Menu
blogid : 319 postid : 1392657

महात्मा गांधी पर अब तक बनी हैं इतनी फिल्में, फेवरेट लिस्ट में शामिल हुई ये फिल्में

2 अक्टूबर 1869 को गुजरात में जन्में मोहनदास करमचंद गांधी ने स्वतंत्रता के वक्त किए गए अपने योगदान से इतिहास के पन्नों पर हमेशा के लिए अपना नाम सुनहरे अक्षरों से लिखवा लिया। उनके जन्मदिन को गांधी जयंती के तौर पर मनाया जाता है. उन्होंने ही लोगों को अंहिसा के मार्ग पर चलकर भी जीतने का मंत्र लोगों को दिया था। उन्होंने ही बताया था कि बिना लड़े भी जंग जीती जा सकती है। इतना ही नहीं फिल्म इंडस्ट्री भी स्वतंत्रता के लिए किए गए उनके योगदान को नहीं भूली और उन पर कई फिल्में बनाईं गईं।

Shilpi Singh
Shilpi Singh2 Oct, 2018

 

 

 

 'गांधी'

 

इसके बाद गांधी पर कई फिल्में बनी जिनमें 1982 में रिलीज हुई फिल्म 'गांधी' में बेन किंग्सले ने उनकी भूमिका निभाई थी और फिल्म को रिचर्ड एटनबरो ने डायरेक्ट किया था। गांधी के जीवन पर बनी इस फिल्म को ऑस्कर में कई अवॉर्ड्स मिले। फिल्म में बेन ने गांधी की भूमिका को बखूबी निभाया था. हालांकि, इसके बाद भी बॉलीवुड में अलग-अलग नामों के साथ गांधी पर फिल्में बनने का सिलसिला चलता रहा। 1996 में रिलीज हुई फिल्म 'द मेकिंग ऑफ महात्मा' में रजित कपूर ने यंग गांधी की भूमिका निभाई थी। फिल्म को श्याम बेनेगल ने डायरेक्ट किया था और फिल्म साउथ अफ्रिका में गांधी के बिताय गए 21 सालों पर आधारित थी।

गांधी माइ फादर

महात्मा गांधी और उनके बेटे हरि लाल के रिश्तों पर साल 2007 में फिरोज अब्बास मस्तान की डायरेक्शन में गांधी माइ फादर फिल्म रिलीज हुई। इस फिल्म में गांधी जी का किरदार दर्शन जरीवाला ने निभाया, इस किरादर के लिए दर्शन को राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला।

 

द मेकिंग ऑफ गांधी

 

श्याम बेनेगल ने महात्मा गांधी की जिंदगी पर 'द मेकिंग ऑफ गांधी' फिल्म बनाई। फिल्म में गांधी का किरदार रजित कपूर ने निभाया। फिल्म में मोहनदास कर्मचंद गांधी के महात्मा बनने की कहानी को बखूबी दिखाया गया, फिल्म 1996 में रिलीज हुई थी।
नसीरुद्दीन ने भी बखूबी निभाया था गांधी का किरदार
इसके बाद 2001 में रिलीज हुई फिल्म 'हे राम' में नसीरुद्दीन शाह ने गांधी की भूमिका निभाई थी। इस फिल्म को कमल हासन ने बनाया है और फिल्म में नसीरुद्दीन ने गांधी के किरदार को काफी खूबसूरती से निभाया। उनकी आवाज, सलीका, यहां तक की पूरा लुक सब बिलकुल गांधी जैसा ही था।

 

लगे रहो मुन्ना भाई

 

यहां तक कि 'लगे रहो मुन्ना भाई' ऐसी फिल्म है जिसमें गांधी की विचारधारा को काफी अलग तरीके से प्रस्तुत किया है। फिल्म में काफी मनोरंजक तरीके से गांधी को बड़े पर्दे पर उतारा गया है। फिल्म में संजय दत्त उर्फ मुन्ना भाई, गांधी की विचारधारा पर चलते हैं और उन्हें कुछ भी गलत करने पर बार-बार बापू नजर आते है। इस फिल्म को लोगों ने काफी पसंद किया था।...Next

 

Read More:

कॉमेडियन भारती और उनके पति को हुआ डेंगू, इस बीमारी से हो चुकी है मशहूर निर्देशक की मौत

हिंदी ही नहीं इन भाषाओं में भी खेला जाता है 'कौन बनेगा करोड़पति', ये स्टार करते हैं होस्ट

जानें क्या कर रहे हैं बिग बॉस में करोड़ो जितने वाले विजेता, कुछ के पास नहीं है काम