रेलवे के महाप्रबंधक बोले, संक्रमण के बावजूद पूमरे ने की रिकार्ड ढुलाई, पिछले वर्ष से 45 फीसद अधिक

पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक अनुपम शर्मा ने बताया है कि चालू वित्तीय वर्ष के प्रथम नौ महीनों संक्रमण के बावजूद पूमरे ने रिकार्ड ढुलाई की है। इससे रेल को कुल 16 हजार 110 करोड़ रुपये की प्रारंभिक आय प्राप्त हुई है।

Vyas ChandraPublish: Sat, 29 Jan 2022 11:54 AM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 11:54 AM (IST)
रेलवे के महाप्रबंधक बोले, संक्रमण के बावजूद पूमरे ने की रिकार्ड ढुलाई, पिछले वर्ष से 45 फीसद अधिक

पटना, जागरण संवाददाता।  पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक अनुपम शर्मा ने बताया है कि चालू वित्तीय वर्ष के प्रथम नौ महीनों संक्रमण के बावजूद पूमरे ने रिकार्ड ढुलाई की है। इससे रेल को कुल 16 हजार 110 करोड़ रुपये की प्रारंभिक आय प्राप्त हुई है। यह पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में 45.15 प्रतिशत अधिक है। दिसंबर माह तक 119.42 मिलियन टन माल ढुलाई की गई है जो पिछले वित्तीय वर्ष की समान अवधि की तुलना में 19.95 प्रतिशत अधिक है। स्क्रैप बिक्री के क्षेत्र में 2021-22 में 240 करोड़ लक्ष्य के विरूद्ध दिसंबर माह तक184 करोड़ की आय प्राप्त हो चुकी है।

सभी मंडल चिकित्‍सालयों में आक्‍सीजन प्‍लांट 

महाप्रबंधक ने बताया कि कोविड-19 (ओमिक्रॉन) की जांच के लिए केन्द्रीय चिकित्सालय में लैब स्थापित की जा रही है। सभी मंडल चिकित्सालयों में पीएसए आक्सीजन प्लांट स्थापित किया जा चुका है।  सवारी डिब्बा मरम्मत कारखाना हरनौत द्वारा वर्ष 2021 में 668 कोचों का पीओएच किया गया है, जो लक्ष्य से 26 प्रतिशत अधिक है ।अबतक 42 किमी दोहरीकरण, 20 किमी आमान परिवर्तन तथा 09 किमी नई लाईन का निर्माण कार्य पूरा करते हुए कुल 71 किमी लाईन परिचालन हेतु खोला जा चुका है। धनबाद से डीडीयू जंक्शन रूट पर ट्रेन की गतिसीमा 160 किमी प्रति घंटा करने के लिए कार्य प्रगति पर है।

पाटलिपुत्र-पहलेजा दोहरीकृत रेलखंड पर परिचालन शीघ्र

महाप्रबंधक ने बताया कि शीघ्र ही पाटलिपुत्र-पहलेजाघाट दोहरीकृत रेलखंड पर गाड़‍ियों का परिचालन प्रारंभ हो जाएगा। डीडीयू जंक्शन से सोननगर तक डेडिकेटड फ्रेट कॉरिडॉर का निर्माण लगभग पूर्ण हो चुका है। अब तक 04 जोड़ी नई ट्रेनों का परिचालन प्रारंभ किया गया, 02 जोड़ी ट्रेनों का परिचालन विस्तार किया गया, 03 जोड़ी ट्रेनों में 12 कोच का स्थायी संयोजन किया गया, विभिन्न ट्रेनों में 357 कोच का अस्थायी संयोजन किया गया। गया स्टेशन पर एक लिफ्ट एवं दरभंगा स्टेशन पर एक एस्केलेटर, 18 स्टेशनों पर एफओबी, 13 प्लेटफार्मों का उच्चीकरण या विस्तारीकरण किया गया है। 17 स्टेशनों पर वाईफाई, 09 स्टेशनों पर ट्रेन इंडिकेशन बोर्ड, 05 स्टेशनों पर कोच इंडिकेशन बोर्ड एवं 17 स्टेशनों पर उद्घोषणा प्रणाली लगाए गए हैं।

Edited By Vyas Chandra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept