Menu
blogid : 314 postid : 647365

जाते-जाते देश के रत्न घोषित हुए सचिन

यह बड़े खिलाड़ी की महानता ही खहेंगे जिसे अपने कॅरियर के आखिरी के दिन न केवल विश्वभर के प्रशंसकों की ओर आदर मिला बल्कि देश की ओर से दी जाने वाली सर्वोच्च नागरिक सम्मान से भी नवाजा गया. भारत सरकार ने 200 टेस्ट मैच खेलकर शनिवार को क्रिकेट को अलविदा कहने वाले महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर को सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' से नवाजने की घोषणा की है.

sachin 3सचिन यह सम्मान पाने वाले पहले खिलाड़ी होंगे. सचिन के साथ वैज्ञानिक सीएनआर राव को भी भारत रत्न देने की घोषणा की गई है. पिछले एक साल से कई चर्चित हस्तियों और नेताओं की ओर से सचिन को भारत रत्न देने की लगातार मांग की जा रही थी. सचिन के संन्यास से एक दिन पहले गायिका लता मंगेश्कर ने भी सचिन को भारत रत्न देने की बात कही थी. अब आखिरकार सचिन की उपलब्धियों को देखते हुए यह फैसला ले लिया गया है कि उनको अब भारत रत्न मिलेगा. अब तक सिर्फ 57 लोगों को यह सर्वोच्च नागरिक सम्मान मिला है. इसके पहले 2008 में भीमसेन जोशी को आखिरी बार भारत रत्न से सम्मानित किया गया था.

Read: क्रिकेट के शहंशाह को देखकर प्रशंसक हुए रुआंसे

भारत रत्न' पाने वाले सचिन तेंदुलकर पहले खिलाड़ी हैं. इसके लिए 'भारत रत्न' देने के नियमों में बदलाव किया जा चुका है. विदित हो कि भारत रत्न जिन क्षेत्र को लोगों को दिया जाता था उसमें खेल शामिल नहीं था. सचिन के साथ हॉकी के जादूगर ध्यानचंद को भी भारत रत्न देने की मांग की जाती रही है, लेकिन सरकार ने सचिन को ज्यादा तरजीह दी लेकिन भारत रत्न के नियमों में बदलाव के बाद यह उम्मीद की जा रही है कि वाले वक्त में ध्यानचंद को भी भारत रत्न दिया जाएगा.