नालंदा के बाद अब छपरा में छह की संदिग्‍ध मौत- परिवार ने बताया- शराब पी थी; डीएम बोले- ठंड से मरे

Chhpara Hooch Deaths नालंदा के अब छपरा में शराब कांड की आशंका है। दो दिनों में छह लोगों की संदिग्‍ध मौत हुई है। जबकि कई बीमार हैं। एक मृतक रामनाथ के स्वजन ने शराब पीने से मौत की बात कही है। हालांकि जिलाधिकारी ने इनकार किया है।

Shubh Narayan PathakPublish: Thu, 20 Jan 2022 10:28 AM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 02:18 PM (IST)
नालंदा के बाद अब छपरा में छह की संदिग्‍ध मौत- परिवार ने बताया- शराब पी थी; डीएम बोले- ठंड से मरे

मकेर (सारण), संवाद सूत्र। बिहार में जहरीली शराब से मौत का सिलसिला थमता नहीं दिख रहा है। अभी नालंदा में जहरीली शराब से 12 लोगों की मौत का मामला शांत नहीं हुआ है कि छपरा यानी सारण जिले में छह लोगों की संदिग्‍ध हालात में मौत हो गई है। सारण जिले के मकेर थाना क्षेत्र में बुधवार तक छह लोगों की संदेहास्पद ढंग से मौत का मामला गरम हो गया है। मृत एक व्यक्ति के स्वजन जहां शराब पीने से मौत का दावा कर रहे हैं, वहीं पुलिस व प्रशासन शराब से मौत की बात को ही नकार रहा है। उसके शव के पोस्टमार्टम का हवाला देकर पुलिस पल्ला झाड़ ले रही है। जबकि दरौली के विधायक भी पीडि़तों का हाल जानने पहुंचे हैं। उन्होंने उच्चस्तरीय जांच की मांग की है।

डीएम ने कहा - शराब के कारण नहीं, ठंड से हुई मौत

जिलाधिकारी राजेश मीणा के अनुसार महिला द्वारा जब पति की मौत शराब पीने से बताई गई तो तत्काल रामनाथ महतो के शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। पोस्टमार्टम में शराब पीने की बात सामने नहीं आई है। उसमें ठंड के कारण हार्ट अटैक से मौत की बात बताई गई है। कुछ लोगों द्वारा ग्रामीणों को गुमराह कर भ्रामक बातें फैलाई जा रही हैं।

मंगलवार से ही मर रहे इन गांवों के लोग

बताया जाता है कि मंगलवार से शुरू हुआ मौत का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार को जहां अमनौर थाना के 45 वर्षीय कृष्णा महतो एवं 55 वर्षीय रामनाथ महतो के अलावा सिवान के 40 वर्षीय अनिल मिस्त्री की मौत हो गई थी। वहीं बुधवार को मकेर थाना क्षेत्र के नवकाढ़ा गांव के रघु राय के 40 वर्षीय पुत्र भरत राय, कैतुका नंदन गांव के बुटाई राय के 70 वर्षीय पुत्र बृज बिहारी राय के साथ अमनौर थाना के बसंतपुर गांव के 45 वर्षीय मो. ईसा की मौत हो गई।

इन लोगों का अस्‍पताल में हो रहा इलाज

परमानन्द छपरा गांव के मलिक महतो के 45 वर्षीय पुत्र पलटन महतो, तारा अमनौर गांव के केदार बैठा के 22 वर्षीय पुत्र संजय बैठा एवं इसी गांव के मुंद्रिका बैठा के 24 वर्षीय पुत्र सूरज बैठा अस्पताल में इलाज करार रहे हैं। स्वजनों के अनुसार इनकी आंखों की रोशनी भी चली गई है। सबसे खराब स्थिति सूरज बैठा की बताई गई है। उसका इलाज छपरा के निजी अस्पताल में चल रहा था। वहां स्थिति बिगडऩे के बाद उसे लेकर स्वजन पटना गए हैं। वहां निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं  मुजफ्फरपुर के मंसूरपुर में पलटन महतो व संजय बैठा का इलाज चल रहा है।

देसी शराब पीने से भाई की मौत का दावा

नरसिंहभानपुर गांव के मृत युवक रामनाथ राय के भाई सकलदीप राय एवं पत्नी लालती देवी ने कहा कि बाजार के पास नहरिया पर उनकी मौत देसी शराब पीने से हुई है। सोमवार की शाम वे शराब पीकर घर आए थे। पेट एवं सिर में दर्द की बात कह रहे थे। रात्रि में उनकी मौत हो गई। ग्रामीणों के कहने पर अमनौर पुलिस ने शव को छपरा भेजा। वहां पोस्टमार्टम कराया गया। रामनाथ राज मिस्त्री थे। अन्य मृतकों कृष्णा महतो, अनिल मिस्त्री, भरत राय, बृज बिहारी राय एवं ईसा का आनन फानन दाह संस्कार करा दिया गया। बृजबिहारी के पुत्र ने स्वभाविक मौत की बात कही है। वहीं कृष्णा महतो के पुत्र ने ठंड से, भरत राय के परिजनों ने बीमारी से और मोहम्मद ईसा के पुत्र ने ठंड से मौत की बात कही है।

थानेदार ने शराब को कारण मानने से किया इनकार

थानाध्याक्ष राजेश प्रसाद ने बताया कि मकेर थाना क्षेत्र में शराब पीने से किसी की मौत नहीं हुई है। अमनौर थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति की मौत के बाद शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट होगा कि मौत शराब से है या ठंड से। पुलिस लगातार छानबीन कर रही है। बीडीओ राजेश प्रसाद का कहना है कि शराब से किसी की मौत की जानकारी नहीं है।

Edited By Shubh Narayan Pathak

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept