चुनाव के बाद हार-जीत की गणना में जुटे समर्थक और प्रत्याशी

संस सिमरीबख्तियारपुर (सहरसा) सलखुआ प्रखंड में बुधवार को संपन्न हुए पंचायत चुनाव के बाद गुरुवार को दिनभर चाय पान की दुकान सहित चौक-चौराहों पर समर्थक सहित आम मतदाता मतदान का जोड़-घटाव कर जीत का दावा करते नजर आ रहे हैं।

JagranPublish: Thu, 09 Dec 2021 05:33 PM (IST)Updated: Thu, 09 Dec 2021 05:33 PM (IST)
चुनाव के बाद हार-जीत की गणना
में जुटे समर्थक और प्रत्याशी

संस, सिमरीबख्तियारपुर (सहरसा) : सलखुआ प्रखंड में बुधवार को संपन्न हुए पंचायत चुनाव के बाद गुरुवार को दिनभर चाय पान की दुकान सहित चौक-चौराहों पर समर्थक सहित आम मतदाता मतदान का जोड़-घटाव कर जीत का दावा करते नजर आ रहे हैं। जोड़- घटाव करने के बाद कई प्रत्याशी आशान्वित महसूस कर रहे हैं तो कई प्रत्याशी के चेहरे की मुस्कुराहट अभी से मंद पड़ती नजर आ रही है। सबसे अधिक मुखिया पद के निवर्तमान प्रत्याशी के समर्थकों के द्वारा जोड़-घटाव का गणना कर अपनी अपनी स्थिति का आकलन करने में जुटे हुए हैं। कई निवर्तमान मुखिया को भरोसा है कि किए गए कार्य के आधार पर जनता उन्हें एक बार फिर सेवा करने का अवसर देगी। वही नए प्रत्याशी भी जीत के प्रति आश्वस्त नजर आ रहे हैं। सलखुआ प्रखंड में जिला परिषद पद के दो सदस्य हैं इस पर भी निवर्तमान सहित नए चेहरे अपनी-अपनी जीत का दावा करते नजर आ रहे हैं। गौरतलब हो कि सलखुआ प्रखंड में पंचायत चुनाव के 267 विभिन्न पदों के लिए चुनावी मैदान में कुल 1408 प्रत्याशी चुनाव मैदान में डटे हुए थे। जिनके भाग्य का फैसला बुधवार को मतदाताओं ने इवीएम में कैद कर दिया है। शुक्रवार को जिला मुख्यालय सहरसा में सलखुआ प्रखंड के पंचायत चुनाव की मतगणना की जाएगी। अंतिम तौर पर सबकी निगाहें मतगणना पर टिकी है। बताते चलें कि जिला में नौ प्रखंडों में हुए पंचायत चुनाव अधिकतर निवर्तमान मुखिया अपनी कुर्सी बचाने में नाकामयाब रहे। इसी को आधार मान सलखुआ प्रखंड में भी निवर्तमान मुखिया अंदर ही अंदर सहमे हुए हैं।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept