गांधी मैदान में बने छह अस्पताल, 97 चिकित्साकर्मी रहेंगे तैनात

गणतंत्र दिवस पर बुधवार को गांधी मैदान में आयोजित राजकीय समारोह में चिकित्सकीय इमरजेंसी से निपटने की पुख्ता व्यवस्था की गई है। इसके लिए चारो दिशाओं में एक-एक बेड गेट नंबर पांच जहां से सभी लोग प्रवेश करेंगे पांच बेड और नियंत्रण कक्ष के पास दो बेड का अस्पताल बनाया गया है। इसके अलावा चार एडवांस लाइफ सपोर्ट समेत 11 एंबुलेंस तैनात रहेंगी।

JagranPublish: Wed, 26 Jan 2022 02:09 AM (IST)Updated: Wed, 26 Jan 2022 02:09 AM (IST)
गांधी मैदान में बने छह अस्पताल, 
97 चिकित्साकर्मी रहेंगे तैनात

पटना। गणतंत्र दिवस पर बुधवार को गांधी मैदान में आयोजित राजकीय समारोह में चिकित्सकीय इमरजेंसी से निपटने की पुख्ता व्यवस्था की गई है। इसके लिए चारो दिशाओं में एक-एक बेड, गेट नंबर पांच जहां से सभी लोग प्रवेश करेंगे पांच बेड और नियंत्रण कक्ष के पास दो बेड का अस्पताल बनाया गया है। इसके अलावा चार एडवांस लाइफ सपोर्ट समेत 11 एंबुलेंस तैनात रहेंगी। गंभीर हालत की दशा में एम्स, आइजीआइएमएस, आइजीआइसी, पीएमसीएच आदि की इमरजेंसी को हाईअलर्ट पर रहने को कहा गया है। यहां 24 डाक्टरों समेत कुल 97 चिकित्साकर्मियों को तैनात किया गया है। यह जानकारी सिविल सर्जन डा. विभा कुमारी सिंह ने मंगलवार को दी। थर्मल स्कैनिग व हैंड सैनिटाइजेशन के बाद मिलेगा प्रवेश :

समारोह स्थल में प्रवेश के पूर्व कोरोना जांच की व्यवस्था नहीं की गई है। इसके बजाय हर व्यक्ति की थर्मल स्कैनिग की जाएगी और हाथ सैनिटाइज कराने के बाद ही प्रवेश की अनुमति होगी। इसके लिए दस टीमें लगाई गई हैं। कोरोना वारियर्स के लिए अलग दीर्घा :

120 कोरोना वारियर्स को गणतंत्र दिवस समारोह में विशेष रूप से आमंत्रित किया गया है। पटना एम्स, आइजीआइएमएस, पीएमसीएच, एनएमसीएच, सिविल सर्जन और पटना नगर निगम से 20-20 कोरोना वारियर्स की लिस्ट मांगी गई है।

---------------

आज ओपीडी रहेगी बंद, इमरजेंसी हाईअलर्ट पर

जागरण संवाददाता, पटना : गणतंत्र दिवस पर बुधवार को सभी सरकारी अस्पतालों की ओपीडी सेवा बंद रहेगी। चिकित्सकीय आपदा से निपटने के लिए इमरजेंसी सेवा को हाईअलर्ट पर रहने का निर्देश जिलाधिकारी और सिविल सर्जन ने दिया है।

सिविल सर्जन डा. विभा कुमारी सिंह ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर एम्स, आइजीआइएमएस, पीएमसीएच जैसे बड़े अस्पतालों को इस बाबत पत्र लिखा गया है। सभी संस्थानों को अति गंभीर रोगियों के लिए वेंटिलेटर, आइसीयू से लेकर आपरेशन थिएटर तक को अलर्ट मोड में रखने का निर्देश दिया गया है। कोरोना संक्रमितों के लिए सभी हेल्पलाइन नंबर कार्य करते रहेंगे।

पीएमसीएच के प्राचार्य सह प्लास्टिक सर्जरी के विभागाध्यक्ष डा. विद्यापति चौधरी ने बताया कि सर्जिकल व मेडिसिन सर्जरी में मेडिसिन, हड्डी, सामान्य व न्यूरो सर्जरी के विशेषज्ञ मौजूद रहेंगे। स्त्री एवं प्रसूति रोग व शिशु विभाग, ईएनटी व नेत्र रोग की इमरजेंसी भी 24 घंटे कार्यरत रहेगी। एम्स के डा. संजीव कुमार ने बताया कि इमरजेंसी सेवा जारी रहेगी। इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान के निदेशक डा. सुनील कुमार ने बताया कि इमरजेंसी में 24 घंटे रोगियों का उपचार किया जाएगा।

----------

चिकित्सकीय इमरजेंसी

में करें फोन :

-सिविल सर्जन - 9470003600

-पीएमसीएच अधीक्षक - 9470003549

-न्यू गार्डिनर रोड अस्पताल निदेशक : 9470003587

-राजवंशी नगर अस्पताल निदेशक - 9470003586

-राजेंद्र नगर अस्पताल निदेशक- 9470003595

-गर्दनीबाग अस्पताल प्रभारी - 9470003584

-आइजीआइएमएस - 0612-2287225, 2287152

-आइजीआइसी - 0612-2300845, 2371470

---------

कोरोना संक्रमित गंभीर होने पर

इन अस्पतालों में करें फोन

-इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान -9473191807

-पीएमसीएच पटना -0612-2304104 - एनएमसीएच पटना -0612-2630961 - नेताजी सुभाष मेडिकल कालेज बिहटा पटना--9264193990

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept