This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Bihar Politics: तेजस्वी की महमदपुर यात्रा पर जदयू ने उठाए सवाल, कहा -लालू राज में 118 नरसंहार हुए

जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह व विधान पार्षद नीरज ने संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी को निशाने पर लिया । जदयू ने तेजस्वी यादव की मधुबनी के महमदपुर की यात्रा पर कई सवाल उठाए हैं। पूछा है पीडि़तों से मिलने गए थे कि फूल-माला पहनने?

Sumita JaiswalThu, 08 Apr 2021 10:14 PM (IST)
Bihar Politics: तेजस्वी की महमदपुर यात्रा पर जदयू ने उठाए सवाल, कहा -लालू राज में 118 नरसंहार हुए

पटना, राज्य ब्यूरो। जदयू ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की मधुबनी के महमदपुर की यात्रा पर कई सवाल उठाए हैैं। जदयू विधान पार्षद व पार्टी के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह तथा नीरज कुमार ने पार्टी प्रदेश कार्यालय में गुरुवार को एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि तेजस्वी यादव महमदपुर राजनीतिक यात्रा पर गए थे। पीडि़तों के प्रति संवेदना व्यक्त करना उनका मकसद नहीं था। वहां राजद के कार्यकर्ताओं ने उनका फूल-माला से स्वागत किया। तेजस्वी यादव ने माला भी पहना।

लालू राज में 118 नरसंहार

संजय सिंह ने कहा कि महमदपुर कांड के बारे में अगर नेता प्रतिपक्ष उनसे बहस करेंगे तो फंस जाएंगे। बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में कानून का राज है। लालू राज में 118 नरसंहार हुए। आरोप लगाने वाले पुराने इतिहास को याद कर लें।

तेजस्‍वी को बताया ट्वीटर बबुआ

जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि सरकार ने महमदपुर घटना के बाद वहां के एसएचओ को निलंबित कर दिया। वहां डॉक्टर और पुलिस की व्यवस्था की गयी है। महमदपुर से लौटने के बाद मैंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भेंट कर वहां की पूरी स्थिति से उन्हें अवगत कराया। मुख्यमंत्री ने दो घंटे तक इस घटना के एक-एक पहलुओं के बारे में बात की। वहीं नेता प्रतिपक्ष यह कह रहे कि सरकार ने हमसे डरकर इस तरह की व्यवस्थाएं की। ट्वीटर बबुआ दरअसल सिर्फ फोटो खिंचवाते हैं और चले आते हैं।

पूर्व मंत्री व जदयू विधान पार्षद नीरज कुमार ने कहा कि महमदपुर में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की स्थिति यह थी कि वहां माला पहनकर वह अपने कार्यकर्ताओं से अपना स्वागत करवा रहे थे। हमारे लिए तो कानून का राज संस्कार है। पर नेता प्रतिपक्ष वहां किस तरह का संस्कार दिखा रहे थे। हम वोट बैैंक की राजनीति नहीं करते पर विपक्ष इस तरह की घटनाओं को राजनीतिक चश्मे से देखता है जो दुखद है।

पटना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!