मुखिया के शिक्षक भाई हत्या से आवापुर में गम व गुस्से में लोग

सीतामढ़ी। आवापुर दक्षणी पंचायत के आवापुर गांव में हुई हत्या को लेकर आक्रोश व दहशत का माहौल है।

JagranPublish: Sun, 23 Jan 2022 11:38 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 11:38 PM (IST)
मुखिया के शिक्षक भाई हत्या से आवापुर में गम व गुस्से में लोग

सीतामढ़ी। आवापुर दक्षणी पंचायत के आवापुर गांव में हुई हत्या को लेकर आक्रोश व दहशत का माहौल है। मामले में जहां एक भी आरोपी की गिरफ्तारी नही हो सकी है। दूसरे दिन रविवार को एक आरोपित व पूर्व सरपंच के दरवाजे पर रखी पुआल में आग लगने की खबर आई। आग किसने व कैसे लगाई कोई कुछ समझ नहीं पाया। पुलिस कैंप कर रही है। देर शाम तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की जा सकी थी।

--------------------------------------- अंतिम यात्रा में काफी संख्या में शामिल हुए लोग : दूसरे दिन शाम 5 बजे मृतक नसरुल्लाह के शव को सुपुर्द-ए-खाक किया गया। बड़ी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने शिक्षक को नम आंखों से विदाई दी। इससे पहले पोस्टमार्टम के बाद शव गांव लाया गया। स्वजनों में चीत्कार मच गया। पत्नी, बच्चों एवं अन्य स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। उधर, गांव में दहशत का आलम ऐसा है कि सभी आरोपी और अधिकतर स्वजन घर छोड़ फरार हैं। आमलोग घटना को लेकर कुछ भी बोलने से परहेज कर रहे हैं।

--------------------------------------- पुलिस ने करवाई की होती तो नहीं होती घटना : घटना को लेकर गांव में पुलिस की कार्यशैली को लेकर काफी आक्रोश है। मृतक के बड़े भाई व मुखिया जकीउल्लाह जकी अहमद ने बताया कि उनके भाई की हत्या नहीं होती अगर पुलिस पहले से दर्ज कांडों में आरोपियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की होती। बताते हैं कि चुनाव से पहले गोलीकांड हो या कई संगीन मामला किसी में पुपरी पुलिस की भूमिका सही नहीं रही। उन्होंने पुलिस पर आरोपियों के साथ मिलीभगत का आरोप लगाया। थानाध्यक्ष को निलंबित करने, आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

--------------------------------------- आश्वासन के बाद देर रात सड़क जाम हटाया गया : हत्या से आक्रोशितों ने पुपरी-सीतामढ़ी पथ को करीब 9 घंटे तक जाम रखा। आवापुर चौक पर दोपहर सड़क जाम किया गया जो रात के 11 बजे समाप्त हो सकी। सड़क पर आगजनी कर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन करते रहे। थानाध्यक्ष के निलंबन व हत्यारों की गिरफ्तारी तक सड़क जाम पर अडिग रहे। पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। बाद में विधायक दिलीप राय भी पहुंचे। उन्होंने अधिकारियों से बात की। उसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा गया।

--------------------------------------- चाकू गोद कर बेरहमी से की गई नसुल्लाह की हत्या : बताते चलें कि पूर्व रंजिश को लेकर शनिवार को आवापुर गांव में दो गुटों के बीच खूनी संघर्ष हो गया था। हरबे हथियार से लैस एक दर्ज लोगों ने पंचायत के मुखिया जकीउल्लाह के भाई नसरुल्लाह की पेट मे चाकू गोद हत्या कर दी थी। इस घटना में आधा दर्जन लोग जख्मी हो गए थे। सभी को इलाज के लिए पीएचसी में भर्ती कराया गया। इसके बाद लोगों का आक्रोश फुट पड़ा। आकोशित ग्रामीणों ने सबसे पहले थाना के समीप शव रख सड़क जाम कर थाने का घेराव व विरोध प्रदर्शन किया। इसके बाद शव को लेकर आवापुर चौक पर सड़क जाम कर आगजनी करने लगे। इसके कारण पुपरी-सीतामढ़ी पथ देर रात तक जाम रहा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम