आरोप लगाए कि वह महिला नहीं पुरुष हैं.  तमाम तरह के टेस्ट व जांचों का सामना करने के बाद फैसला सेमेन्या के हक में रहा. 2010 में उन्होंने दोबारा वापसी की.

Read: बादशाहत के लिए प्यादे की कुर्बानी जरूरी है

भारत की एथलीट खिलाड़ी शांति

2006 की दोहा एशियाई खेलों में महिलाओं के वर्ग में 800 मीटर की दौड़ में रजत पदल विजेता भारतीय एथलीट खिलाड़ी शांति सौंदरराजन से उनका पदक वापस ले लिया गया था. शांति लिंग परीक्षण में फेल हो गई थी. फिलहाल वह तमिलनाडु में एक ईट-भठ्ठा  में काम कर रही हैं.

महिला एथलीट पिंकी प्रमाणिक

पिछले साल महिला एथलीट पिंकी प्रमाणिक का भी लिंग परीक्षण कराया गया था. टेस्ट में पिंकी पुरुष पाई गई थीं. गौरतलब है कि पिंकी के साथ रह रही महिला ने उस पर बलात्कार करने का आरोप लगाते हुए कहा था कि पिंकी पुरुष है न कि महिला. पिंकी प्रमाणिक भारत की 400 और 800 मीटर की विशेषज्ञ ट्रैक एथलीट रही हैं. पिंकी दोहा एशियन गेम्स में विमिंस इवेंट में 4 x 400 मीटर रिले में गोल्ड और मेलबर्न कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल जीत चुकी हैं. उनके नाम 2006 के साउथ एशिया गेम में तीन स्वर्ण पदक भी हैं.

Read More:

‘आप’ को न समझो पानी का बुलबुला

बुरे दौर को ताकत बनाने वाला खिलाड़ी