This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

बिजली बिल बचाने के लिए पटना वाले अपना रहे पांच हजार रुपए की तरकीब, कंपनी को लग गई है भनक

पटना के कुछ बिजली उपभोक्ता मीटर बाईपास कर बिजली चुराने की लत नहीं छोड़ पा रहे हैं। हालांकि स्‍मार्ट मीटर लगाए जाने के बाद ऐसा करना नामुमकिन हो गया है। बिजली उपभोक्‍ता कुछ मैकेनिक्‍स को रुपए देकर अपने स्‍मार्ट मीटर में भी बाईपास करवा ले रहे हैं।

Shubh Narayan PathakWed, 21 Jul 2021 01:32 PM (IST)
बिजली बिल बचाने के लिए पटना वाले अपना रहे पांच हजार रुपए की तरकीब, कंपनी को लग गई है भनक

पटना, जागरण संवाददाता। पटना के कुछ बिजली उपभोक्ता मीटर बाईपास कर बिजली चुराने की लत नहीं छोड़ पा रहे हैं। हालांकि स्‍मार्ट मीटर लगाए जाने के बाद ऐसा करना नामुमकिन हो गया है। बिजली उपभोक्‍ता कुछ मैकेनिक्‍स को रुपए देकर अपने स्‍मार्ट मीटर में भी बाईपास करवा ले रहे हैं। इसके लिए मीटर बाईपास करने वाले पांच हजार रुपए तक भी ले लेते हैं। हालांकि ये पांच हजार रुपए उपभोक्‍ता को काई फायदा पहुंचाने की बजाय बड़ा झटका दे रहे हैं। जानकारी मिलने के बाद बिजली कंपनी ने इन पर शिकंजा कसने की कवायद तेज कर दी है। कंपनी की एसटीएफ के मुख्य अभियंता साजिद अली ने गिरोह के गुर्गे को जल्द पकडऩे के लिए रणनीति बनाने के निर्देश दिए हैं।

डाकबंगला आपूर्ति प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता विक्रम कुमार ने बताया कि 13 स्मार्ट प्री-पेड उपभोक्ताओं के यहां बिजली चोरी पकड़ी गई है। मीटर के बाडी पर अल्ट्रा सोनिक वेङ्क्षल्डग है। वेङ्क्षल्डग खुलते ही विद्युत कंपनी के पास मैसेज पहुंच जाता है। अब तक जितने भी उपभोक्ताओं के यहां चोरी पकड़ी गई है, सबके संबंध में मैसेज आया है। गिरोह के सदस्य मीटर के आंतरिक हिस्से में बाइपास कर देते हैं। जितने भी उपभोक्ता मीटर में छेड़छाड़ कराएंगे, उसकी सूचना विद्युत कंपनी के पास आ जा रही है। पाटिलपुत्र आपूर्ति प्रमंडल में मीटर को रिमोट से नियंत्रित करने सहित कुल छह मामले पकड़े गए हैं।

  • पांच हजार में सौदा कर स्मार्ट मीटर से कर रहे हैं छेड़छाड
  • छेड़छाड़ करने वाले गिरोह की तलाश में जुटी विद्युत कंपनी की एसटीएफ
  • अब तक 13 स्मार्ट प्री-पेड उपभोक्ताओं के यहां पकड़ी गई बिजली चोरी

छेड़छाड़ करने वाले पकड़ जाएंगे

पटना विद्युत आपूर्ति प्रतिष्ठान के महाप्रबंधक दीलीप कुमार सिंह ने बताया कि स्मार्ट मीटर से चोरी असंभव है। छेड़छाड़ करने वालों को पकड़ में आना ही है। एसटीएफ की टीम स्थानीय अभियंताओं के साथ मिलकर छापेमारी कर रही है। मीटर में छेड़छाड़ करने वालों से न्यू मीटर की राशि के साथ-साथ ऊर्जा चोरी की राशि की वसूली की जा रही है। स्मार्ट प्री-पेड मीटर पटना, मुंगेर, अरवल, कांटी, मोतिहारी, बेतिया, दलङ्क्षसग सराय, रोसड़ा, बेगूसराय आदि शहरों में लग रहा है। करीब डेढ़ लाख उपभोक्ताओं के यहां स्मार्ट प्री-पेड मीटर लगे हैं।

Edited By: Shubh Narayan Pathak

पटना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner