Menu
blogid : 321 postid : 1361814

यूपी में इस साल मनेगी दिव्य दिवाली, 2 लाख दीये जलाकर रिकॉर्ड बनाने की तैयारी

उत्तर प्रदेश एक बार फिर से सुर्खियों में है. इस बार किसी घोटाले या लापरवाही के लिए नहीं बल्कि एक अनोखी वजह के लिए. ऐसी दिवाली जो नई नहीं, लेकिन यूपी की जनता के लिए कुछ अलग होगी.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने घोषणा की है कि अयोध्या में इस बार 'दिव्य दिवाली' मनाई जाएगी, जिसे त्रेतायुग की दिवाली भी कहा जा रहा है. अयोध्या में इसकी तैयारी जोर-शोर से की जा रही है. आज यानि छोटी दिवाली के लिए अयोध्या पूरी तरह से सज-धज कर तैयार है. राम की पैड़ी पर करीब 2 लाख दीप सजाए गए हैं. साथ ही वह स्थान और घाट निश्चित हो गया है जहां बुधवार को छोटी दीपावली पर ये दीप जलाए जाएंगे. दिव्य दीपावली मनाने के लिए प्रदेश की योगी सरकार बुधवार को अयोध्या में मौजूद रहेगी.

divya diwali

दो लाख दीप जलेंगे, गिनीज बुक में दर्ज कराने की तैयारी

दिवाली के एक दिन पहले लोगों ने दीपोत्सव की प्रैक्टिस की. इसमें करीब 2 लाख छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया. दो लाख दीपों को सजाकर पूरी रिहर्सल की गई.  बुधवार को दीपों का डिस्पले होगा. खास बात ये है कि अवध यूनिवर्सिटी के योगा विभाग की छात्राओं ने दीपों से योगा की डिजाइन तैयार किया है. यहां पर बुधवार को होने वाले दीपोत्सव को गिनेस बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में नाम दर्ज कराने की भी तैयारी है.

diwali in ayodha

अब देखना ये है कि यूपी सरकार दिवाली के दिन अपने राज्य का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज करा पाती है या नहीं. त्रेतायुग की दिवाली के आयोजन को देखते हुए लग रहा है कि अयोध्या में ऐसी दिवाली शायद पहले कभी नहीं हुई है.

हालांकि, तस्वीर का दूसरा पहलू ये भी है कि अयोध्या के आसपास के इलाके यानि पश्चिमी घाट में ही सजावट की गई है, जबकि पूर्वी घाट के इलाकों में अंधेरा पसरा हुआ है...Next

Read More:

दिग्विजय सिंह से लेकर ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया तक, ये हैं राजपरिवार के राजनेतामोदी सरकार की आर्थिक नीतियों को लेकर बाप-बेटे में 'जंग' वरुण गांधी के 5 बयान, जो बता रहे BJP से बढ़ रही उनकी दूरी