Menu
blogid : 15461 postid : 632719

एक दिन सपनों का राही, चला जाए सपनों से आगे

Indian Cinema
Indian Cinema
  • 27 Posts
  • 18 Comments

जब सपनों का दामन छूट जाए....

व्यक्ति तमाम सपने देखता है पर एक दिन जिंदगी उसका साथ ऐसे मोड़ पर छोड़ देती है जहां सपनों का दामन छूट जाता है. मृत्यु जिंदगी का वो पड़ाव है जहां व्यक्ति द्वारा देखे गए तमाम सपनों का साथ छूट जाता है. इसी नजरिए पर फिल्म आनंद आधारित थी. फिल्म आंनद का एक गीत है जिसे दर्शक आज भी सुनकर रो पड़ते हैं और इस गीत के शब्दों को आवाज गायक मन्ना डे ने दी.

जिन्दगी कैसी है पहेली हायकभी तो हंसाए, कभी ये रुलाये

कभी देखो मन नहीं जागे, पीछे-पीछे सपनों के भागेएक दिन सपनों का राही, चला जाये सपनो के आगे कहां

जिन्दगी कैसी है पहेली...

जिन्होंने सजाये यहां मेले, सुख-दुःख संग-संग झेलेवही चुनकर खामोशी, यूं चलेजाएं अकेले कहांजिन्दगी कैसी है पहेली...

manna dayइस गीत को अपनी आवाज देने वाले भारतीय सिनेमा जगत के महान पार्श्वगायक मन्ना डे का आज निधन हो गया. मन्ना डे की आवाज किसी भी गीत को तमाम रंगों से भर दिया करती थी क्योंकि एक गीतकार सिर्फ गीत को लिखते समय तमाम शब्दों का प्रयोग करता है पर उन शब्दों को दर्शकों के दिल तक पहुंचाने का काम एक बेहतर गायक ही कर सकता है जो मन्ना डे थे. प्रसिद्ध संगीतकार अनिल विश्वास ने एक बार कहा था कि मन्ना डे हर वह गीत गा सकते हैं, जो मोहम्मद रफी, किशोर कुमार या मुकेश ने गाए हों लेकिन इनमें से कोई भी मन्ना द्वारा गाए गए गीतों को नहीं गा सकता है.

इतना ही नहीं मोहम्मद रफी ने एक बार कहा था किआप लोग मेरे गीत को सुनते हैंलेकिन यदि मुझसे पूछा जाए तो मैं यही कहूंगा कि ‘मैं मन्ना डे के गीतों को ही सुनता हूं’.

आज हम मन्ना डे को केवल उनके द्वारा गाए गए गीतों को याद करते हुए श्रद्धांजलि देंगे क्योंकि एक महान गायक के लिए इससे बड़ी श्रद्धांजलि नहीं हो सकती कि लोग उसके द्वारा गाए गए गीतों को याद करते हुए उसको याद करें.

Manna Dey Top Songs

‘मेरा नाम जोकर’ फिल्म फिल्मकार राज कपूर की अपनी जिंदगी और प्यार के प्रति उनके नजरिए पर आधारित है जिसे बेहतर बनाने के लिए उन्होंने पूरे छह साल खुद को इस फिल्म के लिए समर्पित कर दिया. इस फिल्म का गीत ‘ए भाई जरा देखकर चलो’ मन्ना डे ने गाया था.

‘ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे,तोड़ेंगे दम मगर तेरा साथ ना छोड़ेंगे’ यह गीत ‘शोले’ फिल्म का है और इसे मन्ना डे ने गाया था.

‘ऐ मेरे प्यारे वतन ऐ मेरे बिछड़े चमन तुझ पे दिल कुर्बान’ यह गीत ‘काबुलीवाला’ फिल्म का है जिसे लिखा प्रेम धवन ने था पर गाया मन्ना डे ने.

‘प्यार हुआ, इकरार हुआ है प्यार से फिर क्यों डरता है दिल’ यह गीत फिल्म ‘श्री 420’ का है जिसे मन्ना डे ने लता मंगेशकर के साथ मिलकर गाया. इस गीत के गीतकार शैलेंन्द्र थे.

‘ये रात भीगी भीगी, ये मस्त फिजाएं उठा धीरे धीरे वो चाँद प्यारा-प्यारा’ यह गीत ‘चोरी’ फिल्म है जिसे लिखा हसरत जयपुरी ने पर गीत के शब्दों को सुरों के रंग दिए मन्ना डे ने.

manna dey top songs