पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी पर शाहनवाज का पलटवार, मुसलमानों के लिए भारत, हिंदू और मोदी ही बेहतर

इंडियन अमेरिकन मुस्लिम काउंसिल की ओर से आयोजित एक वर्चुअल कार्यक्रम में पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने हिंदू राष्‍ट्रवाद के उभार को लेकर चिंता जताई थी। पूर्व उपराष्ट्रपति के बयान पर बिहार सरकार में मंत्री व बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने पलटवार किया है।

Akshay PandeyPublish: Thu, 27 Jan 2022 04:54 PM (IST)Updated: Thu, 27 Jan 2022 04:54 PM (IST)
पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी पर शाहनवाज का पलटवार, मुसलमानों के लिए भारत, हिंदू और मोदी ही बेहतर

जागरण टीम, पटना। गणतंत्र दिवस पर एक कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल होकर भारत के लिए अपने विचार रखकर पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी विवादों में आ गए हैं। इंडियन अमेरिकन मुस्लिम काउंसिल की ओर से आयोजित एक वर्चुअल कार्यक्रम में उन्‍होंने हिंदू राष्‍ट्रवाद के उभार को लेकर चिंता जताई थी। उन्होंने भारत के लोकतंत्र की आलोचना करते हुए कहा था कि देश अपने संवैधानिक मूल्यों से दूर होता जा रहा है। अब पूर्व उपराष्ट्रपति के बयान पर बिहार सरकार में मंत्री व बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने पलटवार किया है। शाहनवाज ने गुरुवार को पटना में मीडिया से बात करते हुए कहा कि देश हामिद अंसारी के बयान को पूरी तरह नकारता है। मुसलमानों के लिए भारत से अच्छा देश, हिंदू से अच्छा दोस्त और नरेन्द्र मोदी से अच्छा प्रधानमंत्री नहीं मिल सकता। 

पूरी दुनिया में हो रही आज भारत की प्रशंसा 

शाहनवाज हुसैन ने कहा कि पूरी दुनिया में आज भारत की प्रशंसा हो रही है। इतने बड़े देश में न दंगा और न फसाद। भारत संविधान से चल रहा है। देश के पूर्व उपराष्ट्रपित हामिद अंसारी ने इन सारी बातों की कदर नहीं की। शाहनवाज ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का जिक्र करते हुए उस दौरान दिए गए अंसारी के बयान को भी दुर्भाग्यपूर्ण बताया। शाहनवाज हुसैन ने कहा कि हामिद अंसारी को तो वंदेमातरम कहने पर भी आपत्ति है।

सभी नागरिक अपने को सुरक्षित महसूस करते हैं

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता ने अंसारी से पूछा है कि जिस देश ने आपको उपराष्ट्रपति बनाकर नंबर दो की कुर्सी दी उसके लिए आपके ऐसे विचार क्यों हैं? शाहनवाज ने कहा कि जिस कार्यक्रम में अंसारी शामिल हुए थे उसका काम ही जहर फैलाना है। भारत को बदनाम करने के लिए यह संस्था पैसे खर्च करती है। भारत के सभी नागरिक अपने आप को सुरक्षित महसूस करते हैं। अंसारी के बयान कहीं से जायज नहीं है।  

Edited By Akshay Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept