पंडारक में मुर्गा दुकानदार की गोली मारकर हत्या

बाढ़ अनुमंडल के पंडारक थाना क्षेत्र के ममरखाबाद गांव में रविवार की रात बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

JagranPublish: Mon, 24 Jan 2022 01:30 AM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 01:30 AM (IST)
पंडारक में मुर्गा दुकानदार की गोली मारकर हत्या

पटना। बाढ़ अनुमंडल के पंडारक थाना क्षेत्र के ममरखाबाद गांव में रविवार की रात बाइक सवार बदमाशों ने मुर्गा दुकानदार श्रवण रविदास (40 वर्ष) की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच की। बाढ़ एएसपी अरविद प्रताप सिंह अनुमंडल अस्पताल पहुंचकर स्वजनों से बातचीत की।

जानकारी के अनुसार, श्रवण अपने घर के समीप ही मुर्गा बेचते थे। रविवार की रात दुकान बंद करके घर लौट रहा थे। इसी दौरान घर से कुछ दूर पहले बदमाशों ने गोली मार दी। फायरिग की आवाज सुनने पर पहुंचे लोगों ने घायल श्रवण को अनुमंडल अस्पताल ला रहे थे। अस्पताल ले जाने के दौरान रास्ते में ही मौत हो गई।

श्रवण के पिता लखन रविदास ने बताया कि बेटे का किसी से दुश्मनी नहीं थी। श्रवण की पत्नी आंगनवाड़ी सेविका में काम किया करती हैं। उसके एक पुत्र और दो पुत्री है। घटना की सूचना पाकर अनुमंडल के कई थाना की पुलिस अस्पताल पहुंच गई है और मृतक की लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराए जाने की कवायद में जुट गई है। थानाध्यक्ष ने बताया कि बदमाशों की तलाश की जा रही है।

संसू, बिक्रम : थाना क्षेत्र के नगहर गांव में भूमि विवाद को लेकर एक अधेड़ की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। गांव के 60 वर्षीय बलि यादव ने विवादित जमीन पर पीलर देने से रोका तो विरोधी पक्ष ने लोहे के राड से प्रहार कर बुरी तरह जख्मी कर दिया। इलाज के लिए ले जाने के क्रम में उनकी मौत हो गई। मृतक का बड़ा भाई मोतीलाल यादव ने बताया कि गांव के ही जंगबहादुर यादव की बगल में जमीन है, जिसकी शनिवार को अमीन द्वारा नापी हुई थी । रविवार को उनके बेटों द्वारा पीलर दिया जा रहा था, जिसे एक-दो दिन बाद लगाने की बात कही गई । इसी बीच लोहे का राड लेकर जंगबहादुर यादव के बेटों ने बलि यादव पर प्रहार किया और वे गिर पड़े। गांव में चिकित्सक के पास ले जाने पर उन्होंने मृत घोषित कर दिया। सुचना पर पहुंची पुलिस के द्वारा उन्हें बिक्रम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया, जहां चिकित्सक द्वारा तकनीकी आधार पर एम्स रेफर करने की बात बताते हुए लिखित तौर पर मृत घोषित करने से इंकार किया गया। इस दौरान चिकित्सक के इंकार करने पर स्वजन हंगामा करने लगे। सूचना पाकर पालीगंज एएसपी भी बिक्रम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। बाद में पुलिस एवं स्वजन के दबाव में चिकित्सक ने लिखित तौर पर मृत घोषित कर दिया। स्वजन ने हत्या का आरोप लगाते हुए चार लोगों को नामजद कर पुलिस से शिकायत की है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस जांच में जुट गई है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept