Menu
blogid : 4920 postid : 333

ऑनर किलिंग - किसकी इज्जत!!

Jagran Junction Forum
जागरण जंक्शन फोरम
  • 157 Posts
  • 2979 Comments

आधुनिक भारत में मध्यकालीन निर्मम तौर-तरीकों की मौजूदगी एक भय मिश्रित आश्चर्य उत्पन्न करने के लिए काफी है। इसकी एक बानगी मध्‍य प्रदेश के मुरैना जिले में इज्जत के नाम पर कथित रूप से एक विवाहिता को जिंदा जलाकर मार देने के एक सनसनीखेज और दहला कर रख देने वाले मामले में देखी जा सकती है। इससे पूर्व भी कभी खुद से कभी कथित खाप पंचायती फरमानों के तहत उत्तर भारत में कई जगहों पर तमाम प्रेमी जोड़ों की क्रूरतापूर्वक हत्या की जाती रही है। इनमें अक्सर उनके घर वाले या रिश्तेदार शामिल रहे हैं। इससे भी बड़े विस्मय की बात ये है कि इस तरह की हत्या में लिप्त होने वाले सगर्व अपने कृत्य को जायज ठहराते हैं और दावा करते हैं कि इससे समाज में नैतिक-आचरणिक शुद्धता कायम होगी।

समाज में ऑनर किलिंग यानी इज्जत के नाम पर हत्या को लेकर दो परस्पर विरोधी मत निरंतर मौजूद रहे हैं। कुछ लोग कहते हैं कि गोत्र, समुदाय, धर्म और सम्मान की रक्षा के लिए किसी भी हद तक जाया जा सकता है भले ही इसके लिए किसी की जान ही क्यों ना लेनी पड़े।

जबकि दूसरी ओर ऐसे भी लोग हैं जो ऑनर किलिंग को हर हाल में निंदनीय ठहराते हैं। ये मानते हैं कि इंसानियत की रक्षा सर्वोपरि है और इंसानियत की रक्षा के लिए व्यक्तिगत स्वतंत्रता की रक्षा सबसे अहम है। कोई व्यक्ति अपनी खुशी के लिए प्रेम संबंध कायम करता है तो इसमें समाज को क्या आपत्ति होनी चाहिए? यही कारण है कि ऐसे लोग ऑनर किलिंग के लिए जिम्मेदार लोगों को सख्त दंड दिए जाने की वकालत करते हैं।

इस पृष्ठभूमि में ऑनर किलिंग से संबंधित निम्नलिखित सवालों के जवाब अवश्य जानने चाहिए:

1. क्या इज्जत के नाम पर हत्या को जायज करार दिया जा सकता है?

2. क्या सम्मान की रक्षा व्यक्ति के जीवन से ज्यादा जरूरी है?

3. ऐसी हत्या करने से सम्मान की रक्षा होती है या सम्मान खत्म होता है?

4. ऑनर किलिंग को रोकने के लिए कौन से कदम उठाए जा सकते हैं?

जागरण जंक्शन इस बार के फोरम मेंअपने पाठकों से इस बेहद महत्वपूर्ण और संवेदनशील मुद्दे पर विचार रखे जाने की अपेक्षा करता है। इस बार का मुद्दा है:

ऑनर किलिंग – किसकी इज्जत!!

आप उपरोक्त मुद्दे पर अपने विचार स्वतंत्र ब्लॉग या टिप्पणी लिख कर जाहिर कर सकते हैं।

नोट: 1.यदि आप उपरोक्त मुद्दे पर अपना ब्लॉग लिख रहे हों तो कृपया शीर्षक में अंग्रेजी में “Jagran Junction Forum” अवश्य लिखें। उदाहरण के तौर पर यदि आपका शीर्षक “ऑनर किलिंग” है तो इसे प्रकाशित करने के पूर्व ऑनर किलिंग Jagran JunctionForum लिख कर जारी करें।

2.पाठकों की सुविधा के लिए Junction Forum नामक नयी कैटगरी भी सृजित की गई है। आप प्रकाशित करने के पूर्व इस कैटगरी का भी चयन कर सकते हैं।

धन्यवाद

जागरण जंक्शन परिवार