This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

HIGHLIGHTS Bihar Coronavirus News : बिहार में 23 हजार पार गया कोरोना संक्रमण, 24 घंटे में मिले 4786 नए मामले

HIGHLIGHTS Bihar Coronavirus News बिहार में कोरोना संक्रमण की स्थिति विस्‍फोटक होती जा रही है। बीते सात दिनों के दौरान 18466 मरीज मिले हैं तो 54 की मौत भी हो गई है। बिहटा के अस्‍पताल को चालू कराने के लिए बिहार सरकार ने सेना से 50 डॉक्‍टर मांगे हैं।

Shubh Narayan PathakWed, 14 Apr 2021 09:46 PM (IST)
HIGHLIGHTS Bihar Coronavirus News : बिहार में 23 हजार पार गया कोरोना संक्रमण, 24 घंटे में मिले 4786 नए मामले

पटना, ऑनलाइन डेस्‍क। HIGHLIGHTS Bihar Coronavirus News : बिहार में कोरोनावायरस संक्रमण की स्थिति लगातार चिंताजनक होती जा रही है। हालांकि, सरकार तमाम एहतियाती उपाय कर रही है। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए सख्‍ती भी की जा रही है। इसके बावजूद संक्रमण का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। हालत यह है कि बुधवार को रिकार्ड 4786 नए मामले मिले हैं। इसके साथ राज्‍य में सक्रिय मामलों की संख्‍या 23724 हो गई है। बिहार में सर्वाधिक 8466 सक्रिय मरीज पटना में हैं। इसकी एक वजह इसका राजधानी होना है। साथ ही पटना में ही दूसरे राज्‍यों से बिहार आने वाले यात्रियों की भी जांच हो रही है।

कोरोना की तेज रफ्तार के कारण राज्‍य के अस्‍पतालों में बेड फुल हो गए हैं। हालात लगातार खराब होती जा रही है। अस्‍पतालों में बेड फुल होने की स्थिति को देखते हुए 15 अप्रैल से पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (IGIMS) की आइसीयू में 50 बेड पर इलाज की व्‍यवस्‍था की जा रही है। इसके अलावा सरकार ने बिहटा के अस्‍पताल को चालू कराने के लिए सेना से 50 डॉक्‍टर भी मांगे हैं। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग सभी अस्‍पतालों में कोरोना मरीजों के लिए बेड बढ़ाने में जुटा है। बिहार सरकार ने निजी अस्‍पतालों में भी कोरोना के इलाज के लिए दर निर्धारित कर दी है। हालांकि, यह दर आम आदमी के लिए काफी अधिक है। इस बीच अच्‍छी खबर यह है कि राज्‍य को कोरोना वैक्‍सीन की पांच लाख डोज मिल चुकी है।

HIGHLIGHTS Bihar Coronavirus Update News

09:30 PM-  स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के ताजा आंकड़ों के अनुसार आज राज्‍य में 132426 लोगों को कोरोनावायरस से बचाव की वैक्‍सीन की डोज दी गई। इसके साथ कुल वैक्‍सीनेशन 5464210 हो गया है। आज 110248 लोगों को वैक्‍सीन की पहली डोज तो 22178 को दूसरी डोज दी गई।

09:15 PM-  स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के ताजा आंकड़ों के अनुसार आज एक लाख से अधिक सैंपल (100134) जांच की गई। आज कुल 4786 नए पॉजिटिव मामले मिले। इसके साथ कुल सक्रिय केस 23724 हो गए हैं। राज्‍य में कोरोनावायरस संक्रमण से रिकवरी दर 90.40 फीसद हो गई है। कुल सक्रिय मामलों की बात करें तो 8466 मरीजों के साथ पटना टॉप पर है। गया में 1958, भागलपुर में 1518 तथा मुजफ्फरपुर में 1350 सक्रिय केस हैं।

09:00 PM- पटना में पूर्व मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी के सरकारी आवास पर कोरोनावायरस की जांच की गई। राबड़ी देवी व तेजस्वी यादव के सुरक्षाकर्मियों की जांच की गई। उनकी रिपोर्ट क्‍या आई, यह अभी तक पता नहीं चल सका है।

08:40 PM- राज्य के मुख्यसचिव अरुण कुमार भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। दो दिनों पूर्व ही मुख्य सचिव ने शंका होने पर कोविड टेस्ट कराया था। जिसमें उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। रिपोर्ट मिलने के बाद मुख्य सचिव होम आइसोलेशन में हैं। इसके पूर्व गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद, वित्त विभाग के प्रधान सचिव एस सिद्धार्थ भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं।

08:30 PM- कोरोना संक्रमण से नालंदा में जनता दल यूनाइटेड नेता की मौत हो गई है। उनकी मौत पटना में इलाज के दौरान हो गई। वे नालंदा के हरनौत प्रखंड के नेहुसा गांव के रहने वाले थे। 

08:00 PM- कोरोनासंक्रमण पर नियंत्रण पाने के लिए राज्यपाल फागू चौहान की अध्यक्षता में 17 अप्रैल को सर्वदलीय बैठक होने जा रही है। इसमें कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव व इलाज के उपायों पर सभी दलों के नेता विमर्श करेंगे।

07:35 PM - कोराेनावायरस संक्रमण पर नियंत्रण के लिए बिहार सस्कार ने सेना से मदद मांगी है। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने कहा कि उन्‍होंने सेना से 50 डॉक्टर देने की मांग की है, ताकि बिहटा अस्पताल चालू किया जा सके।

06:00 PM- कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए गया जिला प्रशासन ने कोविड-19 टोल फ्री सेवा शुरू की है। फोन नंबर 18003456613 पर कोई भी व्यक्ति कॉल कर अपनी समस्या बता कर डॉक्‍टरी सेवा का लाभ ले सकता है।

05:39 PM- नेपाल सीमावर्ती सुपौल में 60 वर्षीय एक वृद्ध की मौत हो गई। जिले में आज कोरोना के 43 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। वहां फिलहाल 147 कोरोना मरीजों का इलाज चल रहा है।

05:10 PM- सीआइडी इंस्पेक्टर राकेश कुमार की कोरोना से मौत हो गई है। कोरोना की चपेट में बिहार के समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी भी आ गए हैं।

04:40 PM- बुधवार को अभी तक पटना में चार कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है। पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (PMCH) में आरा निवासी 45 साल की महिला, मुंगेर निवासी 56 साल की महिला तथा पटना के कदमकुआं की रहने वाली 70 साल की वृद्धा शामिल हैं। गया में भी दो लोगों की मौत हुई, जिनमें एक जहानाबाद का तो दूसरा गया जिले का रहने वाला था।

04:10 PM- संक्रमण की रफ्तार तेज हुई है तो रिकवरी रेट में गिरावट आई है। सात दिनों के दौरान यह गिरावट 4.74 फीसद रही है। सात अप्रैल को बिहार में रिकवरी रेट 97.24 फीसद थी, जो वर्तमान में 92.50 फीसद है। इसका बड़ा कारण सक्रिय मामलों का बढ़ना है।

03:40 PM- बिहार में बीते सात दिनों की बात करें तो सात से 13 अप्रैल तक 54 लोगों की मौत कोरोना से हो गई। ऐसे लोगों में ऑक्सीजन लेवल तेजी से गिरा। संक्रमितों की हालत दूसरे या तीसरे दिन से गंभीर होने लगी। कोरोनावायरस संक्रमण का यह नया ट्रेंड खतरनाक दिख रहा है।

03:10 PM- कोरोना संक्रमित पूर्व मध्य रेल, हाजीपुर के वरिष्ठ लेखा परीक्षक राजेश सिन्हा तथा पूर्व मध्य रेल, समस्तीपुर के वरिष्ठ मंडल लेखा परीक्षा दीपक कुमार की हालत नाजुक बनी हुई है। पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (PMCH) के प्रिंसिपल विद्यापति चौधरी के कोरोना संक्रमित होने के कारण हड़कंप मच गया है। सोमवार को स्वास्थ्य सचिव प्रत्यय अमृत समेत कई बड़े अधिकारी उनके संपर्क में आए थे।

02:37 PM- बिहार में 13 दिनों के अंदर 20 हजार से अधिक संक्रमित मिल चुके हैं। इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने प्रतिदिन एक लाख से अधिक कोरोनावायरस टेस्‍ट कराने की योजना बनाई है। संभावना है अगले सप्ताह से रोजाना डेढ़ लाख से ज्यादा टेस्ट होने लगेंगे।

02:00 PM- पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में अब कोरोना संक्रमितों का इलाज 15 अप्रैल से शुरू किया जाएगा। इसके लिए वहां आइसीयू में 50 बेड तैयार किए जा रहे हैं। अस्‍पताल के अधीक्षक मनीष मंडल ने इसकी जानकारी दी।

01:30 PM- पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय के निरीक्षण के दौरान एक कोराना संक्रमित की एंबुलेंस में ही मौत पर तेज प्रताप यादव ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। ट्वीट कर कहा है कि 'अमंगल बाबू' निर्लज्जता की हद कर गए। उन्‍होंने लिखा है कि संघ द्वारा संचालित ‘बड़का झूठा पार्टी’ से सेवाभाव की उम्मीद तो पहले ही नहीं है, कम से कम मानव धर्म का तो गला नहीं घोंटते।

01:05 PM- बक्सर नगर में चलाए गए रोको- टोको अभियान के तहत अनुमंडल पदाधिकारी कृष्ण कुमार उपाध्याय के नेतृत्व में पुलिस बलों के द्वारा नगर के विभिन्न स्थानों की जांच की गई। रामरेखा घाट मीना बाजार में दुकानों का संचालन कर रहे दो दुकानदारों के द्वारा मास्क नहीं पहनने के कारण उनकी दुकान को 24 घंटे के लिए सील कर दिया गया।

12:40 PM- बिहार के वरिष्‍ठ आइएएस अधिकारी चैतन्‍य प्रसाद के कोरोना से संक्रमित होने की खबर मिल रही है। उन्‍हें पटना एम्‍स में भर्ती कराया गया है। इनके अलावा कुछ और आइएएस अधिकारियों के संक्रमित होने की चर्चा है।

12:05 PM - बिहार में रोजाना मिल रहे नए संक्रमितों में एक तिहाई या इससे अधिक अकेले पटना जिले के रहते हैं। मंगलवार को पटना जिले में 1200 से अधिक संक्रमित पाए गए। यहां एक दिन में 1400 मरीज तक मिल चुके हैं। इसके पीछे एक वजह यह भी है कि पटना में ही दूसरे राज्‍यों से बिहार आने वाले यात्रियों की भी जांच हो रही है।

11:40 AM - बिहार में कोरोना संक्रमण का शिकार होने वाले आधे से अधिक मरीज 25 से 50 साल के बीच के हैं। 15 साल से कम उम्र के बच्‍चों में पिछली बार संक्रमण की दर एक फीसद है, लेकिन इस बार इस आयु वर्ग के 10 फीसद मरीज मिल रहे हैं। इसको देखते हुए डॉक्‍टर सभी लोगों को पर्याप्‍त एह‍तियात बरतने को कह रहे हैं।

11:15 AM - आंकड़ों के मुताबिक महाराष्‍ट्र से पलायन कर लौटने वाले प्रवासी भी कोरोना संक्रमण का नया स्‍ट्रेन लेकर लौट रहे हैं। रेलवे स्‍टेशनों और एयरपोर्ट पर जांच की व्‍यवस्‍था की गई है। इसके नतीजे बता रहे हैं कि हवाई मार्ग से लौटने वालों की तुलना में रेलवे यात्रियों में संक्रमण की दर अधिक है।

10:45 AM - बिहार में कोरोना संक्रमण के सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 20 हजार के पार हो गई है। सबसे अधिक परेशानी हर रोज तीन हजार से अधिक नए मरीज मिलने के कारण हो रही है। सरकार की ओर से बंदिशें बढ़ाने के बाद भी लोग सजग नहीं हो रहे हैं। ऐसी स्थिति में सरकार सख्‍त फैसला ले सकती है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा भी था कि स्थिति नहीं संभलने पर सरकार नाइट कर्फ्यू या अन्‍य उपायों के बारे में सोच सकती है। महाराष्‍ट्र सरकार ने ऐसा किया भी है।

10:15 AM - कोरोना संक्रमण के कारण अब तक बिहार विधान परिषद के दो कर्मियों की मौत हो गई है। मंगलवार को एक आइएएस अधिकारी और एक डॉक्‍टर की जान कोरोना संक्रमण के कारण चली गई। डॉक्‍टरों का कहना है कि कोरोना इस बार कहीं अधिक खतरनाक साबित हो रहा है।

09:59 AM - बिहार में संक्रमित मरीजों की तादाद बढ़ने की एक वजह जांच की संख्‍या बढ़ाना भी है। मंगलवार को 93 हजार से अधिक लोगों की जांच की गई। इसमें 4.44 फीसद लोक कोरोना से संक्रमित पाए गए। सोमवार को 80 हजार जबकि रविवार को 99 हजार लोगों की जांच की गई थी।

09:35 AM - बिहार में मंगलवार को 4157 नए संक्रमित मिले थे। यह एक दिन में मिले संक्रमितों का अब तक का सबसे अधिक आंकड़ा है। कोरोना की पहली लहर में बिहार में 10 अगस्त को अधिकतम 4071 केस एक दिन में मिले थे। इस बार संक्रमण की रफ्तार पिछली बार से कई गुना अधिक है।

09:15 AM - बिहार सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के मुताबिक पटना के पीएमसीएच और एम्‍स के अलावा आइजीआइएमएस में 15 अप्रैल से 50 आइसीयू सुविधायुक्त बेड बढ़ेंगे। एनएमसीएच में 40 बेड बढ़ाए जाएंगे। इस अस्पताल में  154 बेड उपलब्ध होंगे। 

08:55 AM - स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच, भागलपुर के जेएलएनएमसीएच में तत्काल डेढ़ सौ बेड बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। प्रत्यय अमृत के मुताबिक पटना के पीएमसीएच में अभी 80 बेड कोरोना संक्रमितों के लिए रिजर्व हैं। यहां तत्काल 40 बेड और बढ़ाए जाएंगे। पटना एम्स में भी 30 बेड बढ़ाए जा रहे हैं।

08:25 AM - स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार केंद्र ने बिहार को फिलहाल कोवैक्सीन की दो लाख और कोविशील्ड की तीन लाख डोज दी है। अब एनएमसीएच स्थित राज्य टीका औषधि भंडार से यह टीके जिलों की मांग के अनुरूप उन्हें भेजे जाएंगे। बता दें कि इसके पूर्व बिहार को टीके की नौ लाख डोज मिली थी। केंद्र से इसके अलावा 15 लाख डोज की मांग की गई है।

07:55 AM - कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच पटना के बांस घाट पर शव जलाने के लिए लोगों को बारी का इंतजार करना पड़ रहा है। एक अपडेट के मुताबिक मंगलवार को यहां बीते 42 घंटे में 43 से अधिक शवों का अंतिम संस्‍कार किया गया है।हर घंटे यहां एक शव का अंतिम संस्‍कार किया जा रहा है। यह संख्‍या सामान्‍य से अधिक है।

07:35 AM - केंद्र सरकार के निर्देश पर बिहार को टीके की पांच लाख डोज मिली है। मंगलवार की शाम टीके की खेप पटना एयरपोर्ट पहुंची। जहां से उसे टीका औषधि केंद्र भेजा गया। इस नई खेप से पहले करीब आठ लाख

बिहार में  संक्रमण की स्थिति चिंताजनक

बिहार में कोरोनावायरस संक्रमण की चिंताजनक स्थिति यह है कि आठ दिनों के अंदर 19252 नए मरीज मिले हैं। सर्वाधिक मरीज पटना में हैं, लेकिन गया, भागलपुर, मुजफ्फरपुर व जहानाबाद में अधिक सक्रिय मामले हैं। मौत का आंकड़ा भी लगातार बढ़ता जा रहा है। सबसे चिंताजनक बात तो रिकवरी दर का घटना है। फिलहाल यह 90.40 फीसद है।

पटना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!