Menu
blogid : 314 postid : 1362006

पटाखा ब्रिकी पर बैन बेअसर, आतिशबाजी से खतरनाक स्तर तक पहुंचा प्रदूषण

कल पूरे देश ने धूमधाम से दिवाली मनाई गई है, बॉर्डर पर तैनात जवानों से मिलने खुद पीएम पहुंचे थे। वहीं, दूसरी तरफ आम लोगों ने अपने घरों को दिए और लाईटों से रौशन करके दिवाली मनाई। राजधानी दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट ने पटाखों की ब्रिकी पर रोक लगाई थी, लेकिन रात में नजारा कुछ अलग ही देखने को मिला। दिल्ली में हुई आतिशबाजी के बाद आज सुबह दिल्ली धुंए और धुंध में सिमटी नज़र आई। यहां प्रदूषण के स्तर कम होता नहीं दिख रहा है।

cover diwali

शहर में 24 गुना तक प्रदूषण बढ़ा

दिवाली की रात हुए प्रदूषण ने अगली सुबह भी अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। दिवाली पर आतिशबाजी से शहर में 24 गुना तक प्रदूषण बढ़ गया है। दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण कमिटी यानी डीपीसीसी ने जो आकंडे जारी किए हैं वो वाकई चिंताजनक हैं। कई जगहों पर प्रदूषण का स्तर सामान्य से 12 गुना तक ज्यादा हो चुका है।

diwali dilli

कई ईलाकों में सामान्य से कई गुना ज्यादा प्रदूषण

आरके पुरम के अलावा आनंद विहार, शाहदरा, वजीरपुर, अशोक विहार और श्रीनिवासपुरी जैसे इलाकों में भी प्रदूषण का स्तर सामान्य से कई गुना ज्यादा पहुंच गया है। पीएम 2.5 का स्तर पीएम 10 से कहीं ज्यादा बढ़ा हुआ है।चिंता की बात यह है कि, पीएम 2.5 का स्तर इंडिया गेट जैसे इलाकों में जहां हर रोज सुबह कई लोग आते हैं वहां 15 गुने से भी ज्यादा ऊपर आया है।

diwali00

दिल्ली की हवा में प्रदूषण

वहीं, दिल्ली के आनंद विहार में सामान्य से 24 गुना तक ज्यादा प्रदूषण देखने के मिला है। कुल मिलाकर पटाखों पर बैन लगाकर सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली की हवा को प्रदूषण मुक्त करना चाहा था। लेकिन दिवाली की अगली सुबह यह बताती है कि प्रदूषण का स्तर सामान्य से कहीं ज़्यादा बना हुआ है।

diwali-pollution

दिलावी में निकला दिल्ली का दम

दिल्ली प्रदूषण कंट्रोल कमेटी द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार- वजीरपुर की हवा दिल्ली में सबसे ज्यादा प्रदूषित है। वहीं प्रदूषण के मामले में दूसरे नंबर पर आनंद विहार का बस अड्डा आता है। दिल्ली के पॉश इलाकों की हालत भी ठीक नहीं है। दिल्ली के पॉश इलाकों में वायु प्रदूषण का स्तर सामान्य से लगभग सात गुना तक ज्यादा है।...Next

Read More:

सनी लियोनी की नवरात्रि शुभकामनाएं नहीं आई लोगों को रास! विज्ञापन पर मचा बवाल

राम रहीम के सिरसा डेरे में 1,435 करोड़ रुपये की संपत्ति, जानें हनीप्रीत के खाते में मिले कितने

इतने करोड़ में बनकर तैयार हुई ये भारतीय ट्रेन, एलसीडी और घूमने वाली कुर्सियों जैसी सुविधाएं