Menu
blogid : 316 postid : 1398300

12 लाख से अधिक बच्चों का वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन, 24 घंटे में 33 हजार कोरोना मरीज मिले

देश में वयस्‍क और बुजुर्गों को कोरोना वैक्‍सीन लगाने के क्रम में अब बच्‍चों को भी शाम‍िल क‍िया गया है। 3 जनवरी से देशभर में 15 से 18 साल तक के क‍िशोरों को वैक्‍सीन लगाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। दोपहर तक करीब 6 लाख से अध‍िक को पहला डोज लगाया जा चुका है। उधर, देशभर में कोरोना संक्रमण ने फ‍िर से पैर पसारने शुरू कर द‍िए हैं। प‍िछले 24 घंटे में 33 हजार से अध‍िक नए कोरोना मामले दर्ज क‍िए गए हैं। वहीं, ओमीक्रॉन मामले बढ़कर 1700 तक पहुंच गए हैं।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan3 Jan, 2022

 

 

देशवास‍ियों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के ल‍िए तेजी से वैक्‍सीनेशन प्रक्रिया चल रही है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार अबतक 145.68 करोड़ से अध‍िक लोगों को वैक्‍सीन लग चुकी है। वैक्‍सीनेशन की प्रक्र‍िया में अब 15 से 18 वर्ष के क‍िशोरों को भी शाम‍िल किया गया है। 3 जनवरी को वैक्‍सीन लगाने के ल‍िए 12.57 लाख से अध‍िक किशोरों ने कोव‍िन पोर्टल पर रज‍िस्‍ट्रेशन कराया, ज‍िनमें से दोपहर तक 6 लाख से अधिक बच्‍चों को वैक्‍सीन लगा दी गई।

कोरोना मामले 33 हजार के पार पहुंचे- 
द‍िसंबर के आख‍िरी सप्‍ताह से अचानक बढ़े कोरोना के नए मामलों में जनवरी में और बढ़ोत्‍तरी हो गई है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार प‍िछले 24 घंटे में देश में 33,750 नए कोरोना पॉज‍िट‍िव पाए गए हैं। अचानक बढ़े कोरोना संक्रमण ने च‍िकित्‍सा व‍िशेषज्ञों को चिंत‍ित कर द‍िया है। 30 द‍िसंबर को देश में 13,154 केस पाए गए थे। जबक‍ि, उससे पहले 27 द‍िसंबर 2021 को 6,531 केस पाए गए थे।

र‍िकवरी संख्‍या घटी, एक्‍ट‍िव केस बढ़े- 
अचानक कोरोना केस बढ़ने के साथ र‍िकवरी संख्‍या नहीं बढ़ी है। प‍िछले 24 घंटे में 10,846 कोरोना मरीजों को र‍िकवर क‍िया गया। जबक‍ि, नए केस 33 हजार से अध‍िक पाए गए। कोरोना र‍िकवरी रेट बढ़ने की बजाय घटकर 98.20 फीसदी हो गया है। इसके साथ ही एक्‍ट‍िव केस में भी बढ़ोत्‍तरी आई है। द‍िसंबर में एक्‍ट‍िव केस घटकर 80 तक हो गए थे, वहीं अब यह संख्‍या 1.45 लाख के पार हो गई है।

23 राज्‍यों में 1700 ओमीक्रॉन केस-
देश में ओमीक्रॉन वैर‍िएंट के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। ओमीक्रॉन अब बढ़कर 23 राज्‍यों में पहुंच गया है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार देश में कुल ओमीक्रॉन मामले बढ़कर 1700 हो गए हैं। महाराष्‍ट्र और द‍िल्‍ली में सबसे ज्‍यादा केस हो गए हैं। महाराष्‍ट्र में 510 केस, द‍िल्‍ली में 351, केरल में 156, गुजरात में 136, तम‍िलनाडु में 121, राजस्‍थान में 120 ओमीक्रॉन केस हैं। वहीं, बाकी राज्‍यों में 67 से लेकर 1 केस पाया जा चुका है।

 

 

5 राज्‍यों ने सभी मरीज ठीक कर ल‍िए- 
ओमीक्रॉन के कुल 1700 केस में 639 मरीजों को अबतक ठीक भी क‍िया जा चुका है। सबसे ज्‍यादा 193 मरीज महाराष्‍ट्र में ठीक हुए हैं। इसके बाद 98 मरीज तम‍िलनाडु में, 86 राजस्‍थान में 57 मरीज द‍िल्‍ली में, 85 मरीज गुजरात में ठीक हो चुके हैं। वहीं, मध्‍य प्रदेश, जम्‍मू एंड कश्‍मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और पंजाब ने अपने सभी ओमीक्रॉन मरीजों को ठीक कर ल‍िया है।