दैनिक मजदूर के शव के साथ विश्वविद्यालय के गेट को किया जाम

मुआवजे की मांग को लेकर दैनिक श्रमिक के शव के साथ नाराज लोगों ने डा. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विवि पूसा मुख्य द्वार को घंटों जाम रखा। भाकपा माले के नेतृत्व में स्वजनों द्वारा श्रमिक की मौत की जांच कराने व 20 लाख रुपये मुआवजा सहित परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की जा रही थी।

JagranPublish: Sat, 11 Dec 2021 01:53 AM (IST)Updated: Sat, 11 Dec 2021 01:53 AM (IST)
दैनिक मजदूर के शव के साथ विश्वविद्यालय के गेट को किया जाम

समस्तीपुर । मुआवजे की मांग को लेकर दैनिक श्रमिक के शव के साथ नाराज लोगों ने डा. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विवि पूसा मुख्य द्वार को घंटों जाम रखा। भाकपा माले के नेतृत्व में स्वजनों द्वारा श्रमिक की मौत की जांच कराने व 20 लाख रुपये मुआवजा सहित परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की जा रही थी। स्वजनों का कहना है कि श्रमिक की मौत पेड़ से गिरकर नहीं, बल्कि जेसीबी की ठोकर लगने से हुई है। पेड़ के नीचे शव को रख दिया गया, ताकि लोग पेड़ से गिरकर मौत समझेंगे। स्वजन विश्वविद्यालय प्रशासन पर हत्या का आरोप लगा रहे थे। उनका कहना है कि गुरुवार की हाजिरी भी उनकी नहीं बनी हुई है। गेट को जाम करने के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन के साथ समझौता हुआ। विश्वविद्यालय द्वारा 50 हजार नकद और 26 दिन काम देने के आश्वासन पर मृतक के नाराज स्वजन माने, हालांकि विश्वविद्यालय परिसर में श्रमिक की मौत को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं चल रही थीं। मौके पर थाना अध्यक्ष निशा भारती सहित अन्य पुलिस बल मौजूद थे। बल्लीपुर से शादी समारोह के कर्ता-धर्ता गिरफ्तार

समस्तीपुर : जहरीली शराब कांड मामले में बल्लीपुर निवासी प्रभात भारती और श्यामनाथ कामती की मौत को लेकर एक प्राथमिकी प्रभात के चाचा बिदु मंडल के बयान पर दर्ज की गई थी। इसमें शादी समारोह आयोजित करने वाले गृह स्वामी समेत पांच को नामजद किया गया था। इसमें राजकुमार कामती को पुलिस ने गिरफ्तार कर शुक्रवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। प्राथमिकी में कहा गया था कि इसी शादी समारोह में दोनों मृतक खाने-पीने के बाद घर लौटे थे। उनके बयान पर गैर इरादतन हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई थी। आशा और उसकी पुत्री के साथ मारपीट

विभूतिपुर थाना क्षेत्र के खदियाही वार्ड एक निवासी बालदेव राय की पत्नी मंजू कुमारी ने कतिपय लोगों द्वारा मारपीट कर बेइज्जत कर दिए जाने को लेकर स्थानीय थाना में एक प्राथमिकी दर्ज करवाई है। इसमें गांव के हीं राम सुदीस, सुधांशु राय, चंदन राय, रेखा देवी और रिकी कुमारी को नामजद किया है। कहा है कि आरोपितों ने उसके निजी जमीन पर घेरा लगा दिया। आशा मंजू कुमारी की पुत्री काजल कुमारी घेरा खोलने गई। इस बात पर आरोपितों ने जान मारने की नीयत से कुदाल से हमला कर बेरहमी पूर्वक मारपीट की। मोबाइल छीनकर क्षतिग्रस्त कर दिया। कहा है कि सीएचसी में उसका आना-जाना रहता है। आरोपित उसे उठा लेने की धमकी देता है। थानाध्यक्ष चंद्र कांत गौरी ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept