दो करोड़ की लागत से गड़ौल उच्च विद्यालय का बनेगा भवन : विधायक

संसू महिषी (सहरसा) प्रखंड क्षेत्र के भवनविहीन उच्च विद्यालय में दो करोड़ दो लाख रुपये की लागत से दो फरवरी से भवन निर्माण का कार्य शुरू किया जाएगा।

JagranPublish: Tue, 25 Jan 2022 05:06 PM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 05:06 PM (IST)
दो करोड़ की लागत से गड़ौल उच्च 
विद्यालय का बनेगा भवन : विधायक

संसू, महिषी (सहरसा) : प्रखंड क्षेत्र के भवनविहीन उच्च विद्यालय में दो करोड़ दो लाख रुपये की लागत से दो फरवरी से भवन निर्माण का कार्य शुरू किया जाएगा। उक्त बातें मंगलवार को गड़ौल उच्च विद्यालय प्रागंण में जनसभा को संबोधित करते हुए विधायक गुंजेश्वर साह ने कही। दो फरवरी को विधायक द्वारा भवन निर्माण कार्य का शुभारंभ किया जाएगा।

ज्ञात हो कि कोसी तटबंध के अंदर छात्रों को उच्च शिक्षा की सुविधा के लिए 1967 में सरकार द्वारा गड़ौल में उच्च विद्यालय खोला गया था। अपने शुरुआती दौर में इस उच्च विद्यालय से काफी छात्र लाभांवित हुआ करते थे, परंतु पिछले 10 वर्षो से भवन के अभाव में इस उच्च विद्यालय में पठन पाठन लगभग ठप सा पड़ गया है। वर्तमान समय में इस उच्च विद्यालय में नामांकित 350 छात्र-छात्राओं के पठन-पाठन के लिए महज दो कमरे हैं जिनमें से एक कमरे का उपयोग विद्यालय प्रशासन द्वारा कार्यालय के रूप में कर रही है। एक कमरे में 350 छात्रों को पढ़ाने के लिए इस विद्यालय में सात शिक्षक पदस्थापित हैं जिससे छात्रों को समुचित शिक्षा नहीं मिल पा रही थी। ग्रामीणों की मांग से विधायक के प्रयास से विद्यालय भवन के लिए दो करोड़ की लागत से भवन निर्माण के लिए संवेदक को कार्य सौंपा गया है। इस दौरान ग्रामीणों द्वारा क्षेत्र में जलजमाव, एप्रोच पथ, बिजली की समस्या सहित अन्य समस्याओं से विधायक को अवगत करवाया गया। इस दौरान जिला शिक्षा पदाधिकारी जयशंकर ठाकुर, विभाग के कार्यपालक अभियंता, पंचायत के मुखिया राकेश रौशन चौधरी, पूर्व मुखिया चिरंजीव चौधरी, प्रखंड जदयू अध्यक्ष मनोज कुमार, विधायक प्रतिनिधि नागेश्वर साह, प्रो.वसी अहमद, मो.हिदायतुल्ला ,कृष्णमोहन यादव, शंभू यादव सहित सभी बुद्धिजीवी ग्रामीण उपस्थित थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept