Menu
blogid : 316 postid : 1397162

स्टडी: देश के 50 फीसदी लोग नहीं पहन रहे मास्क, जान लें इसके फायदे और पहनने का सही तरीका

देश में कोरोना महामारी ने मुश्किल हालात बना दिए हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय लोगों को वायरस के खतरे से बचाने के लिए टीकाकरण से लेकर तमाम प्रयास कर रहा है और लगातार लोगों से मास्‍क पहनने और घर में रहने की अपील की जा रही है। समय समय पर गाइडलाइन जारी करने और अपील के बावजूद देश के 50 फीसदी लोग मास्‍क नहीं पहन रहे हैं। यह चिंता का विषय बन गया है।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan21 May, 2021

मास्‍क के प्रति लापरवाही बरत रहे लोग
कोरोना महामारी तेजी से लोगों को संक्रमित कर रही है। पिछले 24 घंटे में 2.59 लाख से ज्‍यादा लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं और 4 हजार से ज्‍यादा संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। लोगों को कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए सरकार और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रायल लगातार दिशानिर्देशों के पालन की अपील कर रहे हैं। बावजूद कुछ इलाकों में लोग महामारी के प्रति लापरवाही दिखा रहे हैं।

25 शहरों के 2 हजार लोगों पर स्‍टडी
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के मुताबिक देश के 25 शहरों के 2 हजार लोगों पर की गई स्‍टडी में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। स्‍टडी के मुताबिक 50 फीसदी लोग अब भी मास्‍क का इस्‍तेमाल नहीं कर रहे हैं। जो मास्‍क लगा रहे हैं उनमें 64 फीसदी लोग सही तरीके से मास्‍क नहीं पहन रहे हैं और नाक-मुंह को गाइडलाइन के अनुसार सुरक्षित नहीं कर रहे हैं।

20 फीसदी लोगों की ठुड्डी पर रहता है मास्‍क
स्‍टडी से खुलासा हुआ है कि 20 फीसदी ऐसे लोग हैं जिनका मास्‍क नाक-मुंह ढंकने की बजाय ठुड्डी यानी चिन पर ही रहता है। जबकि, 2 फीसदी लोगों का मास्‍क उनकी गर्दन पर रहता है। इनमें से अधिकतर लोग मास्‍क को बार-बार छूने के साथ ही ऊपर-नीचे करते रहते हैं। मास्‍क लगाने के प्रति यह लापरवाही बेहद चिंतित करने वाली है।

 

मास्‍क लगाने से पहले ध्‍यान दें
वही मास्‍क खरीदें जिसकी प्‍लीट नीचे की तरफ खुले
सर्जिकल मास्‍क, N95 मास्‍क या पाल्‍युशन मास्‍क लगाएं
वर्तमान स्थिति को देखते हुए दो मास्‍क एक साथ लगाएं
मास्‍क वही खरीदें जिससे नाक और मुंह अच्‍छे से ढंक जाए
मास्‍क से ठुड्ढी यानी चिन भी ढंकनी जरूरी है
मास्‍क ढीला न हो और यह चेहरे पर अच्‍छे से फिट होना चाहिए

इस्‍तेमाल के बाद क्‍या करें
लगाने के बाद मास्‍क को बार-बार छूने से बचें
मास्‍क को गर्दन पर लटकाकर ना रखें
मास्‍क गीला हो जाने पर इस्‍तेमाल न करें
खुले में इधर-उधर मास्‍क को फेंकने से बचें
मास्‍क को कीटाणुरहित बंद कूड़ेदान में ही डालें
मास्‍क को उतारते समय बाहरी सतह को न छुएं
मास्‍क हटाने के बाद हाथों को साफ करें और सैनेटाइजर लगाएं
मास्‍क को हर छह घंटे में बदला जा सकता है

 

 

ये भी पढ़ें - 

आंख-नाक के पास इंफेक्शन हो सकता है ब्लैक फंगस, जान लें लक्षण

DRDO ने लांच की कोरोना की दवा, मरीजों को ठीक करने में सफल

पहली बार 525 बच्चे कोवैक्सीन ट्रायल का हिस्सा बनेंगे

10 दिन में रिकॉर्ड 30 लाख से ज्यादा कोरोना मरीज रिकवर