Menu
blogid : 316 postid : 1396329

देश में बन रहीं हैं 18-20 और कोरोना वैक्‍सीन, मार्च से बुजुर्गों को भी लगेगा टीका

देश में कोरोना महामारी को खत्‍म करने के लिए तेजी से काम हो रहा है। 3 जनवरी को दो वैक्‍सीन को इस्‍तेमाल की मंजूरी के बाद 16 जनवरी से देशव्‍यापी टीकाकरण अभियान शुरू हो गया था। अगले महीने से 50 से ज्‍यादा उम्र के लोगों को भी वैक्‍सीन लगाने की शुरू की जाएगी। देश में करीब 20 वैक्‍सीन और बन रही हैं जो अगले कुछ महीने में मंजूरी हासिल कर सकती हैं। वहीं, दुनियाभर में 80 से ज्‍यादा वैक्‍सीन बन रही हैं।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan15 Feb, 2021

188 जिलों में 7 दिन से एक भी नए मरीज नहीं
कोरोना महामारी को जड़ से खत्‍म करने की दिशा में तेजी से कदम बढ़ा दिए गए हैं। एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा कि इस वक्त देश में 97.29% की रिकवरी रेट है। दुनिया की सबसे कम मृत्यु दर 1.43% हमारी है। पिछले 7 दिन में देश के 188 जिलों में कोई भी कोविड का मामला नहीं आया है। जबकि, पिछले 28 दिनों में देश के 76 जिलों में कोविड का कोई भी मामला नहीं आया है। 34 जिलों में पिछले 14 दिन के अंदर कोरोना का कोई मामला नही आया।

मार्च में बुजुर्गों को टीका लगाने की शुरूआत
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आज देश में 2 वैक्सीन उपलब्ध हो गई हैं। 80-85 लाख स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंट लाइन वर्कर्स को वैक्सीन दी जा चुकी है। मार्च के महीने में हम 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन देंगे। बता दें कि 15 जनवरी तक 10 राज्‍यों के 69 फीसदी से ज्‍यादा लोगों को वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है। वहीं, उत्‍तर प्रदेश में सर्वाधिक 8 से अधिक लोगों को वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है।

20 वैक्‍सीन पर अलग-अलग स्‍तर पर चल रहा काम
उन्‍होंने कहा कि देश में इस वक्त 18-20 वैक्सीन पर अलग-अलग स्तरों पर काम हो रहा है। उनमें से कुछ वैक्सीन अगले कुछ महीनों में आ सकती है। 20-25 देशों को हम वैक्सीन देने की स्थिति में आ गए हैं। बता दें कि 20 जनवरी से अब तक 20 से ज्‍यादा देशों को भारतीय वैक्‍सीन के एक करोड़ से ज्‍यादा डोज दिए जा चुके हैं। भारतीय वैक्‍सीन से 5 से ज्‍यादा देशों में टीकाकरण भी हो रहा है।

Infographic courtesy: NYT

दुनियाभर में बन रहीं 80 से ज्‍यादा वैक्‍सीन
दुनियाभर में 80 से ज्‍यादा कोरोना वैक्‍सीन विकसित हो रही हैं। न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स की रिपोर्ट के अनुसार करीब 37 वैक्‍सीन फेज वन में हैं, 27 वैक्‍सीन फेज 2 में चल रही हैं और 20 वैक्‍सीन फेज 3 में हैं। 6 वैक्‍सीन को शुरुआती, सीमित या आपातकालीन इस्‍तेमाल की मंजूरी मिली है। वहीं, 4 वैक्‍सीन को फुल एप्रूवल मिल चुका है। 4 वैक्‍सीन ट्रायल्‍स के नतीजे विपरीत आने के बाद बंद की जा चुकी हैं।

 

ये भी पढ़ें: दुनियाभर में भारतीय वैक्‍सीन का डंका

टीका लाभार्थी प्रतिशत बिहार में सर्वाधिक

वैक्‍सीन से जुड़े सभी सवालों के जवाब यहां जानें 

जनवरी से दिसंबर तक सेहतमंद रहने के 12 तरीके