Menu
blogid : 316 postid : 1396259

वैक्‍सीन लगाने में सबसे आगे है भारत, दुनिया के बाकी देशों का ऐसा है हाल, राज्‍यों की स्थिति भी जानें

कोरोना महामारी को थामने के लिए भारत में सबसे तेज गति से टीकाकरण अभियान चल रहा है। सबसे कम दिनों में सबसे ज्‍यादा लोगों को वैक्‍सीन देने के मामले में भारत ने दुनिया के बाकी देशों को पीछे छोड़ दिया है। देश में अब तक क‍रीब 45 लाख लोगों को वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है। सबसे ज्‍यादा लाभार्थी उत्‍तर प्रदेश, राजस्‍थान और महाराष्‍ट्र के हैं।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan4 Feb, 2021

Image courtesy: IANS

टीकाकरण में भारत सबसे तेज, सबसे आगे
देश में 16 जनवरी से कोरोना टीकाकरण अभियान चल रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रायल की रिपोर्ट के अनुसार अभियान के 19वें दिन 4 फरवरी की सुबह त‍क 44,49,552 लोगों को वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है। भारत सबसे कम दिनों में 40 लाख से ज्‍यादा लोगों को वैक्‍सीन लगाने वाला नंबर वन देश बन गया है।

यूएसए, यूके, इजराइल को पीछे छोड़ा
भारत ने 18 दिनों में 40 लाख लोगों को वैक्‍सीन लगाने का आंकड़ा छूकर रिकॉर्ड बना दिया। जबकि, यही संख्‍या छूने में अमेरिका को 20 दिन लगे। वहीं, इजराइल ने इस संख्‍या तक पहुंचने में 39 दिनों का वक्‍त लिया और ब्रिटेन को भी इतनी बड़ी संख्‍या को वैक्‍सीन लगाने में 39 दिन लग गए। इस लिहाज से सबसे तेज भारत रहा।

Image courtesy: IANS

सबसे ज्‍यादा लाभार्थी 7 राज्‍यों में
भारत के 7 राज्‍यों में सबसे ज्‍यादा 55 फीसदी लोगों को वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है। 4 फरवरी तक सबसे ज्‍यादा यूपी में 4,63,793 लोगों को वैक्‍सीन लग चुकी है। इसी तरह राजस्‍थान में 3,63,521 लोगों को, महाराष्‍ट्र में 3,54,633, मध्‍य प्रदेश में 3,30,772, कर्नाटक 3,16,638, गुजरात 3,11,251 और पश्चिम बंगाल में 3,01,091 लोगों को वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है।

Updated Infographic courtesy: MIB

कई देशों में भारतीय वैक्‍सीन से टीकाकरण
भारतीय वैक्‍सीन से केवल भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया के 5 से ज्‍यादा देशों में भी टीकाकरण हो रहा है। भारत ने 17 देशों को 1 करोड़ से ज्‍यादा वैक्‍सीन के डोज देकर मदद पहुंचाई है। मॉरीशस, बांग्‍लादेश, नेपाल, म्‍यांमार और श्रीलंका समेत कई देश भारतीय वैक्‍सीन से टीकाकरण कर रहे हैं।...NEXT

 

 

ये भी पढ़ें: दुनियाभर में भारतीय वैक्‍सीन का डंका

2 राज्‍यों में हर दिन सबसे ज्‍यादा नए मरीज

7 महीने में पहली बार सबसे कम सिर्फ 10 हजार मरीज मिले 

वैक्‍सीन से जुड़े सभी सवालों के जवाब यहां जानें 

जनवरी से दिसंबर तक सेहतमंद रहने के 12 तरीके