This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

बीपीएससी से चयनित अभ्यर्थियों को एक और मौका, एक दिसंबर को मुख्यालय में होगा सत्यापन

नियुक्ति के लिए प्रमाण-पत्रों के सत्यापन में पिछड़ गए अभ्यर्थियों को राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग एक और मौका दे रहा है। अब इनके प्रमाण-पत्रों का सत्यापन एक दिसंबर को मुख्यालय में होगा। इसके लिए एक विशेष कार्य पदाधिकारी को तैनात किया गया है।

Akshay PandeyFri, 26 Nov 2021 07:24 PM (IST)
बीपीएससी से चयनित अभ्यर्थियों को एक और मौका, एक दिसंबर को मुख्यालय में होगा सत्यापन

राज्य ब्यूरो, पटना : नियुक्ति के लिए प्रमाण-पत्रों के सत्यापन में पिछड़ गए अभ्यर्थियों को राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग एक और मौका दे रहा है। अब इनके प्रमाण-पत्रों का सत्यापन एक दिसंबर को मुख्यालय में होगा। इसके लिए एक विशेष कार्य पदाधिकारी को तैनात किया गया है। विभागीय सूत्रों ने बताया कि इनके लिए आखिरी मौका है। इसमें चूक गए तो आयोग अपनी अनुशंसा रद कर देगा। यह नियुक्तियां बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) ने की थीं। 

  • - प्रमाण-पत्रों के सत्यापन में पिछड़े अभ्यर्थियों को मिलेगा एक मौका
  • - प्रमाण-पत्रों का सत्यापन आधा-अधूरा रहने वालों की संख्या है 37

478 अधिकारियों के प्रमाण-पत्रों का सत्यापन किया गया

मालूम हो कि बिहार लोक सेवा आयोग ने इस विभाग के लिए बड़े पैमाने पर राजस्व अधिकारियों का चयन किया है। विभाग में प्रमाण-पत्रों के सत्यापन के लिए 21 से 24 सितंबर के बीच कार्यक्रम आयोजित किया गया। चार दिनों में 478 अधिकारियों के प्रमाण-पत्रों का सत्यापन किया गया। इन्हें नियुक्ति-पत्र मिल गया। प्रशिक्षण भी चल रहा है, लेकिन 44 अभ्यर्थियों के प्रमाण-पत्रों का सत्यापन नहीं हो सका। 37 ऐसे थे, जिनके पास सत्यापन के समय पूरा प्रमाण-पत्र नहीं था। नव नियुक्त राजस्व अधिकारियों को ट्रेनिंग दी जा रही है। उन्हें टास्क दिया गया है कि विभाग की छवि में सुधार करना उनकी प्राथमिकता है। अधिकारियों का कहना है कि जानकारी से ही समझदारी बढ़ती है, ऐसे में यह जरूरी है। इस कार्यक्रम का आयोजन राजधानी पटना के साथ ही गया और सोनपुर में किया जा रहा है।

प्रमाण-पत्रों का सत्यापन आधा-अधूरा रहने वालों को भी मौका

इनके अलावा उन अभ्यर्थियों को भी एक मौका दिया जा रहा है, जिनके प्रमाण-पत्रों का सत्यापन आधा-अधूरा हुआ। इनकी संख्या 37 है। इस श्रेणी के अभ्यर्थियों को दो दिसंबर तक बचे हुए प्रमाण-पत्रोंं का सत्यापन करा लेना है। इनके लिए भी यह आखिरी मौका है। हालांकि, इन्हें पिछले महीने भी इस काम के लिए बुलाया गया था। 

Edited By: Akshay Pandey

पटना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!