Menu
blogid : 2479 postid : 1119

आन के लिए पिता ने ली थी प्रीति की जान

hindinewsblogs
Hindi News and Blogs
  • 324 Posts
  • 29 Comments

प्रीति की हत्या उसके ही पिता ने आन की खातिर की थी। पिता ने अपना जुर्म कबूल करते हुए बताया कि वह प्रीति के साकिब से संबंध से परेशान था। इसी कारण उसने प्रीति की मुंह और नाक दबाकर हत्या कर दी। पुलिस ने रविवार शाम हत्याकांड का खुलासा कर पिता की गिरफ्तारी दिखा दी है।

शुक्रवार को शास्त्रीनगर सेक्टर दो में प्रीति (22) पुत्री भीम सिंह की हत्या कर दी गई थी। भीम सिंह ओएनजीसी अहमदाबाद में सुपरीटेंडट इंजीनियर हैं। प्रीति की मां शशिबाला ने पति पर बेटी की हत्या का आरोप लगाते हुए पति भीम सिंह के विरुद्ध नौचंदी थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने भीम सिंह व प्रीति के दोस्त साकिब को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी थी।

72 घंटे तक चली पूछताछ के बाद आखिर भीम सिंह ने हत्या का इकबाल कर लिया। रविवार शाम को एसएसपी के. सत्यनारायण ने बताया कि भीम सिंह की बेटी प्रीति के साकिब अंसारी पुत्र मोमीन अंसारी निवासी बुढ़ाना गेट से प्रेम प्रसंग था। इसका पता चलने पर भीम सिंह ने विरोध किया तो घर में विवाद होने लगा, क्योंकि भीम सिंह की बड़ी बेटी नेहा ने भी लव मैरिज थी और भीम सिंह को डर था कि कहीं प्रीति भी साकिब से शादी न कर ले। कप्तान ने बताया कि गुरुवार रात डिनर के दौरान इसी बात को लेकर भीम सिंह का पत्नी, दोनों बेटियों से झगड़ा हुआ था। इस दौरान भीम सिंह ने बड़ी बेटी नेहा को ऊपर आने से मना कर दिया था।

शुक्रवार सुबह साढ़े नौ बजे शशिबाला पढ़ाने के लिए सुभाष नगर स्थित डा. भीमराव अंबेडकर इंटर कालेज चली गई। पत्नी के जाने के बाद भीम सिंह ने जीने का दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। ग्यारह बजे प्रीति को मां के कालेज पहुंचना था, लेकिन वह नहीं पहुंची। मां ने प्रीति का मोबाइल मिलाया तो उस पर घंटी बजती रही। इसके बाद शशिबाला ने नेहा से प्रीति के बारे में पूछा। नेहा प्रीति को तलाशने के लिए ऊपर गई तो जीने का दरवाजा तीन बार खटखटाने के बाद पिता ने खोला, लेकिन नेहा को प्रीति अपने कमरे में नहीं मिली। इसके बाद नेहा ने किसी अनहोनी की आशंका के चलते मोबाइल पर मां, पति चेतन प्रकाश व साकिब को सूचना दी। साकिब घर पहुंच गया और प्रीति उन्हें बाथरूम में मृत अवस्था में मिली।

एसएसपी ने बताया कि हत्या के बाद सभी की काल डिटेल निकाली गई और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद उनका शक पुख्ता हो गया और रविवार को भीम सिंह ने साकिब से प्रेम संबंधों को लेकर प्रीति की हत्या का इकबाल कर लिया। कप्तान ने बताया कि भीम सिंह ने मुंह और नाक दबाकर प्रीति की हत्या की। बाद में वह प्रीति को टब के पास ले गया और उसके मुंह में पानी की बौछार डाली लेकिन वह मर चुकी थी।

****************************************************

आज 1 बजे भारत-पाक के बीच फ्लैग मीटिंग, सीमा पर गोलीबारी

पाकिस्तान के साथ रिश्तों में आई कड़वाहट के बीच सीमा पर शांति कायम रखने के लिए आज दोपहर 1 बजे दोनों देशों के बीच फ्लैग मीटिंग होगी। जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती पुंछ इलाके मे चक्कां दा बाग में होने वाली इस बैठक में भारतीय सैन्य अधिकारी पाकिस्तानी करतूत पर अपना सख्त विरोध दर्ज कराएंगे। भारतीय सेना की तरफ से ब्रिगेडियर टीएस संधू नेतृत्व करेंगे। पाकिस्तानी सेना से शहीद हेमराज के सिर की मांग भी की जाएगी।

दो दिन तक भारतीय सेना के संदेश का कोई जवाब नहीं देने के बाद पाकिस्तानी सेना आखिरकार फ्लैग मीटिंग के लिए राजी हो गई। उधर वायु सेनाध्यक्ष एन ए के ब्राउन ने पाकिस्तान के रवैए में बदलाव नहीं होने पर दूसरे विकल्प की बात कहते हुए कड़ी चेतावनी दी है।

पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ की कोशिशें अब भी जारी हैं। इसके बावजूद पाकिस्तान से अपना उच्चायुक्त वापस बुलाने की विपक्ष की मांग को सरकार अभी गैर जरूरी और अव्यावहारिक मान रही है।

पाकिस्तानी सैनिकों ने बीते मंगलवार को भारतीय सीमा में घुसपैठ कर सेना के दो जवानों की हत्या कर दी थी और एक का सिर अपने साथ ले गए थे। इसके बाद भारतीय सेना ने गत 11 जनवरी को हॉटलाइन पर पाकिस्तानी सेना को फ्लैग मीटिंग का संदेश भेजा था।

सेना प्रवक्ता के मुताबिक सोमवार दोपहर एक बजे पुंछ सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर स्थित चक्कां दा बाग में यह फ्लैग मीटिंग होगी। इसमें भारत और पाकिस्तान की सेना के ब्रिगेडियर स्तर के अधिकारी शामिल होंगे। भारत इस बैठक के जरिये पाकिस्तानी सेना की अमानवीय करतूत की शिकायत पाकिस्तानी अधिकारियों से करना चाहता है। बैठक के दौरान इस घटना पर पाकिस्तान का रवैया स्पष्ट हो सकेगा।

वैसे इस मामले में सरकार अभी संयम खोना नहीं चाहती। इस घटना की प्रतिक्त्रिया में पाकिस्तान से अपने उच्चायुक्त को वापस बुला लेने की विपक्ष की मांग को अभी गैरजरूरी माना जा रहा है। सरकार के एक उच्च सूत्र ने रविवार को इस बारे में कहा, अभी इसका समय नहीं आया है। विरोध करने के लिए अभी हमारे पास कई और विकल्प हैं।

इधर आज नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करने को लेकर भारत- पाक के बीच फ्लैग मीटिंग होने वाली है। उधर एक दिन पहले रविवार को पाकिस्तान ने एक बार फिर से संघर्षविराम का उल्लंघन किया। जम्मू कश्मीर के पुंछ सेक्टर में पाक सैनिकों ने रविवार की शाम फिर फायरिंग की।

**********************************************************

भड़के शहीद हेमराज के परिजन, सांसद पर मारे ताने

रविवार को गांव खैरार पहुंचे रालोद सांसद जयंत चौधरी को गांव वालों ने आड़े हाथों लेते हुए खूब ताने दिए। इतना ही नहीं, उनके पिता चौ. अजित सिंह को भी कठघरे में खड़ा कर दिया। मौके की नजाकत भांप जयंत ने पूरी बात सुनी, फिर श्रद्धांजलि सभा में अपनी बात स्पष्ट की।

सांसद रविवार को दोपहर शहीद हेमराज के गांव खैरार पहुंचे। उनके साथ रालोद के प्रदेश अध्यक्ष मुन्नालाल सिंह चौहान भी थे। सबसे पहले वे शहीद के परिजनों से मिले। शहीद की पत्नी धर्मवती और मां मीना देवी का हालचाल लिया। जब मालूम हुआ कि उन्होंने पांच दिनों से खाना नहीं खाया है तो सांसद ने दूध का गिलास मंगाकर धर्मवती को पिलाने की कोशिश की, मगर लगभग बेसुधी की हालत में चल रही धर्मवती ने एक भी घूंट नहीं पी। इसके बाद जयंत शोकसभा स्थल पर पहुंचे।

बस फिर क्या था? वहां मौजूद लोगों ने गुस्से में सुनाना शुरू कर दिया। हेमराज के ताऊ ससुर रघुनाथ ने मानो मोर्चा संभाल लिया। बोले कि आज फुरसत मिली है यहां आने की। तुम्हारे घर का सैनिक शहीद हुआ है और तुम मौज कर रहे हो। सांसद ने बीच में कहा कि कि वे विदेश में थे। तत्काल बात काटी और कहा कि विदेश से आ नहीं सकते थे? तुम्हारे पिता अजित सिंह को भी अपने भाइयों की सुध नहीं है। उन्हें भी विदेश से आने की फुरसत नहीं मिली है। उन्होंने सांसद से कहा कि जो कुछ भी कहना हो, खुलकर कहना।

शहीद को नमन करने के बाद सांसद जयंत ने शहादत को प्रणाम किया। हेमराज की बहादुरी की तारीफ करते हुए सांसद ने फिर अपनी सफाई दी। उन्होंने कहा कि वे अति आवश्यक कार्य से बाहर गये हुये थे। जैसे ही मौका मिला, यहां चले आए। अब वे हर संभव मदद को तैयार हैं। क्षेत्र के विकास के लिए भी कटिबद्ध हैं।

सांसद जयंत जब अपनी बात कर रहे थे, तभी हेमराज के रिश्ते के भाई ने मीडिया को बताया कि उनकी भाभी को तो होश ही नहीं है। कौन आ रहा है, कौन जा रहा है, उन्हें नहीं पता। उन्होंने तो दूध का एक घूंट भी नहीं पीया। इसके बाद मां को दूध पिलाने की कोशिश नहीं की।

Tag:honour killing, father killed daughter,Indo-pak relations, fresh firing rocks LoC, Army detects infiltrators, flag meeting in poonch,jayant chaudhary, mp, mathura, ajit singh, hemraj, indian army, pak army, border