Menu
blogid : 316 postid : 1393414

दावा: बाबा रामदेव की दवा से 7 दिन में ठीक होगा कोरोना, पतंजलि ने लांच की तीन दवाएं, 545 रुपए है कीमत

 

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan23 Jun, 2020

 

कोरोना महामारी से जूझ रही दुनिया को वायरस से मुक्त कराने के लिए बाबा रामदेव की संस्था पतंजलि ने तीन दवाएं लांच की हैं। उनका दावा है कि इन दवाओं के इस्तेमाल से कोरोना मरीज ठीक हो जाएगा। इसके अलावा कोरोना को ठीक करने वाली यह आयुर्वेद की पहली दवाएं हैं।

 

 

 

 

तीन आयुर्वेदिक दवाएं लांच
एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक मंगलवार को योग गुरु बाबा रामदेव ने कोरोना वायरस के संक्रमण को खत्म करने वाली तीन आयुर्वेदिक दवाएं लांच की हैं। बाबा रामदेव ने कहा कि आज हम ये कहते हुए गौरव का अनुभव कर रहे हैं कि कोरोना की पहली आयुर्वेदिक दवा तैयार कर ली गई है।

 

 

 

दो क्लीनिकल ट्रायल हुए
बाबा रामदेव ने बताया कि यह दवाओं का क्लीनिकल ट्रायल हो चुका है। क्लीनिकली कंट्रोल्ड, एविडेंस और रिसर्च आधारित यह दवाई पतं​जलि रिसर्च सेंटर और नेशनल इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंस NIMS के संयुक्त प्रयास से तैयार की गई है। उन्होंने कहा कि दवा के परीक्षण के लिए दो ट्रायल किए जा चुके हैं। दूसरा ट्रायल क्रिटिकल मरीजों पर किया गया है।

 

 

 

 

 

 

7 दिन में पूरी तरह ठीक होंगे कोरोना मरीज
योग गुरु बाबा रामदेव ने एनएनआई को बताया कि दवा का परीक्षण करने के लिए 100 लोगों पर क्लीनिकल स्टडी की गई है। दवा के रिजल्ट बेहद उत्साहजनक आए हैं। सिर्फ ​3 दिन में ही 69 प्रतिशत मरीज़ ठीक हो गए और 7 दिन में 100% मरीज ठीक हो गए। पतंजलि के मुताबिक तीनों दवाओं को

 

 

 

 

महीने भर की दवा सिर्फ 545 रुपये में
कोरोना संकमित मरीज को ठीक करने वाली पतंजलि की तीनों आयुर्वेदिक दवाएं बाजार में उपलब्ध हैं। दवा की आनलाइन बिक्री के लिए जल्द ही पतंजलि एक एप भी लांच करने वाला है। कोरोना वायरस की दवा कोरोनिल की कीमत 400 रुपये है, जबकि श्वासारि रस बट्टी की कीमत 120 रुपये और अणनासिक तेल की कीमत 25 रुपये है। एक महीने की दवा 545 रुपये में उपलब्ध होगी।

 

 

 

आयुष मंत्रालय ने दवा पर रोक लगाई
शाम को आयुष मंत्रालय ने बाबा रामदेव की कोरोना दवा पर रोक लगा ​दी है। आयुष मंत्रालय से जारी बयान में कहा गया कि पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड द्वारा कोरोना के उपचार के लिए बनाई गई आयुर्वेदिक दवाओं के बारे में मीडिया में आई खबरों का संज्ञान लिया गया। कंपनी को दवाओं का विवरण प्रदान करने और इस तरह के दावों को प्रचारित करने से रोकने के लिए कहा गया है।..NEXT

 

 

 

 

Read More:

ये हैं कोरोना प्रभावित टॉप 10 देश, जानिए भारत, पाकिस्तान और चीन किस पायदान पर

अफ्रीका महाद्वीप के 1.2 अरब लोगों पर कोरोना का खतरा, सभी 56 देशों में पहुंची महामारी!

कोरोना ने पाकिस्तान में कहर ढाया, जुलाई और अगस्त माह होने वाले हैं सबसे खतरनाक

भारत की मदद से 150 देशों के हालात सुधरे, कोरोना महामारी का बने हैं निशाना

दुनिया के 12 देशों की सीमा लांघ नहीं पाया कोरोना, अब तक नहीं मिला एक भी मरीज