Menu
blogid : 19157 postid : 1126709

शुक्रनीति के अनुसार इन चार बुरी आदतों को अपनाने से हो सकता है आपके घर-परिवार का विनाश

हर मनुष्य में अच्छी-बुरी दोनों तरह की आदतें होती है. अधिकतर लोग बुरी आदतों से अपना पीछा छुड़वाना चाहते हैं लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें अपने भीतर की बुरी आदतों से कोई खास फर्क नहीं पड़ता. लेकिन क्या आप जानते हैं शुक्रनीति में बताई गई कई बुरी आदतों के कारण आपका हंसता-खेलता घर - परिवार भी सकंट में घिर सकता है. आइए हम आपको बताते हैं शुक्रनीति में वर्णित ऐसी चार आदतें जिन्हे अपनाने से आपका घर-परिवार का विनाश हो सकता है.

destroy

Read : अगर चाणक्य के इन 5 प्रश्नों का उत्तर है आपके पास तो सफलता चूमेगी आपके कदम

झूठ बोलना

कई लोगों को झूठ बोलने की आदत होती है. वे अपनी इस आदत बड़ी ही सामान्य समझते हैं, लेकिन यही आदत उनकी बर्बादी का कारण भी बन सकती है. झूठ बोलने से न की सिर्फ आपको बल्कि आपके परिवार को भी दुःखों और परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. इस आदत से जितना दूर रहें, उतना अच्छा है.

Read : चाणक्य नीति: अपने इस शक्ति के दम पर स्त्री, ब्राह्मण और राजा करा लेते हैं अपना सारा काम

परिवार की परंपराओं के विरुद्ध काम करना

परिवार की परंपराओं के विरुद्ध काम करना कई लोग घर के बड़ों का मान-सम्मान नहीं करते, साथ ही उनकी बताई गई घर की परंपराओं आदि का भी पालन नहीं करते. ऐसे लोग अपने कुल के विनाश का कारण बनते है. जो मनुष्य घर के नियम और परंपराओं का सम्मान नहीं करते, उन्हें कई तरह के दुःखों और परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं और अतः में वे खुद ही परिवार का विनाश कर देते है. इसलिए हर किसी को अपने परिवार की परंपराओं को पूरा सम्मान देकर, उनका पालन करना चाहिए.

पराई स्त्री से संबंध बनाना

पराई स्त्री पर बुरी नजर डालना या उससे संबंध बनाना महापाप माना जाता है. जो भी मनुष्य किसी अन्य स्त्री के साथ संबंध बनाता है या इसके बारे में सोचता है, उसकी राक्षस प्रवृत्ति का माना जाता है और ऐसे मनुष्य को नरक में कई तरह की यातनाएं झेलनी पड़ती हैं. यह पाप कर्म किसी भी परिवार का नाश कर सकता है, इसलिए इससे बचना चाहिए.

sukracarya-yayati-217x300

मांसाहारी होना

जीवों की हत्या करना या उनका सेवन करने की मनाई की जाती है. ऐसा करने वाले मनुष्य पर भगवान अप्रसन्न रहते हैं और उसी उसकी पूजा-अर्चना का भी फल नहीं मिलता. ऐसे लोगों को हर समय किसी न किसी तरह की परेशानी का सामना करना पड़ता है. शुक्रनीति के अनुसार, ये आदत किसी भी परिवार का नाश कर सकती है, इसलिए इससे दूर रहना चाहिए...Next

Read more :

चाणक्य नीति: भविष्य में नुकसान से बचने के लिए न करें इन 3 कामों में शर्म

चाणक्य नीति: भविष्य में नुकसान से बचने के लिए न करें इन 3 कामों में शर्म

ज्यादा ईमानदारी सफलता के लिए ठीक नहीं होती: चाणक्य नीति