Menu
blogid : 319 postid : 1400351

TV के 'रावण' अरविंद त्रिवेदी ने रामायण के बाद किया था सिर्फ एक सीरियल, राजनीति में खेली थी सफल पारी

डीडी नेशनल के सबसे लोकप्रिय धारावाहिक रामायण में रावण की भूमिका से लोगों के दिलों में जगह बनाने वाले अरिवंद्र त्रिवेदी अब हमारे बीच नहीं हैं। 6 अक्टूबर की सुबह हार्ट अटैक से 82 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया है। धारावाहिक रामायण के बाद उन्होंने डीडी नेशनल के लिए केवल एक और माइथोलॉजिकल सीरियल किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत देश की जानीमानी हस्तियों ने उनके निधन पर शोक संवेदना व्यक्त की है।

Rizwan Noor Khan
Rizwan Noor Khan6 Oct, 2021

 

 

पराया धन फिल्म में मिला था पहला मौका- 
मध्य प्रदेश के इंदौर में 8 नवंबर 1938 को जन्मे अरविंद्र त्रिवेदी ने अभिनय के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए मुंबई का रुख किया था। अरविंद त्रिवेदी को हिंदी सिनेमा में डेब्यू करने का मौका 1971 में आई फिल्म पराया धन में मिला। फिल्म में उनके अलावा दिग्गज अभिनेता बलराज साहनी और अभिनेत्री हेमा मालिनी ने मुख्य किरदार निभाए थे।

7 बार गुजरात सरकार से बेस्ट एक्टर अवॉर्ड- 
अरविंद त्रिवेदी ने अपने फिल्मी करियर में 300 से अधिक हिंदी और गुजराती फिल्मों में अभिनय किया। गुजराती फिल्मों में जबरदस्त अभिनय करने के लिए गुजरात सरकार ने 7 बार बेस्ट एक्टिंग के अवॉर्ड से उन्हें नवाजा। हिंदी फिल्मों में अधिक लोकप्रियता नहीं मिलने पर वह टीवी की ओर मुड़े और रामानंद सागर की टीवी सीरीज बेताल पच्चीसी में अहम किरदार निभाया।

रामायण ने घर-घर में लोकिप्रय बनाया- 
दिग्गज अभिनेता अरविंद त्रिवेदी को असली लोकप्रियता साल 1987 में आए रामानंद सागर के टीवी धारावाहिक रामायण से मिली। इस सीरियल को देखने के लिए गांव-गलियों में सन्नाटा पसर जाता था और लोग टीवी के सामने आदर भाव से बैठ जाते थे। रामायण में रावण का किरदार निभाकर अरविंद त्रिवेदी लोगों के दिलों में बस गए। रामायण की लोकप्रियता ने इसकी स्टारकास्ट को सुपरस्टार बना दिया।

लोग समझने लगे थे रावण, बुलाते थे लंकेश- 
रामायण में शानदार अभिनय करने वाले अरविंद त्रिवेदी को लोग असल में रावण समझने लगे थे। चाहने वाले उन्हें लंकेश के नाम से भी पुकारते थे। रामायण के बाद अरविंद्र त्रिवेदी ने डीडी नेशनल के लिए केवल एक और माइथोलॉजिकल सीरियल विश्वामित्र किया था। उन्होंने साल 1991 में भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन कर राजनीति में उतर गए और सफल पारी खेली। 1991 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने गुजरात के साबरकांठा से चुनाव लड़ा और सांसद चुने गए।

 

 

फिल्म प्रमाणन बोर्ड के चेयरमैन भी रहे- 
2002 में अरविंद त्रिवेदी को केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड का चेयरमैन बनाया गया था। अपने अभिनय कौशल का लोहा मनवाने वाले अरविंद त्रिवेदी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। उन्होंने 6 अक्टूबर की सुबह करीब 9.30 बजे हार्ट अटैक की वजह से मुंबई के कांदीवली स्थित निवास पर उनका निधन हो गया। रामायण धारावाहिक में राम और लक्ष्मण का किरदार निभाने वाले अरुण गोविल और सुनील लहरी ने निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया।...Next

 

 

ये भी पढ़ें -

अवतार-2 के साथ मावर्ल्स की 8 सुपरहीरो फिल्में आ रहीं, रिलीज डेट देखें

फेस्टिव सीजन में बॉक्स ऑफिस पर टकराएंगी सुपरस्टार्स की 11 फिल्में

2022 में रिलीज होंगी बड़े बजट और सुपरस्टार्स से भरी 20 फिल्में, ये रही लिस्ट

OTT और थिएटर्स में आने वाली हैं 7 और हॉरर-थ्रिलर फिल्में, लिस्ट देखें

बुसान फेस्टिवल में दो बॉलीवुड फिल्में, अक्टूबर में होगी अवॉर्ड की घोषणा

जंग, साहस और फतेह की सच्ची कहानियां लेकर आ रहीं ये 9 फिल्में