जेपीयू छपरा के पीजी विभागाध्यक्षों को पेपर सेट करने का टास्क

जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. फारूक अली ने शुक्रवार को स्नातकोत्तर विभागाध्यक्षों के साथ बैठक आनलाइन वर्चुअल बैठक की। इसमें कुलपति ने कहा कि स्नातकोत्तर विभाग की परीक्षाएं करीब दो साल पीछे चल रही हैं। इसको लेकर कुलपति प्रो. फारूक अली ने सभी पीजी विभागाध्यक्षों से आग्रह किया कि वे अपने विषय के महत्वपूर्ण टापिक को चिह्नित करें। 2018 - 2020 एवं 2019 - 2021 का सेमेस्टर का समय जनवरी से लेकर जून तक का है। इसी बीच मिड टर्म आदि सभी परीक्षाएं एवं इन्टर्नल परीक्षा तथा अन्य कई औपचारिकताएं पूरी करनी होती हैं। अभी पर्याप्त समय है। आप शीघ्र ही पेपर सेटिग और मोडरेशन का कार्य कर लें।

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 10:57 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 10:57 PM (IST)
जेपीयू छपरा के पीजी विभागाध्यक्षों को पेपर सेट करने का टास्क

सारण। जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. फारूक अली ने शुक्रवार को स्नातकोत्तर विभागाध्यक्षों के साथ बैठक आनलाइन वर्चुअल बैठक की। इसमें कुलपति ने कहा कि स्नातकोत्तर विभाग की परीक्षाएं करीब दो साल पीछे चल रही हैं। इसको लेकर कुलपति प्रो. फारूक अली ने सभी पीजी विभागाध्यक्षों से आग्रह किया कि वे अपने विषय के महत्वपूर्ण टापिक को चिह्नित करें। 2018 - 2020 एवं 2019 - 2021 का सेमेस्टर का समय जनवरी से लेकर जून तक का है। इसी बीच मिड टर्म, आदि सभी परीक्षाएं एवं इन्टर्नल परीक्षा तथा अन्य कई औपचारिकताएं पूरी करनी होती हैं। अभी पर्याप्त समय है। आप शीघ्र ही पेपर सेटिग और मोडरेशन का कार्य कर लें। फरवरी और मार्च में बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के बोर्ड की परीक्षाएं होनी हैं। बोर्ड की परीक्षा खत्म होन के बाद पीजी की परीक्षा प्रारंभ की जा सके। कुलपति ने कहा कि सभी अध्यक्ष अपना सहयोग करेंगे तो हम निश्चित रूप से पीजी की परीक्षाएं संचालित करके सत्र को नियमित कर सकते है। बैठक में दर्शन शास्त्र के पीजी हेड डा. हरिश्चंद्र, हिन्दी की पीजी हेड डा. अनिता, जंतुविज्ञान के हेड डा. राणा विक्रम सिंह, मनोविज्ञान के हेड डा. आरडी राय, वनस्पति शास्त्र के हेड डा. सफराज अहमद, इतिहास के हेड डा. सैय्यद रजा, रसायन शास्त्र के हेड डा. उदय अरविद, वाणिज्य संकाय के हेड डा. हरेंद्र कुमार सिंह आदि मौजूद थे। स्नातक प्रथम खंड का रिजल्ट प्रकाशित करने की मांग

जासं, छपरा : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने स्नातक प्रथम वर्ष सत्र -2019 -20 के लंबित परीक्षा फल को प्रकाशित करने की मांग की है। जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति फारूक अली को शुक्रवार को स्मार पत्र सौंपा गया। उसमें कहा गया है कि स्नातक तृतीय वर्ष के छात्रों के लिए विश्वविद्यालय द्वारा विशेष परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। इसका परीक्षा फार्म भरने की तिथि 24 जनवरी से निर्धारित की गई है। इस स्थिति में वैसे छात्र जिनका प्रथम वर्ष में बैक लगा हो और उन्होंने दोबारा परीक्षा दी थी, उनका अंकपत्र नहीं आने की वजह से वैसे छात्र स्नातक तृतीय वर्ष विशेष परीक्षा में सम्मिलित नहीं हो पाएंगे। इसलिए छात्र हित में स्नातक प्रथम वर्ष सत्र 2019-20 के परीक्षा परिणाम को अविलंब प्रकाशित की जाए। स्मार पत्र सौंपने वालों में प्रमुख रूप से विश्वविद्यालय संयोजक रवि पांडेय, विश्वविद्यालय परिसर अध्यक्ष विशाल कनोडिया, जिला संयोजक रजनीकांत सिंह, विश्वविद्यालय परिसर उपाध्यक्ष रितेश प्रकाश, नगर सहमंत्री रविशंकर चौबे, रितेश रंजन प्रमुख थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept