Menu
blogid : 3738 postid : 644463

जूही चावला: 25 साल बाद भी सक्रिय है ये अभिनेत्री

महत्वपूर्ण दिवस
Special Days
  • 1020 Posts
  • 2122 Comments

फिल्मों में आमिर, सलमान, शाहरुख और अक्षय के बारे ऐसा कहा जाता है कि ये बॉलीवुड के ऐसे सुपरस्टार हैं जो लगातार 20 सालों से अपने कॅरियर को सफलतापूर्वक आगे बढ़ा रहे हैं. इनके साथ अपने कॅरियर की शुरुआत करने वाली कई अभिनेत्रियां गुमनामी की अंधेरे में खो गई हैं. इनमें से कुछ अभिनेत्रियां तो गाहे बगाहे फिल्मों में दिख जाती है लेकिन जो सक्रिय रूप से आज भी फिल्मों में काम कर रही हैं वह एक-दो ही हैं. उनमें से एक हैं अपनी हंसी और चुलबुलेपन के लिए मशहूर अभिनेत्री जूही चावला. जूही बहुत जल्द ही अपनी नई फिल्म 'गुलाबी गैंग' में नजर आएंगी.

Juhi Chawla‘गुलाबी गैंग’ में एक अलग तरह की भूमिका

अब कई रोमांटिक और कॉमेडी फिल्म कर चुकी जूही चावला फिल्म ‘गुलाबी गैंग’ में एक अलग तरह की भूमिका में दिखेंगी. इस फिल्म में जूही चावला के साथ-साथ अपने जमाने की प्रमुख अभिनेत्री माधुरी दीक्षित, अभिनेता नसीरुद्दीन शाह और अरशद वारसी भी दिखेंगे. गुलाबी गैंग से पहले जुही चावला ने ‘सन ऑफ सरदार’, ‘हम हैं राही कार के’ में काम कर चुकी हैं.

जूही चावला का जीवन

जूही चावला का जन्म लुधियाना, पंजाब में 13 दिसंबर, 1967 को हुआ था. वह डॉ. एस. चावला और मोना चावला की पहली संतान हैं. उन्होंने लुधियाना से ही अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी की. इसके बाद उनका परिवार मुंबई आ गया. मुंबई में उन्होंने सिडेनहम कॉलेज से ग्रेजुएशन पूरी की.

1984 में उन्होंने मिस इंडिया का खिताब जीता. इसके अलावा उन्होंने 1984 के ही मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में बेस्ट कॉस्ट्यूम अवार्ड भी जीता. सौंदर्य प्रतियोगिताओं में सफलता पाने के बाद उन्होंने बॉलिवुड का रूख किया.

जूही चावला का कॅरियर

साल 1987 में जूही चावला पहली बार फिल्म ‘सल्तनत’ में नजर आईं. हालांकि फिल्म सफल नहीं हुई. इसके बाद आई फिल्म ‘कयामत से कयामत तक’ ने जूही चावला को प्रसिद्धि के शिखर पर पहुंचा दिया. इस फिल्म में उनके अभिनय की बहुत सराहना हुई और उन्हें पहली बार फिल्मफेयर में नामांकन मिला. इसके बाद 1990 में आई फिल्म ‘प्रतिबंध’. फिल्म सुपरहिट रही और एक बार फिर उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के पुरस्कार के लिए फिल्मफेयर में नामांकित किया गया. इसके बाद उन्होंने स्वर्ग, आइना, लुटेरे और हम हैं राही प्यार के जैसी फिल्में की. फिल्म ‘हम है राही प्यार के’ में उनके बेमिसाल अभिनय के लिए उन्हें फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

1993 में आई फिल्म ‘डर’ में जूही चावला ने बेमिसाल अभिनय किया. यह फिल्म वैसे तो शाहरुख की साइको एक्टिंग के लिए जानी जाती है पर शाहरुख की मौजूदगी के बाद भी जूही ने सबका ध्यानाकर्षित किया. हालांकि 1994 से 1996 तक उनकी अधिकतर फिल्में फ्लॉप रहीं पर इसी बीच आई फिल्म “दरार” एक सफल फिल्म जरूर रही. 1997 में उनकी कई हिट फिल्में आईं जिसमें अधिकतर में वह कॉमेडी किरदार में दिखीं. इस साल उनकी ‘यश बॉस’, ‘दीवाना मस्ताना’ और ‘इश्क’ जैसी फिल्में आईं.

साल 2000 के बाद जूही चावला की अधिकतर आर्ट फिल्में ही देखने को मिलीं जिनमें तीन दीवारें, साढ़े सात फेरे, झंकार बीट्स और माई ब्रदर निखिल मुख्य हैं. साथ ही वह सलामे-इश्क, बस एक पल, स्वामी, भूतनाथ और क्रेजी 4 जैसी फिल्मों में भी नजर आई हैं.

आमिर और शाहरुख के साथ हिट जोड़ी

आमिर खान के साथ उनकी जोड़ी हिंदी फिल्मों की सबसे अधिक पसंदीदा जोडि़यों में एक है. दोनों ने साथ कयामत से कयामत तक, हम हैं राही प्यार के और इश्क जैसी हिट फिल्में दी हैं. आमिर की ही तरह जूही और शाहरुख खान की भी फिल्मों ने भी बॉक्स ऑफिस पर सफलता पाई. इन फिल्मों फिर भी दिल है हिंदुस्तानी, राजू बन गया जेंटलमैन, येस बॉस आदि. हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में शाहरुख के प्रारंभिक मित्रों में जूही का नाम शुमार होता है.